भारत

कोरोना वायरस: दिल्ली में स्कूल, कॉलेज, सिनेमाघर 31 मार्च तक बंद

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 73 हुई. राष्ट्रपति भवन शुक्रवार से आम जनता के लिए बंद. ख़तरे की वजह से अमेरिकी रक्षा मंत्री का भारत दौरा रद्द.

Jammu: Security personnel wear masks to mitigate the spread of coronavirus, outside a movie theatre in Jammu, Wednesday, March 11, 2020. (PTI Photo)(PTI11-03-2020_000216B)

कोरोना वायरस के ख़तरे के मद्देनज़र नई दिल्ली के सिनेमाघरों को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में स्कूलों, कॉलेजों और सिनेमाघरों को एहतियाती तौर पर 31 मार्च तक बंद रखने की गुरुवार को घोषणा की. केवल वे स्कूल और कॉलेज खुले रहेंगे जहां अभी परीक्षाएं जारी हैं.

सरकार ने सरकारी, निजी कार्यालयों, शॉपिंग मॉलों सहित सभी सार्वजनिक स्थानों को संक्रमण मुक्त बनाना अनिवार्य कर दिया गया है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपराज्यपाल अनिल बैजल और शीर्ष सरकारी अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक के बाद यह फैसला किया गया.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बैठक के बाद पत्रकारों से कहा कि दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डीयूएसआईबी) के फ्लैटों और निर्माणाधीन अस्पतालों में दिल्ली सरकार पृथक रखे जाने की सुविधाओं का इंतजाम कर रही है.

उन्होंने कहा ‘सभी सिनेमाघर 31 मार्च तक बंद रहेंगे. जहां परीक्षाएं जारी हैं उनके अलावा सभी स्कूल और कॉलेज भी कोरोना वायरस के मद्देनजर 31 मार्च तक बंद रहेंगे. सरकार ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है.’

उन्होंने जरूरत पड़ने पर कोरोना वायरस के मरीजों को भर्ती करने के लिए अस्पतालों में 500 से अधिक बिस्तरों की सुविधा होने की जानकारी देते हुए सरकार के कोविड-19 (कोरोना वायरस) से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार होने की बात कही.

केजरीवाल ने बताया कि बैठक में कोरोना वायरस से निपटने के लिए अभी तक उठाए कदमों की समीक्षा की गई.

उन्होंने कहा, ‘हम हर कदम कोरोना वायरस से निपटने के लिए उठा रहे हैं. मैं उम्मीद करता हूं कि इससे हमें मदद मिलेगी. विश्वभर में तेजी से कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं जबकि भारत में हम अभी तक इसे नियंत्रित करने में कामयाब रहे हैं. अगर हम सावधान रहें तो हम कोरोना वायरस से अपने देश को बचा सकते हैं.’

उप राज्यपाल अनिल बैजल ने बैठक के बाद ट्वीट किया, ‘दिल्ली में माननीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, माननीय स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, सीएस, दिल्ली और अन्य अधिकारियों के साथ कोविड-19 को नियंत्रित करने की तैयारियों की समीक्षा की. इसके फैलने की आशंका को कम करने के लिए सभी स्कूलों, कॉलेजों, सिनेमाघरों को बंद करने का निर्णय लिया गया.’

दिल्ली में कोरोना वायरस का छठा मामला सामने आया

दिल्ली में कोरोना वायरस से पीड़ित 46 वर्षीय एक व्यक्ति की मां में भी इस वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. राष्ट्रीय राजधानी में इस वायरस से संक्रमण का यह छठा मामला है.

अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि 69 वर्षीय महिला आरएमएल अस्पताल में भर्ती हैं. उनका बेटा जापान, जिनेवा और इटली की यात्रा पर गया था. वे पश्चिम दिल्ली के जनकपुरी के रहने वाले हैं.

परिवार के अन्य आठ सदस्यों में वायरस के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं.

भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 73 हुई: स्वास्थ्य मंत्रालय

भारत में कोरोना वायरस के 13 नए मामले सामने आने के बाद इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 73 हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. 13 नए मामलों में से नौ मामले महाराष्ट्र से जबकि एक-एक मामला दिल्ली, लद्दाख और उत्तर प्रदेश से सामने आया है. वहीं एक विदेशी नागरिक भी इससे संक्रमित पाया गया है.

मंत्रालय ने राज्यवार आंकड़े बताते हुए कहा कि दिल्ली में बृहस्पतिवार तक कोरोना वायरस के छह मामले सामने आ चुके हैं, जबकि उत्तर प्रदेश में 10 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं. कर्नाटक में चार, महाराष्ट्र में 11 और लद्दाख में तीन मामले सामने आ चुके हैं.

मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर और पंजाब में एक-एक मामला सामने आया है. केरल में अब तक कोरोना वायरस के 17 मामले सामने आ चुके हैं जिनमें वे तीन लोग भी शामिल हैं जिन्हें पिछले महीने इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई थी.

मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित 73 लोगों में 17 विदेशी नागरिक हैं. इनमें 16 इतालवी हैं.

New Delhi: A visitor wears a mask to mitigate the spread of coronavirus, at Red Fort in New Delhi, Thursday, March 12, 2020. (PTI Photo/Arun Sharma)(PTI12-03-2020_000125B)

दिल्ली स्थित लाल किला के पास मास्क लगाए एक पर्यटक. (फोटो: पीटीआई)

दुनियाभर में फैल रहे कोरोना वायरस के मद्देजनर कैबिनेट सचिव ने कहा है कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को महामारी रोग अधिनियम, 1897 की धारा दो के प्रावधानों को लागू करना चाहिए ताकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और राज्य सरकारों द्वारा जारी सभी परामर्श लागू हो सकें.

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा था कि भारतीय डॉक्टरों की एक टीम गुरुवार को इटली के लिए रवाना होगी और वहां फंसे भारतीय छात्रों के लार के नमूने लेकर आएगी ताकि देश वापस लाने से पहले उनकी जांच की जा सके.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि ईरान में कोविड-19 फैलने की सूचना मिलने के बाद भारत सरकार ने अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए कदम उठाए हैं.

मंत्रालय के अनुसार ईरान में मौजूद भारतीय नागरिकों में तीर्थयात्री, छात्र और मछुआरे शामिल हैं.

कोरोना वायरस से लोगों को डरने की जरूरत नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

देश में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामले के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को लोगों से नहीं घबराने की अपील की और कहा कि उसका ध्यान इसकी रोकथाम और नियंत्रण पर है और देशभर में कोविड-19 यानी कोरोना वायरस की जांच की पर्याप्त सुविधा उपलब्ध है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को महामारी घोषित किए जाने के मद्देनजर, मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस को अलग करना मुश्किल है; टीके को विकसित करने में कम से कम डेढ़ से दो साल लगेंगे.

मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारत डब्ल्यूएचओ के साथ मिलकर प्रयास कर रहा है. हमारा ध्यान इसकी रोकथाम पर केंद्रित है.

अधिकारियों ने बताया कि भारत में नामित 30 हवाई अड्डों पर अब तक 10.5 लाख लोगों की जांच की जा चुकी है.

जब उनसे पूछ गया कि क्या उच्च तापमान से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है, तो इसपर अधिकारियों ने कहा कि यद्यपि फ्लू गर्मियों में सामान्य बात नहीं है, लेकिन इसको लेकर कोई अध्ययन या सबूत नहीं है कि उच्च तापमान कोरोना वायरस को खत्म करने में मददगार हो सकता है.

उन्होंने यह भी कहा कि आईसीएमआर यह जांचने के लिए निगरानी शुरू करेगा कि क्या कोई संक्रमित व्यक्ति बिना जांच के तो नहीं रह गया है.

राष्ट्रपति भवन शुक्रवार से आम जनता के लिए बंद

कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के मद्देनजर राष्ट्रपति भवन को एहतियाती तौर पर शुक्रवार से आम जनता के लिए बंद किया जा रहा है. आधिकारिक प्रवक्ता की ओर से जारी बयान के अनुसार राष्ट्रपति भवन अगले आदेश तक शुक्रवार से आम जनता के लिए बंद रहेगा.

प्रवक्ता ने कहा, ‘इसके अलावा, राष्ट्रपति भवन संग्रहालय (आरबीएमसी) और ‘चेंज ऑफ द गार्ड सेरेमनी’ भी शुक्रवार से अगले आदेश तक बंद रहेगी.’

Jammu: A doctor checks the temperature of a child passenger as part of precautionary measures against the new coronavirus, at a railway station in Jammu, Thursday, March 12, 2020. (PTI Photo) (PTI12-03-2020_000050B)

एक बच्ची की जांच करते डॉक्टर. (फोटो: पीटीआई)

कोरोना वायरस के खतरे की वजह से अमेरिकी रक्षा मंत्री का भारत दौरा स्थगित

कोरोना वायरस के खतरे के कारण अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर की 15-16 मार्च को होने वाली भारत यात्रा स्थगित कर दी गई है. रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

इस यात्रा के दौरान एस्पर अपने भारतीय समकक्ष राजनाथ सिंह से मिलने वाले थे.

मनोहर पर्रिकर रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान (आईडीएसए) द्वारा आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन को भी कोविड -19 खतरे के कारण स्थगित कर दिया गया है, जो गुरुवार से शुरू होना था.

रक्षा मंत्री और गृह मंत्री अमित शाह इस सम्मेलन में भाग लेने वाले थे, जिसमें एशिया में सुरक्षा मुद्दों को लेकर कई संगोष्ठियां भी होने वाली थी.

रक्षा मंत्रालय के थिंक टैंक ने प्रतिभागियों को भेजे एक ई-मेल में कहा, ‘कोविड-19 को लेकर उत्पन्न मौजूदा वैश्विक स्थिति के कारण 21 वें एशियाई सुरक्षा सम्मेलन (एएससी) को स्थगित करने का फैसला किया गया है. सम्मेलन के लिए नई तारीख की जानकारी उचित समय पर दे दी जाएगी.’

आईडीएसए द्वारा आयोजित होने वाले सम्मेलन में अमेरिका, रूस ऑस्ट्रेलिया, वियतनाम, स्वीडन, बेल्जियम, जापान और ब्रिटेन जैसे देशों के प्रतिभागी भाग लेने वाले थे.

इसके अलावा विशाखापत्तनम में 18 से 28 मार्च तक नौसेना द्वारा आयोजित होने वाला सबसे बड़े बहुपक्षीय अभ्यास ‘मिलन-2020’ को एहतियात के तौर पर अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है.

एक अन्य सैन्य अभ्यास भारत-मिस्र संयुक्त विशेष बल अभ्यास 2020 को भी टाल दिया गया है, जो 11 से 13 मार्च को जोधपुर में होने वाला था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)