भारत

यूपी निकाय चुनाव: भाजपा नेता की मुस्लिमों को चेतावनी, भाजपा को वोट दें नहीं तो होगी परेशानी

बाराबंकी के इस भाजपा नेता के भाषण के समय योगी सरकार के दो कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान और रामापति शास्‍त्री भी मंच पर मौजूद थे.

(फोटो साभार:पत्रिका)

(फोटो साभार:पत्रिका)

उत्तर प्रदेश में भाजपा नेता का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. उत्तर प्रदेश में इस महीने निकाय चुनाव होने वाले हैं. वायरल वीडियो में भाजपा नेता रंजीत श्रीवास्तव हैं जिनकी पत्नी शशि श्रीवास्तव बाराबंकी में भाजपा के चेयरमैन पद की उम्मीदवार हैं. वीडियो में भाजपा नेता मुसलमानों को धमकी देते नजर आ रहे हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार भाजपा नेता ने अपने भाषण में कहा, ‘ये कोई समाजवादी की सरकार नहीं है. यहां पर तुम जाकर डीएम, एसपी से अपना काम नहीं कर सकते हो. यहां पर तुम्हारा कोई नेता तुम्हारी मदद नहीं कर सकता है. सड़क और नाली नगर पालिका का काम है. दूसरी भी कुछ मुसीबतें तुम्हारे ऊपर आ सकती हैं. अगर हमारे सब सभासदों को तुमने बगैर भेदभाव के नहीं जिताया… अगर रंजीत साहब की पत्नी को तुमने वोट देकर नहीं जिताया. तो ये दूरी जो तुम बनाने जा रहे हो अगर वो दूरी बनेगी तो तुमको समाजवादी पार्टी बचाने नहीं आएगी. भाजपा का शासनकाल है, जो कष्ट तुमको नहीं झेलने पड़े वो कष्ट तुमको उठाने पड़ सकते हैं.’

वीडियो में भाजपा नेता मंच से कह रहे हैं किमैं भीख नहीं मांग रहा हूं..वोट दोगे तो सुखी रहोगे और अगर नहीं दोगे तो जो कष्ट तुम झेलोगे उसका अंदाजा तुमको खुद लग जाएगा’.

रंजीत श्रीवास्तव ने जब ये चेतावनी दी उस वक्‍त सीएम योगी आदित्‍यनाथ कैबिनेट के दो मंत्री दारा सिंह चौहान और रामापति शास्‍त्री भी मंच पर मौजूद थे.

भाजपा नेता रंजीत श्रीवास्तव नवाबगंज नगरपालिका में अध्यक्ष हैं और उन्होंने अपनी पत्नी को चुनाव मैदान में इसलिए उतारा है क्योंकि यह सीट महिलाओं के लिए आरक्षित थी.

एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार श्रीवास्तव स्वयं बात करने के लिए उपलब्ध नहीं थे तो उनके प्रवक्ता ने कहा कि श्रीवास्तव ये कहना चाह रहे थे कि साल 2012 में उनको मुसलमानों का सहयोग नहीं मिला था फिर भी उन्होंने क्षेत्र में विकास का कार्य जारी रखा. अभी भाजपा की सरकार है और ऐसे में अगर कोई गैर भाजपा का उम्मीदवार चुनाव जीतता है तो वह क्षेत्र में कार्य नहीं कर पाएगा.’

संपर्क करने पर भाजपा के बाराबंकी जिला के अध्यक्ष अवधेश श्रीवास्तव ने कहा कि उन्होंने अभी तक इस वीडियो को नहीं देखा है. जब यह बताया गया कि वह उस सार्वजनिक बैठक में भी उपस्थित थे, तो उन्होंने कहा,‘मैंने ऐसी कोई टिप्पणी नहीं सुनी है, लेकिन मैं अब जांच करूंगा.’ बाराबंकी के जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने कहाकि वीडियो की जांच हो रही है

दैनिक भास्कर की ख़बर के अनुसार भाजपा नेता रंजीत श्रीवास्तव ने एक बार फिर इस मामले पर बयान देते हुए कहा कि अगर मुसलमान इसे धमकी समझ रहे हैं तो मैं इसे दो नहीं बल्कि दो हजार बार बोलूंगा. साथ ही उन्होंने कहा कि 67 प्रतिशत हिंदू मुझे चुनाव जितवा देंगे, मुसलमान एहसान करके हमें वोट न दें.

गुरुवार को भाजपा नेता ने कहा कि हमारी पार्टी में मर्द पैदा होते है, एक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मर्द है, एक योगी मर्द है और इस नगर में रंजीत भी एक मर्द है.