भारत

अभिनेत्री शौक़त कैफ़ी का निधन

वरिष्ठ कलाकार और थिएटर हस्ती शौक़त कैफ़ी 93 साल की थीं और लंबे समय से आयु संबंधी बीमारियों से जूझ रही थीं.

kaifi-Shaukat-kaifi azmi dot com

कैफ़ी आज़मी के शौकत कैफ़ी (फोटो साभार: कैफ़ी आज़मी डॉट कॉम)

मुंबई: वरिष्ठ अभिनेत्री और शबाना आजमी की मां शौकत कैफी का शुक्रवार शाम यहां आयु संबंधी बीमारी के चलते निधन हो गया. वह 93 वर्ष की थीं.

शौकत के दामाद तथा मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने उनके निधन की जानकारी दी.

अख्तर ने बताया, ‘वह 93 वर्ष की थीं और कई स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से गुजर रही थीं. उन्हें कोकिलाबेन धीरुभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया. कुछ दिनों के लिये उन्हें आईसीयू में भी रखा गया था.’

अमेरिका यात्रा पर गए अख्तर ने कहा, ‘अंत में उन्हें घर लाया गया. वह अपने कमरे में रहना चाहती थीं, वह एक-दो दिन उसी में रुकी और फिर उनका निधन हो गया. शबाना मुंबई में हैं.’

शौकत के पति कैफी आजमी मशहूर शायर और गीतकार थे. वह और उनके पति भाकपा के सांस्कृतिक मंचों, इंडियन पीपुल्स थियेटर एसोसिएशन (इप्टा) और ‘प्रोग्रेसिव राइटर्स एसोसिएशन’ के जाने-माने नाम थे.

जावेद अख्तर ने कहा कि शौकत आज़ादी के बाद देश के सबसे बड़े प्रगतिशील समूह का हिस्सा थीं, और अब उनके जाने के बाद यह अध्याय ही बंद हो गया.

उन्होंने आगे कहा, ‘पचास और साठ के दशक में बॉम्बे के प्रगतिशील लोगों का बड़ा समूह हुआ करता था. इसमें इस्मत चुगताई, विश्वामित्र आदिल और अन्य लोग शामिल थे. इनमें से कई शायर, थिएटर हस्तियां और लेखक शामिल थे. शौकत कैफ़ी थिएटर की महत्वपूर्ण अदाकारा थीं.’

शबाना आजमी के अलावा शौकत कैफी का एक बेटा बाबा आजमी हैं. शौकत आजमी के नाम से भी जानी जाने वाली कैफी ने ‘बाजार’, ‘उमराव जान’ और मीरा नायर की ऑस्कर नामित फिल्म ‘सलाम बॉम्बे!’ में अभिनय किया था. आखिरी बार वे निर्देशक शाद अली की फिल्म ‘साथिया’ में नज़र आई थीं.

साल 2002 में कैफी आजमी के निधन के बाद उन्होंने ‘कैफी और मैं’ नाम से आत्मकथा लिखी थी, जिसका 2006 में मुंबई में कैफी आज़मी की चौथी बरसी पर इसी नाम के नाटक के रूप में पहली बार मंचन हुआ था. इस नाटक को शबाना आज़मी और जावेद अख्तर ने प्रस्तुत किया था.

अख्तर के अनुसार यह किताब उनकी ज़िंदगी को बखूबी दिखाती है.उन्होंने कहा, ‘उन्होंने अपनी जिंदगी के बारे में किताब लिखी थी और यह बेस्टसेलर हुई. किताब पढ़ने पर आपको उन लोगों की जिंदगियों, अपने आर्दशों और मकसद के लिए उनके संघर्ष के बारे में पता चलेगा.’

शौकत कैफ़ी के निधन पर फिल्म और थिएटर हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है. फिल्म अभिनेत्री मिर्जा ने शौकत के निधन पर कहा कि उनके कला में योगदान को हमेशा याद किया जाएगा.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)