भारत

कोविड-19: पांच महीने बाद राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में मेट्रो रेल सेवा बहाल

अनलॉक-4 के तहत गृह मंत्रालय ने हाल ही देश में चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं बहाल करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए थे. जिसके तहत सोमवार को कड़े सुरक्षा नियमों के साथ दिल्ली, लखनऊ, कोच्चि, चेन्नई, हैदराबाद और बेंगलुरु में मेट्रो सेवाएं बहाल कर दी गई है.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली/लखनऊ/बेंगलुरु: कोविड-19 महामारी के कारण पांच महीने से अधिक समय (169 दिन) तक बंद रहने के बाद सोमवार सुबह दिल्ली, लखनऊ, कोच्ची, चेन्नई, हैदराबाद और बेंगलुरु में मेट्रो सेवा बहाल कर दी गई है.

दिल्ली मेट्रो ने सोमवार को ‘येलो लाइन’ पर अपनी सीमित सेवाएं बहाल कीं. ‘येलो लाइन’ दिल्ली के समयपुर बादली को गुडगांव के हुडा सिटी सेंटर से जोड़ती है.

गृह मंत्रालय ने हाल ही देश में चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं बहाल करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए थे, जिसके बाद दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने कहा था कि वह सात से 12 सितंबर के बीच तीन चरणों में सेवाएं बहाल करेगा.

डीएमआरसी के एक अधिकारी ने बताया कि कड़ी सुरक्षा और सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियम का पालन करते हुए सेवाएं सुबह सात बजे बहाल की गईं.

अधिकारी ने बताया कि इसके तहत ‘येलो लाइन’ या ‘लाइन 2’ और ‘रैपिड मेट्रो’ की सेवाएं कुछ सीमित घंटों के लिए बहाल की गई हैं.

अधिकारी ने बताया कि प्रथम चरण में मेट्रो सुबह के वक्त चार घंटे, 7 बजे से 11 बजे तक और शाम को चार घंटे 4 से 8 बजे तक चलेगी.

पहली ट्रेनें समयपुर बादली से हुडा सिटी सेंटर के लिए और हुडा सिटी सेंटर से समयपुर बादली के लिए रवाना हुईं.

डीएमआरसी ने हुडा सिटी सेंटर से रवाना हो रही पहली ट्रेन का वीडियो ट्विटर पर साझा किया. उसने लिखा, ‘हम आ रहे हैं. हम 169 दिन से आपसे नहीं मिले. यात्रा जिम्मेदारी के साथ और अतिआवश्यक होने पर ही करें.’

अधिकारी ने बताया कि ‘येलो लाइन’ के किसी भी स्टेशन के निषिद्ध क्षेत्र में नहीं होने की वजह से कोई भी स्टेशन बंद नहीं है. दिन की शुरुआत में ‘येलो लाइन’ पर कश्मीरी गेट और हौज खास जैसे स्टेशनों पर यात्री मास्क पहने नजर आए.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी मेट्रो सेवाएं बहाल होने पर खुशी जाहिर की. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे ख़ुशी है कि आज से मेट्रो शुरू हो रही है. मेट्रो ने अच्छे इंतज़ाम किए हैं. हम सबको भी सावधानी बरतनी चाहिए, कोई लापरवाही नहीं करनी चाहिए.’

कोविड-19 महामारी के कारण एनसीआर में मेट्रो सेवाएं 22 मार्च से बंद थीं.

डीएमआरसी ने लोगों से अतिआवश्यक होने पर ही मेट्रो का इस्तेमाल करने की अपील की है. डीएमआरसी ने यात्रियों से ‘आरोग्य सेतु’ ऐप का इस्तेमाल करने को भी कहा है.

दिल्ली में मेट्रो सेवाएं ऐसे समय में बहाल की गई हैं, जब यहां एक दिन पहले कोविड-19 के 3,256 नए मामले सामने आए हैं. कोरोना वायरस के यहां कुल 1.91 लाख मामले सामने आ चुके हैं.

दिल्ली मेट्रो ने यात्रियों के बीच भौतिक संपर्क कम से कम सुनिश्चित करने के वास्ते कई कदम उठाए हैं.

मेट्रो ने इसके लिए स्वचालित थर्मल स्क्रीनिंग-सह-सैनेटाइजर डिस्पेंसर और ‘फुट पेडल संचालित लिफ्ट’ तैयार की हैं. मेट्रो कोच में बैठने और खड़े होते समय भी दूरी बनाए रखने को कहा गया है. इसके लिए एक कोच में सीटों पर और प्लेटफॉर्म पर स्टीकर लगाए गए हैं. जागरूकता फैलाने के लिए भी परिसर में पोस्टर लगाए गए हैं.

कोविड-19 सुरक्षा मानकों के अनुसार, किसी भी स्टेशन पर लिफ्ट में एक बार में अधिकतम तीन यात्रियों को जाने की अनुमति होगी.

अधिकारियों ने रविवार को बताया था कि ट्रेनों के रुकने की अवधि भी अब अधिक होगी. इसे प्रत्येक स्टेशन पर 10-15 सेकंड से बढ़ाकर 20-25 सेकंड किया जाएगा और ‘इंटरचेंज’ सुविधा की अवधि को 35-40 सेकंड से बढ़ाकर 55-60 सेकंड किया जाएगा.

लखनऊ मेट्रो

उधर, लखनऊ मेट्रो सोमवार को सुबह सात बजे से शुरू हो गई है. कोविड को ध्यान में रखते हुए कई नियम बनाए गए हैं और नई तकनीकी शुरू की गई हैं.

न्यूज़ 18 के मुताबिक यूपी मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि ट्रेन के अंदर सीटों पर भी दो गज की दूरी के लिए मार्किंग की गई है ताकि यात्री एक सीट छोड़कर बैठें.

उन्होंने बताया कि स्टेशन के अंदर आमतौर पर छुई जाने वाली चीजों जैसे कि प्रवेश-निकास गेट, बैगेज स्कैनर्स, टिकट वेंडिंग मशीन, एएफसी गेट, एस्कलेटर की हैंडरेल्स, सीढ़ियों की रेलिंग, लिफ्ट के बटन, प्लेटफॉर्म पर लगीं सीटों आदि को भी नियमित अंतराल पर सेनिटाइज किया जाएगा.

केशव ने बताया कि पहले की तरह ही सुबह छह बजे से रात 10 बजे तक मेट्रो का संचालन होगा. इस दौरान 16 ट्रेनें चलाई जाएंगी जो चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से मुंशी पुलिया तक सभी 21 स्टेशनों पर ट्रेनें रुकेंगी.

उन्होंने बताया, मेट्रो परिसर में प्रवेश के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा. अगर कोई यात्री मास्क लाना भूल जाता है तो उसे सशुल्क मास्क उपलब्ध कराया जाएगा. वहीं, सभी यात्रियों को मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल करना होगा.

उनके मुताबिक, अगर किसी व्यक्ति के पास मोबाइल फोन या स्मार्ट फोन नहीं है तो उसका नाम और मोबाइल नंबर रजिस्टर में दर्ज कराए जाएंगे. प्रवेश से पहले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य होगी और तापमान मानक स्तर से कम होने पर ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी.

बेंगलुरु मेट्रो

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर लागू लॉकडाउन की वजह से पिछले पांच महीने से भी ज्यादा समय से बंद रहने के बाद सोमवार को बेंगलुरु में भी मेट्रो रेल सेवा बहाल कर दी गई.

अनलॉक 4.0 के तहत मेट्रो रेल सेवा पर्पल लाइन पर बायप्पानाहल्ली से सुबह आठ बजे मैसुरु रोड और मैसुरु रोड से बायप्पानाहल्ली के लिए शुरू हुई.

बीएमआरसीएल के एक अधिकारी ने बताया, ‘बायप्पानाहल्ली से छह कोच वाली मेट्रो 12 यात्रियों को लेकर रवाना हुई. वहीं मैसुरु रोड के नयनदाहल्ली स्टेशन पर 15 से 16 यात्री चढ़े थे.’

अधिकारी ने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि लोग बहुत सतर्क हैं. हालांकि उन्हें उम्मीद है आने वाले दिनों में चीजें सुधरेंगी. वहीं मेट्रो के ग्रीन लाइन पर येलाचेनाहल्ली से नागासांद्रा की ओर जाने वाली सेवा बुधवार से शुरू होगी.

इन ट्रेनों का परिचालन सिर्फ छह घंटे के लिए अधिक यात्री वाले समय यानी सुबह 8:00 बजे से 11:00 बजे और शाम 4:30 बजे से 7:30 बजे के बीच किया जाएगा. वहीं 11 सितंबर के बाद ट्रेन सेवा दोनों मार्गों पर सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक चलेगी.

बीएमआरसीएल के एक अधिकारी ने बताया कि सामाजिक दूरी के नियम सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक ट्रेन में सिर्फ 400 यात्रियों को चढ़ने की अनुमति है. प्रत्येक स्टेशन पर ट्रेन 60 सेकेंड तक रुकेगी ताकि यात्री सामाजिक दूरी के नियम का पालन करते हुए कोच से बाहर निकल सकें और चढ़ सकें. वहीं इंटरचेंज स्टेशन (मार्ग बदलने वाले स्टेशन) पर ट्रेन 75 सेकेंड तक रुकेगी.

बीएमआरसीएल ने कहा कि कंटेनमेंट क्षेत्र में पड़ने वाले स्टेशनों पर ट्रेन नहीं रुकेगी. वही मेट्रो रेल ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि सभी यात्रियों को स्मार्ट कार्ड का ही इस्तेमाल करना होगा, क्योंकि टोकन की बिक्री स्टेशनों पर नहीं होगी. वहीं कार्ड के रिचार्ज की भी सुविधा स्टेशनों पर उपलब्ध नहीं होगी. सभी यात्रियों के बीएमआरसीएल के ऐप का इस्तेमाल करके रिचार्ज करना होगा.

केरल के कोच्चि में अनलॉक 4 के दिशा निर्देशों के तहत सोमवार से मेट्रो सेवा बहाल कर दी गई है. पहले चरण में कोच्चि मेट्रो ट्रेन सुबह 7:00 बजे से रात 8:00 बजे के बीच 20 मिनट के अंतराल से चलेंगी.

इसके अलावा तमिलनाडु के चेन्नई, तेलंगाना के हैदराबाद में भी सीमित तौर पर मेट्रो रेल की सेवाएं शुरू हो गई है. हैदराबाद में पहले चरण में रेड लाइन पर सेवा बहाल की गई है जोकि एलबीनगर से मियांपुर तक चलती है.

बता दें कि कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए बीते मार्च महीने में देशव्यापी लॉकडाउन लागू किया गया था. तभी से मेट्रो सेवाएं बंद थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)