भारत

हैदराबाद: जन्मदिन पार्टी देने वाले कारोबारी और इसमें शामिल एक अन्य की कोरोना संक्रमण से मौत

हैदराबाद में ज्वैलर्स एसोसिएशन के कम से कम 100 सदस्यों ने हाल ही में एक कारोबारी की जन्मदिन पार्टी में भाग लिया था. दो मौतों के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग करनी शुरू कर दी है.

Hyderabad: Police personnel instruct people to maintain social distancing as they wait for their turn to give swab samples for COVID-19 test, outside Sarojini Devi Eye Hospital in Hyderabad, Thursday, July 2, 2020. (PTI Photo)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

हैदराबाद: अपने जन्मदिन पर तकरीबन 100 लोगों को पार्टी देने वाले हैदराबाद के गहनों के एक बड़े व्यापारी की बीते शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मौत हो गई.

कारोबारी की कोरोना वायरस से मौत की सूचना मिलने के बाद पार्टी में शामिल होने वाले लोग परेशान हो गए और शहर के निजी लैबों में अपना टेस्ट कराने पहुंच गए थे.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पार्टी में शामिल होने वाले गहनों के एक अन्य व्यापारी की भी शनिवार चार जुलाई को ही कोरोना वायरस से मौत हो गई. अधिकारियों को संदेह है कि दूसरे व्यापारी को पार्टी देने वाले व्यापारी से संक्रमण मिला, जिसकी हैदराबाद के हिमायतनगर इलाके में गहनों की दुकान है.

ज्वैलर्स एसोसिएशन के कम से कम 100 सदस्यों ने हाल ही में पार्टी में भाग लिया था. पार्टी के दो दिन बाद ही आयोजनकर्ता में कोविड-19 के लक्षण दिखाई देने लगे, जिसके बाद उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया.

अब दो मौतों के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग करनी शुरू कर दी है.

इससे पहले बीते शनिवार को ही बेटा पैदा होने की खुशी में एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने करीब 12 लोगों को मिठाई बांटी थी लेकिन बाद में वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

जन स्वास्थ्य निदेशक जी. श्रीनिवास राव ने कहा, ‘तेजी से फैलने वाले इन मामलों के कारण हैदराबाद में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ गई है. दिखावा करने के चक्कर में कुछ लोग नियमों को मानने से इनकार कर रहे हैं.’

उन्होंने कहा, ‘जन्मदिन पार्टी, बच्चा पैदा होने पर पारिवारिक समारोह या विदेश से लौटने वालों के स्वागत में युवाओं का इकट्ठा होना कोरोना वायरस के फैलने के हॉट-स्पॉट साबित हो रहे हैं. ऐसे बड़े समारोहों में बिना लक्षण वाले लोगों के शामिल होने के कारण संक्रमण तेजी से फैल रहा है.’

तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री इतेला राजेंद्र ने कहा कि वह निराश हैं. उन्होंने कहा, ‘हैदराबाद में कोरोना वायरस के मामलों में भारी वृद्धि हुई है, क्योंकि लोग बुनियादी नियमों का पालन करने से इनकार कर रहे हैं.’

मंत्री ने कहा, ‘परिवार जन्मदिन की पार्टियों की मेजबानी कर रहे हैं, सगाई समारोह आयोजित कर रहे हैं या किसी के जन्म पर समारोह के लिए घरों में एक साथ इकट्ठे हो रहे हैं. उनमें से सिर्फ एक संक्रमित व्यक्ति अन्य लोगों में संक्रमण फैला सकता है और हैदराबाद में यही हो रहा है.’

इसके अलावा बीते चार जुलाई को ही ईथारम प्रोडक्शंस के तेलुगू फिल्म निर्माता पोकुरी रामा राव की कोविड-19 की मृत्यु हो गई. कुछ दिन पहले उनके कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आई थी और उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच शनिवार को तेलंगाना सरकार ने निजी लैबों पर आरोप लगाया कि वे आईसीएमआर द्वारा तय टेस्टिंग मानदंडों का पालन नहीं कर रही हैं. सरकार ने कहा कि इसके कारण ही पॉजिटिव केसों के झूठे मामले सामने आ रहे हैं.

जन स्वास्थ्य निदेशक राव ने कहा, ‘हम 13 निजी प्रयोगशालाओं को नोटिस जारी करने जा रहे हैं जो मानदंडों का पालन नहीं कर रहे हैं.’

मालूम हो कि इसी तरह बीते दिनों बिहार के पालीगंज प्रखंड में हुई एक शादी के दो दिन ही दूल्हे की कथित तौर पर कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हो गई थी. इसके बाद पालीगंज प्रखंड में पड़ने वाले डीहपाली गांव में 259 नमूने की जांच के बाद तक़रीबन 100 लोग संक्रमित पाए गए थे.

मामला सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया था कि दूल्हे संपर्क में आने के कारण उनके 15 रिश्तेदार संक्रमित हुए और संभवतया इसके बाद उनसे अन्य लोग भी संक्रमित हो गए थे.

दूल्हा गुड़गांव में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे और शादी के लिए वहां से बिहार के अपने गांव आए थे. इस संबंध में बीते दो जुलाई की देर रात अंबिका चौधरी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. उनके खिलाफ शादी समारोह में कोरोना वायरस के संबंध में तय किए गए दिशा-निर्देशों के उल्लंघन की जांच हो रही है.