Bajrang Dal

वर्ष 1820 में बनी शिव-काली की पेंटिंग छापने को लेकर ‘द वीक’ के ख़िलाफ़ एफ़आईआर

अंग्रेज़ी पत्रिका ‘द वीक’ ने अपने ताज़ा अंक में प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार बिबेक देबरॉय का एक लेख छापा था. इसके साथ लगी भगवान शिव और मां काली की तस्वीर को आपत्तिजनक बताते हुए कानपुर में एक भाजपा नेता ने पत्रिका के ख़िलाफ़ धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में मामला दर्ज करा दिया है. देबरॉय ने पत्रिका से स्तंभकार के रूप में नाता तोड़ लिया है.

कर्नाटक: बजरंग दल ने मंगलुरु के पब में चल रही कॉलेज पार्टी रोकी, पुलिस का इनकार

सोशल मीडिया पर सामने आए एक वीडियो में हिंदुत्ववादी संगठन के सदस्य पार्टी करने वाले छात्रों को गालियां देते हुए दिख रहे हैं. पार्टी में बाधा डालने के पीछे बजरंग दल का तर्क था कि इससे ‘भारतीय संस्कृति का उल्लंघन’ हो रहा था. उधर, पुलिस का कहना है कि पब पर हमला नहीं हुआ, बजरंग दल कार्यकर्ता केवल यह पूछताछ करने गए थे कि नाबालिगों को शराब तो नहीं परोसी जा रही है.

कर्नाटकः हिंदुत्ववादी समूह के सदस्यों द्वारा हमले के बाद मुस्लिम युवक की मौत, आठ गिरफ़्तार

कर्नाटक के मंगलरु में 19 जुलाई को कथित तौर पर विश्व हिंदू परिषद-बजरंग दल के कुछ सदस्यों ने एक मुस्लिम युवक पर हमला कर दिया था. हिंदुत्ववादी समूह के एक सदस्य को मुस्लिम युवक द्वारा गाय पालने से आपत्ति थी. हमले के बाद युवक को घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दो दिन बाद दम तोड़ दिया.

बजरंग दल ने गुजरात कांग्रेस कार्यालय का नाम बदल ‘हज हाउस’ रखने के पोस्टर भवन पर चिपकाए

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश ठाकोर के अल्पसंख्यकों के बारे में हालिया बयान के ख़िलाफ़ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए यह कार्रवाई की. ठाकोर ने कथित तौर पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के विचारों का समर्थन किया था कि देश के संसाधनों पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का होना चाहिए और कहा था कि कांग्रेस इस विचारधारा से पीछे नहीं हटेगी.

मध्य प्रदेश: उदयपुर हत्याकांड के विरोध में मुस्लिमों के ख़िलाफ़ हिंसा का आह्वान किया गया

उदयपुर हत्याकांड के विरोध में मध्य प्रदेश के विभिन्न ज़िलों में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल समेत अन्य दक्षिणपंथी समूहों ने प्रदर्शन किए, जिनमें मुसलमानों के ख़िलाफ़ न सिर्फ भड़काऊ नारे लगाए गए बल्कि उनके ख़िलाफ़ हिंसा का भी आह्वान किया गया.

कर्नाटक: मुस्लिम किरदार और अंतर धार्मिक एंगल होने से बजरंग दल ने नाटक का मंचन रुकवाया

घटना कर्नाटक के शिवमोगा ज़िले की है. एक थियेटर ग्रुप जाने-माने लेखक और गीतकार जयंत कैकिनी के एक नाटक का मंचन कर रहा था. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने नाटक में कुछ ​मुस्लिम किरदार और लव जिहाद का एंगल होने का आरोप लगाते हुए स्टेज पर चढ़कर नारेबाज़ी और हंगामा किया. उनका कहना था कि यह समाज में ग़लत संदेश भेजेगा.

​हरियाणा में हुई पंचायत में मुस्लिम दुकानदारों के आर्थिक बहिष्कार का आह्वान किया गया

हरियाणा के मानेसर में हुई इस पंचायत में बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों सहित 200 से अधिक लोगों ने भाग लिया. इन लोगों ने आरोप लगाया कि इलाके में मुसलमानों द्वारा संचालित जूस की कई दुकानों और सैलून के नाम साज़िश के तहत ‘हिंदू नाम और हिंदू देवताओं के नाम’ पर रखे गए ​है. उनकी दुकानें व्यापार या रोज़गार के लिए नहीं, जिहाद का हिस्सा हैं.

गुड़गांव में पैगंबर मोहम्मद के बारे में आपत्तिजनक नारे लगाए गए

वीडियो: पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के बाद देश में उपजा विवाद अब तक शांत नहीं हुआ है. बीते दिन हरियाणा के गुड़गांव शहर में बजरंग दल, विहिप और आरएसएस के सदस्यों ने मुसलमानों को परेशान करने की कोशिश में पैगंबर विरोधी नारे लगाए.

उदयपुर हत्या: हरियाणा में रैली के दौरान ‘भड़काऊ’ नारे लगे, बजरंग दल-विहिप सदस्यों पर केस दर्ज

राजस्थान के उदयपुर में एक दर्ज़ी की हत्या के विरोध में हरियाणा के गुड़गांव शहर में बीते 29 जून को बजरंग दल एव विश्व हिंदू परिषद की ओर से एक रैली का आयोजन किया गया था. आरोप है कि इस दौरान मुस्लिम समुदाय के ख़िलाफ़ भड़काऊ नारे लगाए गए. सोशल मीडिया पर इसका वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया है.

कर्नाटक: हिंदू देवी-देवताओं के ख़िलाफ़ टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता के घर पर हमला

कर्नाटक में कांग्रेस आईटी सेल की सचिव वी. शैलजा अमरनाथ पर हिंदू देवी-देवताओं के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप है. इसे लेकर दक्षिण कन्नड़ जिले के पुत्तूर में अज्ञात उपद्रवियों ने उनके घर पर हमला किया है. इस संबंध में केस दर्ज किया गया है. पुलिस ने शैलजा के ख़िलाफ़ भी उनकी टिप्पणी को लेकर मामला दर्ज किया है.

झारखंड: रांची में ‘जय श्री राम’ का नारा लगाती भीड़ ने दो मुस्लिम युवकों को बुरी तरह से पीटा

बीते 10 जून की रात आठ बजे ज़ीशान और फ़ैज़ान झारखंड की राजधानी रांची के सुजाता चौक के पास पिज़्ज़ा लेने गए थे. आरोप है कि उसी समय करीब 30-40 हथियारबंद लोग ‘जय श्री राम’ का नारा लगाते हुए आए और उन्हें घेरकर पीटना शुरू कर दिया. इसी दिन पैगंबर मोहम्मद के ख़िलाफ़ निलंबित भाजपा नेताओं की टिप्पणी को लेकर ​हुए विरोध प्रदर्शन के हिंसक हो जाने के बाद दो अन्य मुस्लिम युवकों की मौत हो गई थी.

कर्नाटक: मस्जिद में पूजा करने की हिंदुत्ववादी समूहों की धमकी के बाद धारा 144 लगाई गई

कर्नाटक के मांड्या ज़िले में स्थित श्रीरंगपट्टनम क़िले के अंदर जामिया मस्जिद में हिंदुत्ववादी समूहों ने 4 जून को पूजा करने की धमकी दी है, जिसके चलते क्षेत्र में 3 जून की शाम से 5 जून तक धारा 144 लगा दी गई है. हिंदुत्ववादी समूहों ने दावा किया है कि मस्जिद का निर्माण हनुमान मंदिर को ध्वस्त करने के बाद किया गया था.

हिंदू महापंचायत में हरियाणा सरकार को एक महीने में गो-तस्करी और गोवध समाप्त करने का अल्टीमेटम

हरियाणा के नूंह ज़िले में ‘हिंदू महापंचायत’ का आयोजन किया गया था, जिसमें गोरक्षकों के ख़िलाफ़ दर्ज एफ़आईआर को वापस लेने और उन्हें शस्त्र लाइसेंस देने समेत कई मांग की गई. यह महापंचायत नूंह में उन घटनाओं के बीच बुलाई गई थी, जिसमें कथित तौर पर गोरक्षकों के समूहों ने मुस्लिम युवकों को पीटने के साथ उनका अपहरण कर उन पर मवेशियों की तस्करी और वध करने का आरोप लगाया गया था.

मध्य प्रदेश: गोहत्या के शक में दो आदिवासियों की पीट-पीटकर हत्या, नौ लोग गिरफ़्तार

सिवनी जिले के कुरई थाना क्षेत्र का मामला है. गोहत्या के संदेह में 15-20 लोगों के एक समूह द्वारा कथित तौर पर हमला किए जाने से दो आदिवासियों की मौत हो गई. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि हमलावर बजरंग दल के हैं. पुलिस ने बताया​ कि एक दक्षिणपंथी संगठन के लगभग 20 सदस्यों के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया गया है.

नोएडा: बलात्कार के आरोपी को छुड़ाने गए विहिप सदस्यों से हाथापाई में पांच पुलिसकर्मी घायल

उत्तर प्रदेश की नोएडा सेक्टर-39 पुलिस ने बताया कि बीते 28 अप्रैल को विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों का एक समूह एक व्यक्ति को रिहा कराने के लिए थाने आया था, जिस पर बलात्कार का आरोप है. इसी बात को लेकर विवाद शुरू हुआ, जो यह मारपीट में बदल गया. आरोपियों ने पुलिसकर्मियों की वर्दी तक फाड़ दी थी. कुछ लोगों को गिरफ़्तार किया गया था, जिन्हें बाद में ज़मानत मिल गई.