भारत

ओडिशा के बाद पंजाब ने लॉकडाउन एक मई तक बढ़ाया

पंजाब में कोरोना वायरस के मामले 132 तक पहुंच गए हैं और इस महामारी से अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है.

Kolkata: A family looks from the window of a house during the nationwide lockdown imposed to contain the coronavirus pandemic, in Kolkata, Tuesday, March 31, 2020. (PTI Photo/Swapan Mahapatra) (PTI31-03-2020 000112B

(फोटो: पीटीआई)

चंडीगढ़: पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन (बंद) की अवधि को 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया. ओडिशा के बाद ऐसा करने वाला पंजाब दूसरा राज्य है.

लॉकडाउन बढ़ाने का निर्णय यहां पंजाब मंत्रिपरिषद की बैठक में लिया गया.

विशेष मुख्य सचिव के बीएस सिद्धू ने ट्वीट किया, ‘अमरिंदर सिंह (मुख्यमंत्री) की अगुवाई में मंत्रिमंडल ने पंजाब कर्फ्यू/लॉकडाउन को 30 अप्रैल 2020/एक मई, 2020 तक बढ़ाने को मंजूरी दी. आज से 21 दिन का विस्तार.’

पंजाब में पिछले कुछ दिनों में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं और यह 132 तक पहुंच गया. संक्रमितों में से 11 मरीजों की जान भी चली गई.

इससे पहले नई दिल्ली में कांग्रेस द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आयोजित संवाददाता सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री ने संकेत दिया था कि उनकी सरकार लॉकडाउन बढ़ाने पर गंभीरतापूर्वक विचार कर रही है, क्योंकि यह समय वर्तमान पाबंदियां हटाने के लिए सही नहीं है.

उन्होंने यह भी कहा था कि वह राज्य को पाबंदियों से बाहर निकालने और कोरोना वायरस के बीच काम कर पाने के के तौर तरीके भी तलाश रहे हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा था कि डॉक्टरों, मेडिकल एवं अन्य विशेषज्ञों की उच्चाधिकार प्राप्त एक समिति स्थिति का परीक्षण कर रही है और वह लॉकडाउन से बाहर निकलने की रणनीति पर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.

बीते नौ अप्रैल को ओडिशा सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य में लॉकडाउन (बंद) को इस महीने के आखिर तक बढ़ाने का फैसला किया था.

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा था कि स्कूल और अन्य शिक्षण संस्थान 17 जून तक बंद रहेंगे.

उन्होंने बताया था कि उन्होंने इस संबंध में केंद्र से 30 अप्रैल तक रेल और उड़ान सेवा रोकने का आग्रह किया है.

पंजाब के मोहाली में 10 नए मामले, कुल संख्या 32 हुई

पंजाब के मोहाली जिले के जवाहरपुर गांव में शुक्रवार को 10 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जिससे इलाके में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 32 हो गई.

अधिकारियों ने बताया कि मोहाली के डेरा बस्सी में स्थित यह गांव राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण का केंद्र (हॉटस्पॉट) बन गया है. बृहस्पतिवार तक मामलों की संख्या 22 थी.

एक अधिकारी ने बताया कि नए मामलों के साथ ही मोहाली में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 48 हो गई है. पंजाब में कोविड-19 के मामले इसी जिले में सर्वाधिक हैं.

मोहाली के उपायुक्त गिरिश डायलान ने कहा, ‘जवाहरपुर डेराबस्सी में दस और मामले आने के साथ गांव में 32 मामले हो गए है.’

डीसी ने ट्वीट कर बताया, ‘व्यापक जांच से हमें गांव में संक्रमित मामलों का पता लगाने में सहूलियत हुई और उन्हें समय रहते पृथक कर दिया गया. उम्मीद है कि 2500 की आबादी वाले गांव में और इसके बाहर संक्रमण फैलने से रोका जा सकेगा.’

जिला प्रशासन ने जवाहरपुर गांव के सभी प्रवेश बिंदुओं को पूरी तरह सील कर रखा है. अधिकारियों ने बताया कि गांव में कोरोना वायरस से संक्रमण का पहला मामला चार अप्रैल को सामने आया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)