भारत

केरल: परिवार के ख़िलाफ़ शादी करने के तीन महीने बाद लड़की के परिजनों ने की युवक की हत्या

मामला केरल के पलक्कड़ ज़िले का है. पुलिस के अनुसार, 22 वर्षीय अनीश और 19 वर्षीय हरिता ने परिवार की मर्ज़ी के ख़िलाफ़ सितंबर में शादी की थी, जिसके बाद हरिता के परिवार ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी.

Palakkad, Kerala

कोच्चि: केरल के पलक्कड़ जिले में ऑनर किलिंग का एक संदिग्ध मामला सामने आया है, जहां आरोप है कि एक 22 वर्षीय युवक को उनकी पत्नी के परिवार ने चाकू घोंपकर मार डाला.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, कोल्लन ओबीसी समुदाय के एक दिहाड़ी मजदूर अनीश पर शुक्रवार की शाम उनकी पत्नी हरिता के पिता और चाचा ने हमला किया, जो तमिल पिल्लई समुदाय से आते हैं. शुक्रवार को उनकी शादी को तीन महीने पूरे हुए थे.

सब-इंस्पेक्टर अनूप ने पुष्टि की है कि हरिता के पिता प्रभुकुमार और चाचा सुरेश को हिरासत में ले लिया गया है और हत्या का आरोप लगाया गया है.

हमला ठाकुरसी पंचायत की सीमा के भीतर मलमकुलम्बु में हुआ, जब अनीश अपने भाई के साथ एक दुकान पर जाने के लिए निकले थे. गंभीर रूप से घायल अनीश को एक निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.

पुलिस के अनुसार, अनीश और 19 वर्षीय हरिता स्कूल के दिनों से एकदूसरे को पसंद करते थे. उन्होंने परिवार की इच्छा के खिलाफ जाते हुए सितंबर में एक स्थानीय पंजीकरण कार्यालय में शादी कर ली थी.

एक अधिकारी ने बताया, ‘हरिता की तुलना में अनीश के परिवार को आर्थिक रूप से और जातिगत श्रेणी में कम माना जाता है. हरिता के चले जाने के बाद उसका परिवार काफी परेशान था.’

अनीश के पिता अरुमुघम ने स्थानीय समाचार चैनलों को बताया कि हरिता के परिवार ने जान से मरने की धमकी दी थी कि उनकी शादी के तीन महीने पूरे नहीं होंगे. शादी के बाद धमकियों के कारण अनीश अधिकतर समय घर पर ही रहता था.

एक अधिकारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने पर अनीश की मौत का सही कारण स्पष्ट होगा. शव को जांच के लिए भेज दिया गया है. उसका कोविड-19 रिपोर्ट निगेटिव आई है. प्रारंभिक निष्कर्षों से पता चला है कि उसकी जांघों पर चाकू मरने के निशान और गला घोंटने के गहरे घाव थे.