भारत

तानाशाही का समय है, मीडिया के लोगों को डराया जाता है: राहुल गांधी

चुनावी अभियान पर गुजरात पहुंचे राहुल ने कहा, ‘मीडिया को किसान और छोटे व्यापारी नहीं चलाते, उसको मोदी जी के दो-चार दोस्त चलाते हैं.’

Rahul Gandhi

चुनावी अभियान का जायजा लेने राहुल गांधी सोमवार को गुजरात पहुंचे. (फोटो: पीटीआई)

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने गुजरात चुनाव को लेकर बिगुल फूंक दिया है. सोमवार को पार्टी की चुनावी तैयारियों का जायजा लेने अहमदाबाद पहुंचे राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी, केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. गांधी ने सरकार पर मीडिया को डराने, मीडियाकर्मियों को पीटने और तानाशाही चलाने का आरोप लगाया.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक राहुल गांधी ने कहा कि ‘मीडिया में ऐसे भी लोग हैं जो मोदी जी के खिलाफ लिखना चाहते हैं पर तानाशाही का समय है, उन्हें डराया जाता है, पीटा जाता है.’ उन्होंने कहा, ‘मीडिया को किसान और छोटे व्यापारी नहीं चलाते, उसको मोदी जी के दो-चार दोस्त चलाते हैं.’

राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘36,000 करोड़ बैंक लोन और टोटल 60,000 करोड़, गुजरात के किसानों के कर्ज से दो गुना ज्यादा पैसा मोदी जी ने नैनो बनाने के लिए टाटा को दिया.’

पार्टी में बगावत के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा, ‘अगर किसी ने कांग्रेस पार्टी के अंदर से कांग्रेस को हराने का काम किया तो हम उसे पार्टी में जगह नहीं देंगे. जो हमारे कांग्रेस कार्यकर्ता जमीन पर आरएसएस और बीजेपी से लड़ते हैं, उन्हें हम टिकट दिलवाएंगे.

राहुल गांधी ने जीएसटी के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा, ‘हमने सरकार से कहा था कि जीएसटी में इतने स्लैब नहीं होने चाहिए और 18 प्रतिशत पर जीएसटी का लिमिट होना चाहिए.’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि जीएसटी की मार सबसे ज्यादा छोटे व्यापारियों पर पड़ी है. छोटे व्यापारी गुजरात की रीढ़ की हड्डी हैं और उन्हीं पर चोट की गई है. राहुल ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर सरकार की आलोचना की और कहा कि नोटबंदी की वजह से देश की विकास दर नीचे चली गई है.