भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की

नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण पूरी तरह नए रंग रूप वाला होगा, नए नियमों वाला होगा. राज्यों से मिले सुझावों के आधार पर इसकी जानकारी 18 मई तक दी जाएगी.

**EDS: VIDEO GRAB** New Delhi: Prime Minister Narendra Modi interacts with Sarpanches from across the country via video conferencing, amid ongoing nationwide COVID-19 lockdown, in New Delhi, Friday, April 24, 2020. (DD/PTI Photo) (PTI24-04-2020 000019B)

(फाइल फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संबोधन में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की है. मोदी के मुताबिक ये राशि देश की जीडीपी का 10 फीसदी है.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये पैकेज देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है. उन्होंने कहा कि इसमें आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए इस पैकेज में लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉ सभी पर बल दिया गया है.

मोदी ने कहा, ‘हाल में सरकार ने कोरोना संकट से जुड़ी जो आर्थिक घोषणाएं की थीं, जो रिजर्व बैंक के फैसले थे और आज जिस आर्थिक पैकेज का ऐलान हो रहा है उसे जोड़ दें तो ये करीब-करीब 20 लाख करोड़ रुपए का है. ये पैकेज भारत की जीडीपी का करीब-करीब 10 प्रतिशत है.’

हालांकि प्रधानमंत्री ने नहीं बताया कि ये 20 लाख करोड़ रुपये कहां खर्च होंगे. उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आने वाले दिनों में इस संबंध में जानकारी देंगी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये आर्थिक पैकेज कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, लघु-मंझोले उद्योग, एमएसएमई के लिए है जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है और जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार है.

मोदी ने कहा कि ये आर्थिक पैकेज देश के श्रमिक और किसानों के लिए है और मध्यम वर्ग के लिए भी है, जो ईमानदारी से टैक्स देता है और देश के विकास में अपना योगदान देता है.

नरेंद्र मोदी ने दावा किया कि जब कोरोना संकट शुरु हुआ था तब भारत में एक भी पीपीई (पीपीई) किट नहीं बनती थी. एन-95 मास्क का भारत में नाममात्र उत्पादन होता था. उन्होंने कहा, ‘आज स्थिति ये है कि भारत में ही हर रोज 2 लाख पीपीई और 2 लाख एन-95 मास्क बनाए जा रहे हैं.’

हालांकि प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन के संबंध स्पष्ट जानकारी नहीं दी. उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन का चौथा चरण- लॉकडाउन 4, पूरी तरह नए रंग रूप वाला होगा, नए नियमों वाला होगा. राज्यों से हमें जो सुझाव मिल रहे हैं, उनके आधार पर लॉकडाउन 4 से जुड़ी जानकारी भी आपको 18 मई से पहले दी जाएगी.’