भारत

दिल्ली में मज़दूरों से सीवर की सफ़ाई पर रोक, मशीनों से होगा काम

एक महीने के अंदर सीवर में सफ़ाई के दौरान डूबकर दस मौतें होने के बाद दिल्ली सरकार ने यह फ़ैसला लिया है.

(प्रतीकात्मक फोटो :रॉयटर्स)

(प्रतीकात्मक फोटो :रॉयटर्स)

नई दिल्ली: दस लोगों की मौत होने के बाद अब दिल्ली प्रशासन ने सीवर को साफ़ करने की प्रक्रिया को पूरी तरह मशीनों से अंजाम देने का फ़ैसला किया है. दिल्ली प्रशासन ने यह स्पष्ट किया है कि इसका उल्लंघन करने पर उम्रकैद तक की सज़ा हो सकती है.

जल मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि दिल्ली जल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, निगम आयुक्त और नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष को सीवर साफ़ करने की सफ़ाई मशीन ख़रीदने पर 15 दिन के अंदर एक रिपोर्ट तैयार करने कहा गया है.

उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह फ़ैसला किया गया. इसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, नगर निकाय एवं डीजेबी समेत संबंधित एजेंसियों के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे.

उपराज्यपाल ने ट्वीट कर कहा, सीवर और नालों की सफ़ाई पूरी तरह से मशीनों से करने का निर्देश दिया गया है. सात दिन के अंदर कड़ी व्यवस्था तैयार की जाए. ठेकेदारों द्वारा अनुपालन के लिए नियमों का सघन प्रचार किया जाए. पुलिस उल्लंघनकर्ताओं के ख़िलाफ़ कड़ी कार्वाई करे.

बैजल ने सीवर की सफ़ाई के दौरान हुई मौतों को अस्वीकार्य बताया. रविवार को लोकनायक जय प्रकाश अस्पताल में सीवर की सफ़ाई के दौरान 45 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि तीन अन्य घायल हो गए. इससे पहले एक महीने में तीन घटनाओं में नौ लोगों ने ऐसी ही स्थिति में अपनी जान गंवाई.

दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी) के अंदर बने सीवर में रविवार को एक सफाई कर्मचारी ऋषिपाल (48) की मौत हो गई थी. सीवर में ऋषिपाल को बचाने के लिए बाकी तीन कर्मचारी सीवर में उतरे थे, लेकिन गैस की वजह से तीनों कर्मचारी करण, सुमित, विशन बेहोश हो गए.

बीते 12 अगस्त को दिल्ली के शाहदरा इलाके में एक शॉपिंग मॉल के बेसमेंट में नाला साफ करते समय दो भाइयों की मौत हो गई थी. इसके पहले 6 अगस्त को सीवर की सफाई के दौरान जहरीली गैस की वजह से दिल्ली के लाजपत नगर में तीन कर्मचारियों की मौत हो गई थी.

बीती 15 जुलाई को दक्षिण दिल्ली के घिटोरनी इलाके में सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान दम घुटने से चार सफाई कर्मचारियों की मौत हो गई थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)