दुनिया

कोरोना वायरस: 29,398 नए केस आने के बाद संक्रमण के कुल मामले 98 लाख के क़रीब

भारत में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 9,796,769 हो गई है, जबकि मृतक संख्या 142,186 है. विश्व में संक्रमण के मामले 6.95 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं, जबकि 15.81 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है.

Bhopal: A medic administers Covaxin, developed by Bharat Biotech in collaboration with the Indian Council of Medical Research (ICMR), during the Phase- 3 trials at the Peoples Medical College in Bhopal, Monday, Dec. 7, 2020. (PTI Photo)(PTI07-12-2020 000173B)

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोराना वायरस के संभावित टीके कोवैक्सीन के ट्रायल का तीसरा चरण शुरू हो गया है. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: देश में इस महीने दूसरी बार शुक्रवार को कोविड-19 के 30,000 से कम नए मामले आए. नए मामलों के साथ संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 97.96 लाख हो गई जबकि अब तक 92.90 लाख लोग ठीक हो चुके हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे के दौरान 29,398 नए मामले आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 9,796,769 हो गई. संक्रमण से 414 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 142,186 हो गई.

मंत्रालय के अनुसार, अब तक 9,290,834 लोग संक्रमण को मात दे चुके हैं, जिससे ठीक होने की दर भी 94.84 प्रतिशत हो गई है. कोविड-19 से मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत है.

इसके अलावा लगातार पांचवें दिन इलाज करा रहे मरीजों यानी सक्रिय मामलों की संख्या चार लाख से कम रही.

देश में 363,749 संक्रमित मरीजों का उपचार चल रहा है. यह संक्रमण के कुल मामलों का 3.71 प्रतिशत है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 414 और लोगों की मौत हो गई. इनमें महाराष्ट्र में 70, दिल्ली में 61, पश्चिम बंगाल में 49, पंजाब में 27 हरियाणा तथा केरल में 26-26 एवं उत्तरप्रदेश में 24 लोगों की मौत हुई.

देश में संक्रमण से अब तक 142,186 लोगों की मौत हुई है. इनमें महाराष्ट्र में 47,972, कर्नाटक में 11,912, तमिलनाडु में 11,853, दिल्ली में 9874, पश्चिम बंगाल में 8916 उत्तर प्रदेश में 8011, आंध्र प्रदेश में 7047 और पंजाब में 5007 लोगों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि संक्रमण के कारण दम तोड़ने वाले 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीज पहले से गंभीर रोगों से ग्रस्त थे.

भारत में कोविड-19 के कुल मामले सात अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख, 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख के पार, 11 अक्टूबर को 70 लाख के पार, 29 अक्टूबर को 80 लाख के पार हो गए और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है. वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे.  मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख होने में 13 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते 10 दिसंबर को 31,521, नौ दिसंबर को 32,080, आठ दिसंबर को 26,567, सात दिसंबर को 32,981, छह दिसंबर को 36,011, पांच दिसंबर को 36,652, चार दिसंबर को 36,595, तीन दिसंबर को 35,551, दो दिसंबर को 36,604 और एक दिसंबर को 31,118 नए मामले सामने आए थे.

इसी तरह बीते 24 घंटे के दौरान 10 दिसंबर को 412, नौ दिसंबर को 402, आठ दिसंबर को 385, सात दिसंबर को 391, छह दिसंबर को 482, पांच दिसंबर को 512, चार दिसंबर को 540, तीन दिसंबर को 526, दो दिसंबर को 501 और एक दिसंबर को 482 लोगों की मौत हुई.

नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 6.95 करोड़ से ज़्यादा, 15.81 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 69,592,554 हो गए हैं और अब तक 1,581,856 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 15,611,014 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 292,141 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 6,781,799 मामले मिले हैं और 179,765 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 2,546,113 मामले आए हैं, जबकि 44,769 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 2,391,643 मामले आए हैं, जबकि 57,044 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 1,792,611 मामले हैं और 63,179 लोगों ने जान गंवा दी है. ब्रिटेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 1,787,147 मामले सामने आए हैं और 62,626 मौतें हुई हैं.

इटली के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,720,056 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 47,344 मौतें हुई हैं. स्पेन के बाद नौवें प्रभावित देश अर्जेंटीना में संक्रमण के 1,482,216 मामले सामने आए हैं और 40,431 मौतें हुई हैं.

अर्जेंटीना के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश कोलंबिया में 1,399,911 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 38,484 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)