दुनिया

कोरोना वायरस: कुल मामले 82.67 लाख से अधिक हुए, अब त​क 7,603,121 लोग हुए ठीक

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 8,267,623 हो गए हैं और मृतक संख्या बढ़कर 123,097 हो गई है. विश्व में कुल मामले 4.68 करोड़ से ज़्यादा हो चुके हैं, जबकि 12.06 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

A man gets off a ladder as he completes a mural paying tribute to 'COVID-19 warriors' as India eases lockdown restrictions that were imposed to slow the spread of the coronavirus disease (COVID-19), in New Delhi, India, June 8, 2020. REUTERS/Anushree Fadnavis TPX IMAGES OF THE DAY

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 40 हजार से कम नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 82.67 लाख हो गए. वहीं अभी तक 76 लाख से अधिक लोग संक्रमण मुक्त भी हो चुके हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में कोविड-19 के 38,310 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 8,267,623 हो गए. वहीं 490 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 123,097 हो गई.

आंकड़ों के अनुसार देश में 7,603,121 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद देश में मरीजों के ठीक होने की दर 91.96 फीसदी हो गई. वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.49 प्रतिशत है.

वहीं देश में लगातार पांचवें दिन इलाज करा रहे लोगों यानी सक्रिय मामलों की संख्या छह लाख से कम रही.

आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी 541,405 लोगों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है, जो कुल मामलों का 6.55 प्रतिशत है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, दो नवंबर तक कुल 111,789,350 नमूनों की कोविड-19 की जांच की गई, जिनमें से 1,046,247 नमूनों का परीक्षण सोमवार को ही किया गया.

आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में जिन 490 लोगों की मौत हुई, उनमें से सबसे अधिक 104 लोग महाराष्ट्र के थे। इनके अलावा छत्तीसगढ़ के 58, पश्चिम बंगाल के 57, दिल्ली के 42, तमिलनाडु के 31 और कर्नाटक के 29 लोग थे।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 1,23,097 लोगों की वायरस के कारण मौत हुई है, जिनमें से सबसे अधिक 44,128 लोग महाराष्ट्र के थे। वहीं इनके अलावा कर्नाटक के 11,221, तमिलनाडु के 11,183, उत्तर प्रदेश के 7,076, पश्चिम बंगाल के 6,957, आंध्र प्रदेश के 6,719, दिल्ली के 6,604, पंजाब के 4,227 और गुजरात के 3,725 लोग थे.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से ज्यादा मामलों में मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं.

भारत में कोविड-19 के कुल मामले सात अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख, 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख के पार, 11 अक्टूबर को 70 लाख के पार और 29 अक्टूबर को 80 लाख के पार हो गए.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है. वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे.  मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख होने में 19 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते दो नवंबर को 45,231, एक नवंबर को 46,963, नए मामले सामने आए.

अक्टूबर महीने की बात करें तो इस महीने की एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते दो नवंबर को 496, एक नवंबर को 470 थी.

अक्टूबर महीने में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी और न्यूनतम संख्या 27 और 26 अक्टूबर को 480 480 रही.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 4.68 करोड़ से ज़्यादा, 12.06 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 46,871,264 हो गए हैं और अब तक 1,206,187 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 9,291,245 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 231,551 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 5,554,206 मामले मिले हैं और 160,253 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 1,642,665 मामले मिले हैं और 28,264 लोगों की जान जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 1,460,745 मामले आए हैं, जबकि 37,485 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,240,697 मामले हैं और 36,257 लोगों ने जान गंवा दी है. स्पेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश अर्जेंटीना में संक्रमण के 1,183,131 मामले सामने आए हैं और 31,623 मौतें हुई हैं.

अर्जेंटीना के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 1,057,021 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 46,943 मौतें हुई हैं. ब्रिटेन के बाद नौवें प्रभावित देश कोलंबिया में संक्रमण के 1,004,308 मामले सामने आए हैं और 31,653 मौतें हुई हैं.

कोलंबिया के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश मैक्सिको में संक्रमण के 933,155 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 92,100 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)