भारत

दिल्ली में सफाई करने के दौरान सेप्टिक टैंक में गिरने पर दो लोगों की मौत

दक्षिण-पूर्वी दिल्ली में बदरपुर के मोलारबंद इलाके में हुआ हादसा. हादसे में बीमार हुए एक अन्य व्यक्ति का इलाज अस्पताल में चल रहा है. पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: दक्षिण-पूर्वी दिल्ली में बदरपुर के मोलारबंद इलाके में एक इमारत के सेप्टिक टैंक में गिरने पर दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य को शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुलिस ने यह जानकारी दी.

प्राथमिक जांच के अनुसार, देवेंदर सफाई के लिए अंदर गए तो जहरीली गैस की चपेट में आकर अचेत होकर सेप्टिक टैंक में गिर गए थे. मनोज और सतीश चावला देवेंदर को बचाने अंदर गए तो वे भी बेहोश हो गए.

पुलिस ने बताया कि दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के मोलारबंद निवासी देवेंदर (40) और चार मंजिला भवन के मालिक सतीश चावला (60) की इस दुर्घटना में मौत हो गई.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हालांकि लोग मनोज (41) को टैंक से बाहर निकालने में सफल रहे और उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है.

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण-पूर्वी) आरपी मीणा ने बताया कि मौके पर पहुंचे दमकलकर्मियों ने देवेंदर और चावला को टैंक से बाहर निकाला. दोनों को जसोला स्थित अपोलो अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

अधिकारी ने बताया कि मनोज सेप्टिक टैंक की सफाई कार्य के ठेकेदार हैं. पुलिस ने बताया कि घटना के सिलसिले में एक मामला दर्ज किया गया है और जांच जारी है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार मनोज का यूनिवर्सल अस्पताल में इलाज हो रहा है और उन्हें अगले 24 घंटे के लिए निगरानी में रखा गया है. रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली दमकल सेवा के प्रमुख अतुल गर्ग ने बताया कि देवेंदर को बिना सुरक्षा उपकरणों के सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए भेजा गया था.

चावला ने इमारत को किराये पर दे दिया था और सेप्टिक टैंक की सफाई कराना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने मनोज से संपर्क किया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)