भारत

बिहार: बाढ़ से चौदह ज़िलों के 56.53 लाख लोग प्रभावित, 13 लोगों की मौत

पूर्वी चंपारण में बाढ़ पीड़ित. (फोटो: पीटीआई)

पूर्वी चंपारण में बाढ़ पीड़ित. (फोटो: पीटीआई)

पटना: बिहार के 14 जिलों में 56,53,704 लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं, जिनमें से 4,18,490 लोगों को अब तक सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया जा चुका है.

आपदा प्रबंधन विभाग से सोमवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रदेश के 14 जिलों सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, खगड़िया, सारण, समस्तीपुर, सिवान एवं मधुबनी में 56,53,704 लोग बाढ़ से प्रभावित हैं.

इनमें से 4,18,490 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा चुका है. 17,554 लोग 19 राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं. दरभंगा जिले में सबसे अधिक 18,61,960 लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं.

बताया गया है कि बाढ़ के कारण विस्थापित लोगों को भोजन कराने के लिए 1,358 सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गयी है.

बिहार के बाढ़ प्रभावित इन जिलों में बचाव और राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 31 टीमों की तैनाती की गई है.

बिहार के इन जिलों में बाढ़ का कारण अधवारा समूह नदी, लखनदेई, रातो, मरहा, मनुसमारा, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, गंडक, बूढ़ी गंडक, कदाने, नून, वाया, सिकरहना, लालबेकिया,तिलावे, धनौती, मसान, कोशी, गंगा, कमला बलान, करेह एवं धौंस नदी के जलस्तर का बढ़ना है.

प्रभात खबर के मुताबिक, कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने बताया कि प्रारंभिक आकलन के अनुसार इस साल बाढ़ से सात लाख 66 हजार सात सौ 29 हेक्टेयर में लगी फसल को क्षति पहुंची है. बाढ़ का पानी निकलने के बाद ही फसल के नुकसान का पूरा आकलन हो पाएगा.

सोमवार को समस्तीपुर-दरभंगा रेलवे लाइन पर 11वें दिन भी ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह बंद रहा. बीते 24 जुलाई से ही इस रूट पर ट्रेनों की आवाजाही बंद है.

वहीं, मुरौल प्रंखड के महमदपुर कोठी के पास तिरहुत नहर का बांध सोमवार को टूट गया जिससे बाढ़ का पानी तेजी से गांवों में फैल रहा है.

उससे एक दिन पहले तिरहुत नहर का बांध पिलखी गांव की ओर दो स्थानों पर टूट गया था़. बाढ़ का पानी सड़क पर आ जाने से मुजफ्फरपुर-पुसा सड़क पूरी तरह से बाधित हो गया.

सकरा प्रखंड के 25 गांवों में बाढ़ का पानी फैलने से करोड़ों रुपये की खरीफ की फसल बर्बाद हो गयी है.

उल्लेखनीय है कि बिहार में बाढ़ से कुल 13 लोगों की मौत हो चुकी है जिसमें से दरभंगा जिले में सबसे अधिक सात, पश्चिम चंपारण में चार, मुजफ्फरपुर में दो लोगों की मौत हुई है.

ओडिशा में बिजली गिरने से छह लोगों की मौत

ओडिशा के बालासोर और भद्रक जिलों में सोमवार को आकाशीय बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए.

पुलिस ने बताया कि बालासोर जिले में दो बच्चों और एक किसान की मौत हो गई, जबकि पड़ोसी भद्रक जिले में तीन अन्य लोगों की मौत हो गई.

पुलिस ने बताया कि मृतकों में 12 साल की एक बच्ची भी शामिल है, जो अपने भाई को राखी बांधने गई थी. यह घटना बालासोर जिले के खंतापाड़ा पुलिस थाना क्षेत्र में हुई.

पुलिस ने बताया कि घायलों को एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)