भारत

गुजरात: नए कृषि क़ानूनों से नाख़ुश 100 भाजपा कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल

भरूच कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अरुणसिंह राणा ने बताया कि ज़िले के नौ गांवों के सौ भाजपा कार्यकर्ता तीन नए कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ चल रहे देशव्यापी किसान आंदोलन को समर्थन देते हुए कांग्रेस में शामिल हो गए हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: गुजरात में भरूच कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अरुणसिंह राणा ने बीते शनिवार को कहा कि जिले के नौ गांवों के 100 भाजपा कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल हो गए हैं और तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे देशव्यापी किसान आंदोलन को समर्थन दिया है.

भाजपा कार्यकर्ता, जो सभी किसान हैं, भरूच जिला पंचायत के नबीपुर सीट के सदस्य शकील अकुजी के नेतृत्व में भरूच जिला कांग्रेस अध्यक्ष परिमलसिंह राणा की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हुए.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक पार्टी के सूत्रों ने बताया कि इन नेताओं में 70 फीसदी से ज्यादा स्थानीय पाटीदार पटेल हैं, जो कि उपराली, सामलोद, डाभली, भरथना, कविथा, नंद, पिपलिया, करेला और उमराह गांव के हैं और बाकी आदिवासी हैं.

परिमलसिंह ने कहा, ‘कांग्रेस में शामिल नेताओं ने कहा कि उन्हें भाजपा में महत्व नहीं दिया गया और उनके क्षेत्रों में कोई विकास कार्य नहीं हुआ. आगामी स्थानीय निकाय चुनावों में ये नए कार्यकर्ता कांग्रेस को मजबूत बनाएंगे.’

35 साल से भाजपा के साथ रहे पूर्व सरपंच महेश पटेल (54) ने कहा, ‘हम भाजपा द्वारा लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ हैं.’

भाजपा की भरूच जिला इकाई के प्रमुख मारुतिसिंह अतोदरिया ने कहा, ‘मैं कांग्रेस द्वारा आयोजित कार्यक्रम के बारे में नहीं जानता, जिसमें 100 भाजपा कार्यकर्ता पार्टी में शामिल हुए हैं. मैं कह सकता हूं कि भाजपा का कोई भी सक्रिय कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल नहीं हुआ है. मैं अपनी पार्टी के संगठनात्मक सचिव से बात करूंगा और इसके बारे में पता करूंगा.’