भारत

समझ नहीं पा रही कि भारत किस दिशा में जा रहा है: अदिति राव हैदरी

पद्मावती विवाद: शत्रुघ्न सिन्हा ने मोदी, ईरानी और बॉलीवुड से पूछा कि फिल्म पद्मावती पर इतने चुप क्यों हैं?

अभिनेत्री अदिति राव हैदरी और फिल्म पद्मावती का पोस्टर. (फोटो साभार: पीटीआई)

अभिनेत्री अदिति राव हैदरी और फिल्म पद्मावती का पोस्टर. (फोटो साभार: पीटीआई)

मुंबई: फिल्म पद्मावती पर जारी विवाद के बीच बॉलीवुड अभिनेत्री अदिति राव हैदरी ने बुधवार को कहा कि वह समझ नहीं पा रही हैं कि भारत एक देश के तौर पर किस दिशा में जा रहा है.

संजय लीला भंसाली की विवादों में घिरी इस फिल्म में अदिति अलाउद्दीन खिलजी की पत्नी की भूमिका में नज़र आने वाली हैं. उन्होंने उन लोगों पर सवाल उठाया है जो देश में महिलाओं के साथ प्रतिदिन होने वाली हिंसा पर गुस्सा नहीं होते.

अदिति ने ट्विटर पर लिखा, लोगों को उस वक्त गुस्सा क्यों नहीं आता जब महिलाओं का बलात्कार होता है, उन्हें बेचा जाता है, उनसे हिंसा की जाती है, उन्हें भ्रूण में ही मार दिया जाता है. मुझे यह समझ नहीं आता.

मुझे अपने देश से प्यार है, लेकिन मैं अब इसे समझ पाने में असमर्थ हूं. मुझे लगता है कि मेरा देश समझ रहा होगा कि वह क्या बनता जा रहा है. क्या मुझे अपना देश वापस मिल सकता है.

विवादों में घिरी पद्मावती के निर्माताओं ने बीते रविवार को कहा कि उन्होंने संजय लीला भंसाली की इस फिल्म को रिलीज़ करने की प्रस्तावित तारीख़ टाल दी थी.

फिल्म एक दिसंबर को रिलीज़ होने वाली थी. फिल्म में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण रानी पद्मावती के रोल में हैं. उनके अलावा रनवीर सिंह अलाउद्दीन ख़िलजी और शाहिद कपूर राजा रतन सिंह की भूमिका में नज़र आएंगे. अदिति राव हैदरी फिल्म में अलाउद्दीन ख़िलजी की पत्नी की भूमिका में नज़र आएंगी.

पद्मावती पर इतने चुप क्यों हैं मोदी, ईरानी और बॉलीवुड: शत्रुघ्न सिन्हा

नई दिल्ली: अभिनेता और भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने बुधवार को पद्मावती विवाद को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और अहम बॉलीवुड कलाकारों की चुप्पी पर सवाल उठाया है.

उन्होंने अमेरिकी थिंक टैंक प्यू रिसर्च सेंटर के हाल के एक सर्वेक्षण के संदर्भ में ट्विटर पर कहा, ऐसा कैसे है कि हमारी सूचना और प्रसारण मंत्री या हमारे सबसे लोकप्रिय माननीय प्रधानमंत्री इतने खामोश हैं.

पटना साहिब सीट से भाजपा के सांसद सिन्हा ने यह भी पूछा कि अमिताभ बच्चन, शाहरुख़ ख़ान और आमिर ख़ान, संजय लीला भंसाली की फिल्म को लेकर उठे विवाद पर चुप क्यों हैं?

सिन्हा ने ट्वीट किया, अब पद्मावती ज्वलंत विवाद बन चुकी है, लोग पूछ रहे हैं कि अमिताभ बच्चन, बेहद विविधतापूर्ण आमिर ख़ान और सबसे लोकप्रिय शाहरुख़ ख़ान ने कोई बयान क्यों नहीं दिया?

शाहरुख़ ने जहां भंसाली के साथ फिल्म देवदास में काम किया है वहीं बच्चन ने फिल्म ब्लैक में निर्देशक के साथ काम किया है.

फिल्म को लेकर अपनी राय पर सिन्हा ने कहा, मैं तभी बोलता हूं जब मेरे बोलने की ज़रूरत होती है और मैं फिल्म निर्माताओं के साथ ही, संवेदनशीलता तथा महान राजपूतों की वफादारी और शौर्य को ध्यान में रखते हुए बोलूंगा.

पद्मावती को लेकर राजपूत समुदाय और कुछ सियासी संगठनों में गुस्सा है और उन्होंने भंसाली पर तथ्यों को तोड़मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)