भारत

दिल्लीः विवादित ट्वीट को लेकर भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज

दिल्ली के मॉडल टाउन विधानसभा से भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने आठ फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव को भारत बनाम पाकिस्तान मुकाबले जैसा बताकर ट्वीट किया था. ट्विटर ने चुनाव आयोग के निर्देश के बाद यह विवादित ट्वीट हटा दिया है.

कपिल मिश्रा. (फोटो: पीटीआई)

कपिल मिश्रा. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस ने विवादित ट्वीट के मामले में भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा के खिलाफ शुक्रवार को एक एफआईआर दर्ज की.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, चुनाव आयोग के अधिकारियों के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.

कपिल मिश्रा ने कहा था कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने शाहीन बाग में मिनी पाकिस्तान बना दिया है और आठ फरवरी को होने जा रहा आगामी विधानसभा चुनाव भारत और पाकिस्तान के बीच होगा.

डीसीपी (उत्तर-पश्चिम) विजयंत आर्य ने कहा, ‘मॉडल टाउन के रिटर्निंग ऑफिसर की शिकायत पर भाजपा उम्मीदावर कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. जन प्रतिनिधित्व कानून की धारा 125 के तहत 24 जनवरी को मॉडल टाउन थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई और जांच जारी है.’

इससे पहले कपिल मिश्रा के विवादित ट्वीट को ट्विटर से हटाने के चुनाव आयोग के आग्रह के बाद इस ट्वीट को हटा दिया गया.

मिश्रा ने 23 जनवरी को यह विवादित ट्वीट किया था.  मिश्रा ने कहा था कि दिल्ली में आठ फरवरी का चुनाव भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबले की तरह होगा.

निर्वाचन आयोग (ईसी) के अधिकारियों ने कहा कि मिश्रा के विवादित ट्वीट को हटाने के संबंध में दिल्ली मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) द्वारा चुनाव आयोग को पत्र लिखने के बाद आयोग की यह कार्रवाई हुई है.

दिल्ली के सीईओ रणबीर सिंह ने कहा था, ‘हमने ट्वीट का संज्ञान लिया है और इसे हटाने के लिए पिछली रात ईसी को पत्र लिखा. ट्वीट आदर्श आचार संहिता और जनप्रतिनिधित्व कानून का उल्लंघन है, इसलिए हमने कार्रवाई की है.’

उन्होंने कहा, ‘हमने कपिल मिश्रा को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है.’

उन्होंने बताया कि दिल्ली सीईओ कार्यालय ने कपिल मिश्रा को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है.

इस नोटिस पर प्रतिक्रिया देते हुए कपिल मिश्रा ने कहा कि उनके बयान को जानबूझकर तरोड़-मरोड़कर पेश किया गया है ताकि मतभेद पैदाकर एकतरफा तस्वीर पेश की जा सके.

उन्होंने कहा, ‘मेरे बयान को पाकिस्तान के उस प्रयास के संदर्भ में लिया जाना चाहिए, जिसमें पाकिस्तान दिल्ली में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति का अनुचित लाभ लेने की कोशिश कर रहा है. शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी न ही मेरे विधानसभा क्षेत्र में हैं और न ही मेरे बयान से मेरे मतदाताओं पर इसका प्रभाव पड़ेगा.’

बता दें कि मॉडल टाउन सीट से उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने गुरुवार को सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा था कि आठ फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा.  इसके बाद एक और ट्वीट में उन्होंने शाहीनबाग में नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को लेकर ‘मिनी पाकिस्तान’ का जिक्र किया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)