भारत

राजस्थान: ज़हरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हुई, पांच लोग गिरफ़्तार

राजस्थान के भरतपुर ज़िले के रूपवास थाना क्षेत्र के चक सामरी गांव का मामला. पिछले कुछ दिनों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में ज़हरीली शराब के सेवन से तकरीबन 36 लोगों की मौत हो चुकी है.

Liquor Alcohol Reuters A

जयपुर: राजस्थान के भरतपुर जिले के रूपवास थाना क्षेत्र के चक सामरी गांव में बीते दो दिन के भीतर जहरीली शराब पीने की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हो गई है. इसकी वजह से बीमार पड़े तकरीबन पांच लोगों को इलाज जारी है. यह गांव उत्तर प्रदेश की सीमा से लगा है. इस संबंध में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

अधिकारियों के अनुसार, बीते 12 और 13 जनवरी की रात को चार लोगों की मौत हो गई थी और 14 जनवरी की सुबह तीन और लोगों ने दम तोड़ दिया. इस संबंध में तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है.

भरतपुर जिला कलेक्टर नथमल डिडेल ने बताया कि ज़हरीली शराब से पांच अन्य का अस्पताल में इलाज जारी है. दो लोगों की हालत गंभीर है.

उन्होंने बताया कि जहरीली शराब का सेवन करने वाले अब तक 18 लोग सामने आए हैं, जिनमें से सात लोगों की मौत हो गई है.

उन्होंने बताया कि जहरीली शराब के आपूर्तिकर्ता संतोष के विरुद्ध भी मामला दर्ज किया जाएगा. उन्होंने बताया कि उसने भी शराब का सेवन किया था और उसका इलाज जारी है.

उन्होंने बताया कि गुरुवार को मरने वालों की पहचान वासुदेव (32), पदम सिंह, मांगीलाल (55) के रूप में की गई है. उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं. मंगलवार देर रात इलाज के दौरान पीतम सिंह (45), मांगीलाल (35), कम्पोटर (32) और एक अन्य की मौत हो गई थी.

इस संबंध में राजस्थान आबकारी अधिनियम की धारा 16-54, 54बी के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार लोगों की मौत मेथिल एल्कोहल की विषाक्तता की वजह से हुई. भरतपुर एसपी देवेंद्र कुमार विश्नाई ने बताया कि मामले में अब तक पांच लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. उन्होंने बताया कि अब तक एक्साइज एक्ट तीन केस इस संबंध में दर्ज किए गए हैं.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना को लेकर दुख जताया है और मृतकों के परिवार के लिए दो लाख रुपये प्रति व्यक्ति का मुआवजा देने की बात कही है. अन्य पीड़ितों को 50 हजार प्रति व्यक्ति की आर्थिक सहायता दी जाएगी.

पिछले कुछ दिनों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में जहरीली शराब के सेवन से तकरीबन 36 लोगों की मौत हो चुकी है.

मालूम हो कि बीते 11 जनवरी को मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के मानपुर और पहावली गांवों में जहरीली शराब के सेवन से 14 लोगों की मौत हुई थी, जो बीते 14 जनवरी को बढ़कर अब 24 हो गई है.

इससे पहले बीते आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के सिकंदराबाद थानाक्षेत्र के जीतगढ़ी गांव में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से पांच व्यक्तियों की मौत हो गई थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)