राजनीति

सुखराम के भ्रष्टाचार पर भाजपा की सफाई, मामले बहुत पुराने हैं

हिमाचल चुनाव राउंडअप: सुखराम के भ्रष्टाचार पर भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा, ‘जो बीत गई, वह बात गई. क़ानून अपना काम करेगा.’ प्रेम कुमार धूमल होंगे भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार.

Chamba: BJP National President Amit Shah addressing a public meeting at Banikhet in Chamba district of Himachal Pradesh on Monday. PTI Photo (PTI10_30_2017_000132A)

हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैली को संबोधित करते भाजपा अध्यक्ष अमित शाह. (फोटो: पीटीआई)

शिमला: पूर्व केंद्रीय दूरसंचार मंत्री सुखराम के बेटे अनिल शर्मा को पार्टी में शामिल करने को लेकर कांग्रेस के निशाने पर आई भाजपा के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा है कि सुखराम के खिलाफ मामले बहुत पुराने हैं. त्रिवेदी ने कहा, ‘जो बीत गई, वह बात गई. कानून अपना काम करेगा.’

वीरभद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे अनिल शर्मा 15 अक्टूबर को भाजपा में शामिल हो गए थे और वह इस समय मंडी सदर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार हैं.

मंडी सीट का वर्ष 1962 से नवंबर 1984 तक सुखराम ने प्रतिनिधित्व किया था. उनके लोकसभा में चुने जाने के बाद 1985 में डीडी ठाकुर ने यह सीट जीती. भाजपा ने 1990 में इस सीट पर अपना कब्जा किया था.

वर्ष 1993 के विधानसभा चुनाव में अनिल शर्मा ने मंडी से जीत हासिल की लेकिन सुखराम का नाम दूरसंचार घोटाले में सामने आने के बाद उन्हें कांग्रेस से निष्कासित कर दिया गया था और उन्होंने हिमाचल विकास कांग्रेस का गठन किया जिसने चुनाव के बाद भाजपा के साथ गठबंधन किया और सरकार में शामिल हुई.

त्रिवेदी ने दावा किया कि हिमाचल प्रदेश के लोग नजरिए, प्रणाली और विचारधाराओं में बदलाव के लिए मतदान करेंगे और राज्य में निर्भीक एवं भ्रष्टाचार मुक्त सरकार का चयन करेंगे. उन्होंने कहा, भ्रष्टाचार कांग्रेस का चरित्र है और यह पार्टी जब भी सत्ता में आती है, तब कांग्रेस के सदस्यों में भ्रष्टाचार करने की होड़ लग जाती है.

प्रेम कुमार धूमल होंगे भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार: अमित शाह

सोलन: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल को राज्य में आसन्न विधानसभा चुनाव में पार्टी के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार नामित किया.

अमित शाह ने यह घोषणा यहां एक सार्वजनिक रैली में की. इस घोषणा के साथ ही प्रदेश में पार्टी की पसंद के बारे में इस शीर्ष पद के लिये जारी अटकलों पर विराम लग गया है.

शाह ने कहा, भाजपा हिमाचल प्रदेश में प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रही है. भाजपा की जीत का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि धूमल अभी पूर्व मुख्यमंत्री हैं और 18 दिसंबर के बाद, वे नए मुख्यमंत्री बनेंगे.

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा को हिमाचल प्रदेश में इस शीर्ष पद के लिये पार्टी के भीतर एक दावेदार के रूप में देखा जा रहा था. हालांकि इस राज्य में लोगों के बीच आधार होने के कारण धूमल को फायदा मिला.

कांग्रेस के शासन में हिमाचल में माफिया फले-फूले: शाह

डलहौजी: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुये आरोप लगाया कि पार्टी ने राज्य को ऐसी जगह में बदलकर देवभूमि को कलंकित किया जहां माफिया पनपते हैं.

इस चुनावी प्रदेश में रैलियों को संबोधित करते हुये शाह ने कश्मीर में स्वायाता से जुड़े पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम के बयान की आलोचना की और राहुल गांधी से इस मुद्दे पर अपना रुख साफ करने की मांग की. उन्होंने कांग्रेस पर पाकिस्तानियों की भाषा बोलने का आरोप लगाया.

उन्होंने डलहौजी के बानीखेत और ज्वाली में चुनावी रैलियों में आरोप लगाया, राज्य में वन माफिया, खनन माफिया, ड्रग माफिया, स्थानांतरण माफिया, शराब माफिया और भू माफिया के पनपने के साथ हिमाचल माफिया की भूमि बन गया है.

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर निशाना साधते हुये शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता के परिवार में ऐसा एक भी सदस्य नहीं जो भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना नहीं कर रहा हो.

भाजपा ने पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले सात नेताओं को निष्कासित किया

शिमला: भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले सात प्रमुख नेताओं को सोमवार को तत्काल प्रभाव से पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया. इन नेताओं में एक वर्तमान विधायक भी शामिल हैं.

राज्य भाजपा के प्रमुख सतपाल सिंह ने बताया, निष्कासित किए गए नेताओं में चंबा के वर्तमान विधायक बीके चौहान, पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा और हृदय राम, चंबा के डीके सोनी, भरमौर एसटी के ललित ठाकुर, फतेहपुर के बलदेव ठाकुर और जसवन-प्रागपुर के हंसराज शामिल हैं.

उल्लेखनीय है कि भाजपा ने चार वर्तमान विधायकों को टिकट देने से इंकार कर दिया था.

कांग्रेस ने हिमाचल को अपराध भूमि में तब्दील कर दिया: आदित्यनाथ

शिमला: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि कांग्रेस ने देव भूमि हिमाचल प्रदेश को अपराध भूमि में तब्दील कर दिया है.

Dharamsala : BJP workers welcome Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath during an election rally while campaigning for party candidate Arun Kumar (Kukka) from Nagrota Bagwan in Dharamsala on Monday. PTI Photo (PTI10_30_2017_000163B)

हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैली के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. (फोटो: पीटीआई)

योगी ने राज्य के लोगों से माफिया राज को खत्म करने के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की. अरकी और हारोली में भाजपा उम्मीदवारों के लिए प्रचार करते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल में कांग्रेस के शासन के तहत सिर्फ अपराध और भ्रष्टाचार ही बढ़ा है. राज्य में नौ नवंबर को चुनाव होने हैं.

माफिया राज खत्म करना, महिलाओं को सुरक्षा-हिमाचल के लिए भाजपा के चुनावी वादों में शामिल

शिमला: माफिया राज को खत्म करना, महिलाओं की सुरक्षा, बुजुर्गों के लिए मुफ्त चारधाम यात्रा और युवाओं के लिए रोजगार हिमाचल प्रदेश के लिए भाजपा के दृष्टि पत्र में शामिल मुख्य मुद्दे हैं.

दृष्टि पत्र में मुख्यमंत्री कार्यालय में सभी तरह के अपराधों की रिपोर्टिंग के लिए 24 घंटे के लिए एक हेल्पलाइन शुरू करना, मादक पदार्थों और अपराध से निपटने के लिए सोमनाथ वाहिनी स्थापित करना शामिल है, जो एक कार्यबल होगा.

कोटखाई बलात्कार एवं हत्या का मामला तथा अन्य घटनाओं को लेकर हुए व्यापक प्रदर्शन के मद्देनजर कानून व्यवस्था को बेहतर करने के उपायों पर मुख्य जोर देना है. इसमें कहा गया है कि पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए भाजपा के विधायक अपनी सभी संपत्ति की घोषणा करेंगे.

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में 68 सीटों पर 349 उम्मीदवार मैदान में

शिमला: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के तहत नौ नवंबर को होने वाले मतदान के लिए मैदान में कुल 349 उम्मीदवार हैं.

राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्षी भाजपा ने सभी 68 सीटों पर अपने-अपने उम्मीदवार उतारे हैं जबकि माकपा 16 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

धर्मशाला से सबसे ज्यादा 12 उम्मीदवार मैदान में हैं. इसके बाद कारसोंग एससी में 10 उम्मीदवार हैं. मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह अर्की सीट पर चार पक्षीय मुकाबले का सामना कर रहे हैं. वहां से भाजपा से रान सिंह पाल उम्मीदवार हैं.

विपक्ष के नेता प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर से मैदान में हैं. वहां पांच पक्षीय मुकाबले में कांग्रेस की ओर से राजिंदर राणा उम्मीदवार हैं. प्रदेश भाजपा प्रमुख सतपाल सिंह पांच पक्षीय मुकाबले में कांग्रेस के सतपाल सिंह रायजादा का सामना कर रहे हैं.

वहीं, प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खु भाजपा विधायक विजय अग्निहोत्री के खिलाफ नदौन सीट पर चुनावी मैदान में हैं. राज्य में एकमात्र चरण में नौ नवंबर को मतदान होगा और मतगणना 18 दिसंबर को होगी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)