दुनिया

कोरोना वायरस: भारत में 50 और विश्व में तकरीबन 47 हज़ार लोगों की मौत

इस महामारी से इटली में 13 हज़ार और स्पेन में नौ हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर तक़रीबन दो हज़ार हो गए हैं, जबकि विश्व में तक़रीबन 9.5 लाख लोग इसके संक्रमण से पीड़ित हैं.

A member of the armed forces disinfects the entrance of a hospital during the coronavirus disease (COVID-19) outbreak in Brasilia, Brazil, March 31, 2020. (Photo: Ueslei Marcelino/Reuters)

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली/जिनेवा/न्यूयॉर्क: देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के मामले बढ़कर गुरुवार को 1,965 हो गए और वहीं इससे अब तक 50 लोगों की जान जा चुकी है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना वायरस से अभी 1,764 लोग संक्रमित हैं. जबकि 150 लोग वे हैं, जिन्हें या तो इलाज के बाद छुट्टी मिल चुकी है या दूसरे देश जा चुके हैं.

मंत्रालय द्वारा गुरुवार सुबह जारी किए आकंड़ों के अनुसार, देश में कोरोना वायरस के नौ नए मामले सामने आए, जिनमें से चार महाराष्ट्र, तीन मध्य प्रदेश और आंध्र प्रदेश तथा पंजाब से एक-एक मामला आया.

आंकड़ों के अनुसार, देश में वायरस से अधिक महाराष्ट्र में 13 लोगों की जान गई. इसके बाद गुजरात में 6, मध्य प्रदेश में 6, पंजाब में 4, कर्नाटक में 3, तेलंगाना में 3, पश्चिम बंगाल में 3, दिल्ली में 2, जम्मू कश्मीर में 2, उत्तर प्रदेश में 2 और केरल में 2 मौतें हुई हैं, जबकि आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, बिहार, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश से एक-एक मौत होने की खबर है.

मंत्रालय के अनुसार, देश में सबसे अधिक मामले 335 महाराष्ट्र, फिर केरल में 265 और उसके बाद तमिलनाडु में 234 मामले हैं. दिल्ली में भी मामले बढ़कर 152 हो गए हैं.

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में 113, कर्नाटक में 110 और तेलंगाना में 96 मामले हैं. वहीं राजस्थान में 108, मध्य प्रदेश में 99, आंध्र प्रदेश में 86, गुजरात में 82 और जम्मू-कश्मीर में 62 लोग संक्रमित हैं.

पंजाब में कोरोना वायरस के 42 मामले सामने आए हैं, जबकि हरियाणा में 43 मामलों का पता चला है. पश्चिम बंगाल में मामलों की संख्या बढ़कर 37 हो गई है. बिहार में 23 जबकि चंडीगढ़ में 16 और लद्दाख में 13 मामले दर्ज किए गए हैं.

मंत्रालय के अनुसार, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह से 10 मामले सामने आए हैं. छत्तीसगढ़ में नौ मामले, जबकि उत्तराखंड में अब तक सात मामले सामने आए हैं. गोवा में कोरोना वायरस के पांच मामले सामने आए हैं.

इसके अलावा ओडिशा में चार मामले हैं, जबकि पुदुचेरी और हिमाचल प्रदेश में तीन-तीन मामले दर्ज किए गए हैं. असम, झारखंड, मिजोरम और मणिपुर में एक-एक मामला सामने आने की खबर है.

पूरी दुनिया में तकरीबन 47 हज़ार लोगों की मौत

वैश्विक स्तर पर इस महामारी के संकट की बात करें तो अब तक 9 लाख 37 हजार लोग इसके संक्रमण से पीड़ित हैं और तकरीबन 47 हजार लोग इसकी वजह से मारे जा चुके हैं.

ये आंकड़े अमेरिका की जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अध्ययन पर आधारित हैं.

यूनिवर्सिटी की ओर से दिए गए आंकड़ों के आधार पर सीएनएन ने बताया है कि कोरोना वायरस के कारण इस समय सबसे बुरी तरह से प्रभावित देश अमेरिका है.

अमेरिका में कोरोना वायरस के 216,500 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 5,100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. सिर्फ न्यूयॉर्क शहर में 1,300 लोगों की मौत हो चुकी है.

इस बीच स्पेन में एक लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए जा चुके हैं और बुधवार तक देश में मरने वालों को आंकड़ा नौ हजार के पार पहुंच गया था.

मालूम हो कि विश्व में इटली, ईरान, स्पेन और अमेरिका इस महामारी से सबसे बुरी तरह से प्रभावित देशों में से एक हैं.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को इटली की सिविल प्रोटेक्शन एजेंसी ने बताया कि बीते 24 घंटे में 727 लोगों की मौत के साथ देश में मरने वालों की कुल संख्या 13,155 हो गई है. यह एक दिन में 727 लोगों की मौत का यह आंकड़ा 26 मार्च के बाद सबसे कम है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

इसके अलावा इस महामारी के संक्रमण से पीड़ित लोगों की संख्या 4,782 मामलों की बढ़ोतरी के साथ 110,574 हो गई है. रिपोर्ट के अनुसार, इटली में 21 फरवरी को कोरोना वायरस का मामला सामने आया था.

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता किआनुश जहानपोर ने बीते बुधवार को बताया कि पिछले 24 घंटों में देश में 138 लोगों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई.

इसके साथ ही यहां मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,036 हो गई है. इसके अलावा संक्रमण के 2,987 मामलों की बढ़ोतरी के साथ देश में कुल मामलों की संख्या 47,593 हो गई है.

पिछले साल कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले चीन में सामने आने शुरू हुए थे. चीन के हुबेई प्रांत के वुहान शहर से यह वायरस फैला था.

सीएनएन हेल्थ के मुताबिक बुधवार तक चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 3,312 हो गई, जबकि इसके संक्रमण से 81,555 लोग पीड़ित थे.

एक हफ्ते में मौत के मामले दोगुने हुए: डब्ल्यूएचओ

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के वैश्विक स्तर पर फैलने और हाल में तेजी से बढ़े मामलों पर वह चिंतित है.

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेडरोस एडहानोम घेब्रेयासस ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘पिछले सप्ताह मृतकों की संख्या दोगुनी से ज्यादा हो गई… अगले कुछ दिनों में संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख और मृतकों की संख्या 50,000 हो सकती है.’

स्पेन में 9,000 से अधिक लोगों की मौत

मैड्रिड: स्पेन में कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में 864 लोगों की मौत होने से देश में इस महामारी से मरने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़ कर बुधवार को 9,000 पार कर गई. वहीं, एक लाख से अधिक लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. सरकार ने यह जानकारी दी है.

इटली के बाद विश्व में स्पेन में ही इस महामारी से सर्वाधिक मौतें हुई हैं. स्पेन में इस वायरस के संक्रमण से अब तक 9,053 मौतें हुई हैं जबकि संक्रमित लोगों की संख्या 1,02,136 पहुंच गई है.

हालांकि, रोजाना के आधार पर नए संक्रमण के घटने की प्रवृत्ति जारी है. इसमें महज 8.0 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जबकि मंगलवार को यह करीब 11 प्रतिशत था.

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से यह प्रदर्शित होता है. कोरोना पीड़ितों की मृत्यु दर में भी कमी आई है. एक हफ्ते पहले के 27 प्रतिशत से घटकर यह बुधवार को 10.5 प्रतिशत हो गई.

अधिकारियों ने बताया कि इस आंकड़े से यह प्रदर्शित होता है कि महामारी अपने चरम पर पहुंच रहा है. देश में मैड्रिड सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र है जहां 3,865 मौतें हुई हैं.

अमेरिका में कोरोना वायरस से छह सप्ताह की बच्ची की मौत

अमेरिका में कोरोना वायरस से छह सप्ताह की बच्ची की मौत हो गई है. इस जानलेवा संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों में उसकी उम्र सबसे कम थी.

हार्टफोर्ड कूरैंट अखबार ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि नवजात को जब अस्पताल लाया गया था तो उसमें कोई हरकत नहीं हो रही थी और उसे फिर बचाया नहीं जा सका. पोस्टमार्टम से बच्ची के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई.

कनेक्टिकट राज्य के गवर्नर नेड लैमंट ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी देते हुए कहा, ‘कनेक्टिकट में कोरोना वायरस से मरने वाली संभवत: कम उम्र की बच्ची है. बच्ची की उम्र सात माह से भी कम थी. और यह चेतावनी है कि इस विषाणु से कोई भी सुरक्षित नहीं है.’

उन्होंने कहा, ‘यह बहुत ही दुखदायी घटना है. हमारा मानना है कि यह कोविड-19 के कारण सबसे कम उम्र के बच्चे की मौत का मामला है.’

इससे पहले कनेक्टिकट में 35 वर्षीय शख्स की मौत हो गई थी जो कोविड-19 से यहां मरने वाला सबसे कम उम्र का व्यक्ति था. राज्य में इस विषाणु से 3,557 लोग संक्रमित पाए गए हैं और 85 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में अभी करीब 766 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं.

ब्रिटेन में कोरोना वायरस से एक दिन में 500 से अधिक की मौत

लंदन: ब्रिटेन में कोरोना वायरस से पहली बार एक दिन में 500 से अधिक लोगों की मौत हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक बुधवार को ब्रिटेन में संक्रमण से 563 लोगों की मौत हुई, जिसके साथ देश में कुल मौतों की संख्या 2,352 हो गई है.

मंत्रालय ने बताया कि देश में कुल 29,474 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और एक दिन में 4,324 मामले सामने आए हैं.

उल्लेखनीय है कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पिछले हफ्ते लॉकडाउन की घोषणा की गई थी और खुद कोरोना वायरस से संक्रमित प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने चेतावनी दी थी कि हालात सुधरने से पहले और खराब होंगे.

वायरस संक्रमण से ब्रिटेन का शाही परिवार भी प्रभावित हुआ है. प्रिंस चार्ल्स संक्रमण के हल्के लक्षण सामने बाद पृथक निवास से मंगलवार को वापस आए.

प्रिंस चार्ल्स ने बुधवार को वीडियो संदेश जारी कर राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा की प्रशंसा की और कहा कि हममें से कोई भी नहीं कह सकता कि यह कब खत्म होगा.

उन्होंने कहा, ‘जब तक यह जारी है हम सभी अपने स्तर से प्रयास करें और उम्मीद का साथ नहीं छोड़े, स्वयं और दूसरों में भरोसा रखें और बेहतर दिनों का इंतजार करें.’

बहरहाल, देशभर में कुछ अस्थायी अस्पताल बनाए गए हैं क्योंकि राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) वायरस के खिलाफ लड़ाई में बेड की क्षमता बढ़ाना चाहता है.

पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 2100 के पार

इस्लामाबाद: इस बीच पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बुधवार को 2112 पहुंच गई. राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय के मुताबिक पंजाब प्रांत से 748 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का पता चला है.

वहीं सिंध में 709, खैबर पख्तूनख्वा में 253, बलूचिस्तान में 158, गिलगित बाल्तिस्तान में 184, इस्लामाबाद में 54 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में छह मामले सामने आए हैं.

मंत्रालय ने बताया कि अब तक कोरोना वायरस से 26 लोगों की मौत हुई है जबकि 82 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. 10 लोगों की हालत नाजुक है.

प्रधानमंत्री इमरान खान कोरोना वायरस के चलते अर्थव्यवस्था के समक्ष उत्पन्न चुनौती से निपटने के लिए 1,200 अरब पाकिस्तानी रुपये के पैकेज की घोषणा कर चुके हैं.

A worker checks a man's temperature following an outbreak of the coronavirus disease (COVID-19), at a railway station in Peshawar, Pakistan. (Reuters Photo)

(फोटो: रॉयटर्स)

ऑस्ट्रेलिया में अब तक 4,860 लोग संक्रमित

मेलबर्न/सिडनी: ऑस्ट्रेलिया में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण से और एक व्यक्ति की मौत हो गई. देश में इस महामारी से अब तक 21 लोगों की मौत हुई है, जबकि 4,860 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

स्वास्थ्य अधिकारियों ने उक्त जानकारी देते हुए रेखांकित किया कि अब टीका ही इस संक्रमण से बचाव का एकमात्र साधन है.

संघीय सरकार की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, देश भर में अभी तक दो लाख 56 हजार नमूनों की जांच की गई है और उनमें से 4,860 के संक्रमित होने की पुष्टि हुई.

आंकड़ों के अनुसार, न्यू साउथ वेल्स में ही एक लाख से ज्यादा लोगों की जांच की गई है. पश्चिमी न्यू साउथ वेल्स के स्थानीय स्वास्थ्य जिला की ओर से जारी बयान के अनुसार, एक अप्रैल को एक व्यक्ति की न्यू साउथ वेल्स के ऑरेंज बेस अस्पताल में कोरोना वायरस से जुड़ी जटिलताओं के कारण मौत हो गई.

ऑस्ट्रेलिया के करीब 60 क्षेत्रीय समाचार पत्रों ने छपाई बंद की

रूपर्ट मुर्डोक के ऑस्ट्रेलियाई मीडिया समूह ‘न्यूज कॉर्प’ ने बुधवार को कहा कि वह करीब 60 क्षेत्रीय समाचारपत्रों की छपाई बंद कर रहा है, क्योंकि पहले से ही कठिन दौर से चल रहे समाचार पत्रों को कोविड-19 की वजह से हुई विज्ञापन की कमी ने बड़ा झटका दिया है.

समाचार कंपनी ने कहा कि न्यू साउथ वेल्स, विक्टोरिया, क्वीन्सलैंड और दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में वह छपाई बंद करके अब उन्हें ऑनलाइन करने जा रही है.

‘न्यूज कॉर्प ऑस्ट्रलेसिया’ के कार्यकारी अध्यक्ष माइकल मिलर के हवाले से समूह के ऑस्ट्रेलियाई अखबार ने कहा, ‘हमने इस फैसले को हल्के में नहीं लिया है.’

मिलर ने कहा कि कोरोना वायरस के संकट ने अप्रत्याशित आर्थिक दबाव डाला है और लोगों की नौकरियां बचाने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है.

बांग्लादेश में छह लोगों की मौत, संक्रमित लोगों की संख्या 54 हुई

ढाका: बांग्लादेश ने बुधवार को देश में कोरोना वायरस संक्रमण से एक और व्यक्ति के मरने की पुष्टि की है. देश में अभी तक वायरस संक्रमण से छह लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 54 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

देश के स्वास्थ्य अधिकारियों ने चिंता जतायी है कि संभवत: देश में सीमित क्षेत्र में समुदाय के स्तर पर संक्रमण फैलना शुरू हो गया है. बांग्लादेश ने पहले से जारी राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को नौ अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है, ताकि इस जानलेवा वायरस के प्रसार को रोका जा सके.

स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मलिक ने बुधवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में और तीन लोगों में संक्रमण होने की पुष्टि के साथ ही देश में अभी तक संक्रमित हुए कुल लोगों की संख्या 54 हो गई है.

उन्होंने बीडीन्यूज को बताया कि संक्रमित लोगों में से 26 संक्रमण मुक्त हो कर घर लौट चुके हैं.

श्रीलंका में एक दिन में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले आए

कोलंबो: श्रीलंका में बीते मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के सबसे ज्यादा 21 मामले सामने आए. इसके बाद देश में इस जानलेवा विषाणु से संक्रमितों की तादाद 143 पहुंच गई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि आने वाले दो हफ्ते काफी अहम रहने वाले हैं. इस द्वीपीय राष्ट्र में कोविड-19 से सिर्फ एक शख्स की रविवार को मौत हुई है. मृतक 65 वर्षीय मधुमेह का मरीज़ था.

अधिकारियों के अनुसार, वह देश में कोरोना वायरस के दूसरे संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया था, जो इतावली सैलानियों के संपर्क में आया था.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि श्रीलंका में मंगलवार को कोविड-19 के 21 और मरीज़ सामने आए, जो एक दिन में सामने आए अब तक के सबसे ज्यादा मामले हैं. इसके बाद देश में विषाणु से पीड़ित लोगों की तादाद 143 पहुंच गई है.

इसके अलावा राष्ट्रीय संक्रामक रोग संस्थान (आईडीएच) में 173 लोगों को निगरानी में रखा गया है. इस बीच देश में कर्फ्यू लागू है और विदेश से आने वाले लोगों पर रोक जारी है, जिसे बढ़ाकर सात अप्रैल तक कर दिया गया है.

पुलिस ने कहा कि कर्फ्यू तोड़ने पर सात हजार से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है. चिकित्सा अनुसंधान संस्थान के जयरुवन बंदारा ने कहा कि अगले दो हफ्ते अहम होंगे.

उन्होंने कहा कि श्रीलंका में मामले बढ़ने का वही तरीका है जो इटली, स्पेन और अमेरिका जैसे अन्य देशों में देखने को मिला है. इसलिए लोगों का घरों में रहना ही इस बीमारी को फैलने से रोकने का एकमात्र तरीका है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)