mob lynching

मेघालय: जेल से भागे चार क़ैदियों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या की

वेस्ट जयंतिया हिल्स ज़िले में शनिवार को छह कीद्वारा पहचाने जाने के बाद एक भीड़ ने कथित रूप से पीट-पीटकर इनमें से चार की हत्या कर दी. इस बीच ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में जोवाई जेल के पांच कर्मचारियों को गिरफ़्तार किया गया है.

पश्चिम बंगाल: मवेशी चोरी को लेकर बांग्लादेशी नागरिक की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या की

पश्चिम बंगाल में जलपाईगुड़ी ज़िले के एक सीमावर्ती गांव का मामला. मृतक की पहचान मोहम्मद सलमान के रूप में हुई, जो उत्तरी बांग्लादेश के रंगपुर मंडल के पंचगढ़ ज़िले के निवासी थे. घटना के सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

राजस्थान: लिंचिंग पर भाजपा के पूर्व विधायक बोले- ‘पांच को तो हमने मारा है’, केस दर्ज

राजस्थान की अलवर पुलिस के अनुसार, भाजपा के पूर्व विधायक ज्ञानदेव आहूजा के ज़िले के गोविंदगढ़ में चिरंजीलाल सैनी के परिवार से मिलने के बाद वायरल हुए वीडियो के आधार पर यह केस दर्ज किया गया है. सैनी को कथित तौर पर मेव मुस्लिम समुदाय लोगों ने ट्रैक्टर चोरी के शक में पीटा था, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी.

मध्य प्रदेश: गो तस्करी के शक़ में मुस्लिम व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, दो घायल

महाराष्ट्र के अमरावती के रहने वाले नज़ीर अहमद अपने दो साथियों के साथ मध्य प्रदेश के होशंगाबाद ज़िले से कथित तौर पर ट्रक में 28 गाय ले जा रहे थे, जब रास्ते में उन पर गोरक्षकों के एक दल ने हमला किया. सिर में चोट लगने से नज़ीर की मौत हो गई. हमले में घायल उनके साथियों का कहना है कि वे अमरावती के पशु मेले में बेचने के लिए गाय ले जा रहे थे.

New Delhi: A view of the Supreme Court of India in New Delhi, Monday, Nov 12, 2018. (PTI Photo/ Manvender Vashist) (PTI11_12_2018_000066B)

अदालत ने केंद्र और राज्यों से कहा- हेट स्पीच पर अंकुश लगाने के लिए उठाए गए क़दम स्पष्ट करें

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्रीय गृह सचिव से भीड़ हिंसा और नफ़रत भरे भाषण जैसी अप्रिय स्थितियों को रोकने के लिए निवारक, सुधारात्मक और उपचारात्मक उपायों के संबंध में उसके पूर्व के दिशानिर्देशों के अनुपालन को लेकर राज्य सरकारों और केंद्रशासित प्रदेशों से सूचना एकत्रित कर कोर्ट को इसकी जानकारी देने को कहा है.

दिल्ली: 62 वर्षीय पुजारी की पीट-पीटकर हत्या

घटना उत्तरी दिल्ली के सोनिया विहार क्षेत्र की है. पुलिस ने बताया कि आरोपी के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है. एक अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपी का मानसिक स्वास्थ्य ठीक नहीं है और वह पुजारी को पहले से जानता था.

उत्तराखंड: वकीलों ने सीएम धामी को लिखा- हेट स्पीच और हिंसा के प्रयासों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करें

देश के कुछ वकीलों और क़ानूनी पेशेवरों ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखकर कहा है कि राज्य में नफ़रत और हिंसा को बढ़ावा देने वालों के ख़िलाफ़ प्रदेश सरकार का रुख़ नरम है और अल्पसंख्यकों को लेकर उसका रवैया पक्षपातपूर्ण है.

भीड़ हिंसा: सुरक्षा न मिल पाने के कारण मोहम्मद अख़लाक़ की बेटी की अदालत में गवाही टली

उत्तर प्रदेश में गौतम बौद्ध नगर ज़िले के दादरी क्षेत्र के बिसाहड़ा गांव निवासी 52 वर्षीय मोहम्मद अख़लाक़ की 28 सितंबर 2015 को भीड़ द्वारा गोकशी का आरोप लगाकर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. इस घटना में उनके बेटे भी गंभीर रूप से घायल हो गए थे. अख़लाक़ की बेटी शाइस्ता मामले में चश्मदीद गवाह हैं.

झारखंड: डायन होने के आरोप में अधेड़ महिला की पीट-पीटकर हत्या

घटना लोहरदगा के सेरेंगदाग थाना क्षेत्र के गणेशपुर गांव की है, जहां कुछ ग्रामीणों की मृत्यु के बाद स्थानीय लोगों ने एक 55 वर्षीय महिला पर ‘जादू-टोना’ करने का आरोप लगाया. पुलिस के अनुसार, ग्रामीणों ने एक बैठक कर महिला को मौत की सज़ा सुनाई और पीटा. महिला को घायलावस्था में ज़हर खिलाकर फिर पीटा गया और दम तोड़ने के बाद शव को बोरे में डालकर पास के जलप्रपात में फेंक दिया. 

मध्य प्रदेश: गोहत्या के शक में दो आदिवासियों की पीट-पीटकर हत्या, नौ लोग गिरफ़्तार

सिवनी जिले के कुरई थाना क्षेत्र का मामला है. गोहत्या के संदेह में 15-20 लोगों के एक समूह द्वारा कथित तौर पर हमला किए जाने से दो आदिवासियों की मौत हो गई. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि हमलावर बजरंग दल के हैं. पुलिस ने बताया​ कि एक दक्षिणपंथी संगठन के लगभग 20 सदस्यों के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया गया है.

दिल्लीः गोहत्या के संदेह में शख़्स की पीट-पीटकर हत्या, दो घायल

यह घटना द्वारका के छावला क्षेत्र में 11 अप्रैल की है. गोहत्या के शक में खुद को ‘गौरक्षक’ बताने वाले 10-15 अज्ञात लोगों का एक समूह फार्महाउस एक पहुंचा और वहां मौजूद लोगों पर हमला कर दिया. गोहत्या के आरोप में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि हमला करने और हत्या के मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

सरकार मॉब लिंचिंग का आंकड़ा क्यों सामने नहीं लाना चाहती?

वीडियो: बीते दिनों संसद में केंद्र सरकार ने कहा कि उनके पास अलग से मॉब लिंचिंग का कोई आंकड़ा नहीं है. इस मुद्दे पर विशेषज्ञों से बातचीत कि सरकार को क्यों मॉब लिंचिंग के आंकड़े अन्य अपराधों से अलग सामने रखना चाहिए.

दिल्ली: पादरी को पीटने और ‘जय श्रीराम’ के नारे लगवाने के मामले में केस दर्ज

घटना 25 फरवरी को दक्षिण दिल्ली के फतेहपुरी बेरी इलाके में हुई थी. आरोप है कि 35 वर्षीय पादरी पर जबरन धर्मांतरण कराने का आरोप लगाते हुए भीड़ ने पीटा और ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने के लिए मजबूर किया. पिछले 18 साल से दक्षिण दिल्ली के असोला इलाके में रह रहे 35 वर्षीय पादरी ने बताया कि 15 साल पहले भी उन्हें एक समूह ने संजय कॉलोनी इलाके में निशाना बनाया था.

2012-2019 के बीच उत्तर प्रदेश में आवारा पशुओं की संख्या में क़रीब 2 लाख की वृद्धि: केंद्र सरकार

एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय लोकसभा में बताया कि उत्तर प्रदेश में आवारा पशुओं की संख्या 2012 में 10,09,436 थी, जो 2019 में बढ़कर 11,84,494 हो गई. राज्य के चित्रकूट ज़िले में इनकी संख्या सबसे अधिक है. इसके बाद क्रमश: महोबा, गोंडा, हरदोई और बांदा का नंबर आता है.

मुंबई: भीड़ ने चोरी के संदेह में कथित तौर पर ऑटो चालक को पीट-पीटकर मार डाला

दस दिन पहले उत्तरी मुंबई के मलाड में भीड़ ने शाहरुख शेख़ नामक व्यक्ति को चोर होने की आशंका में कथित तौर पर इतना पीटा था कि उनकी मौत हो गई. मृतक के परिजनों ने विरोध प्रदर्शन कर घटना में शामिल लोगों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने की मांग की. पुलिस ने मृतक ​के ख़िलाफ़ चोरी का भी मामला दर्ज किया है.