भारत

रिश्वतखोरी के मामले में जीएसटी आयुक्त और आठ अन्य गिरफ़्तार

सीबीआई ने कानपुर और दिल्ली में शुक्रवार देर रात चलाए अभियान के तहत गिरफ़्तार किए गए लोगों पर तमाम क्लाइंट से मासिक और त्रैमासिक घूस लेने का आरोप है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: सीबीआई ने घूसखोरी के सिलसिले में कानपुर से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विभाग के एक आयुक्त और उसके स्टाफ तथा ग़ैर सरकारी अधिकारियों समेत आठ अन्य को गिरफ़्तार किया है.

एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई ने कानपुर और दिल्ली में शुक्रवार देर रात चलाए अभियान के तहत सेंट्रल एक्साइज़ कानपुर में आयुक्त के तौर पर तैनात भारतीय राजस्व सेवा के 1986 बैच के अधिकारी संसार चंद समेत महकमे के दो अधीक्षक, एक निजी स्टाफ और पांच ग़ैर सरकारी व्यक्तियों को गिरफ़्तार किया है.

उन्होंने बताया कि ऐसा आरोप है कि आयुक्त ‘आदतन’ अपराधी है और कारोबारियों से मासिक तथा साप्ताहिक आधार पर रिश्वत लेता है. शुक्रवार को भी वह कथित रूप से डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत ले रहा था तभी उसे पकड़ लिया गया.

एक सूत्र ने बताया कि कथित तौर पर रिश्वत देने वाले व्यक्ति को भी हिरासत में ले लिया गया है. सूत्रों ने बताया कि उसकी पत्नी का नाम भी प्राथमिकी में है लेकिन उसे गिरफ़्तार नहीं किया गया है.

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार मामले में सीबीआई ने कानपुर के सर्वोदय नगर से अधीक्षक अजय श्रीवास्तव, अधीक्षक अमन शाह, अधीक्षक राजीव सिंह चंदेल, अमित अवस्थी, नई दिल्ली में रोहिणी निवासी अमन जैन, पंजाबी बाग निवासी चंद्र प्रकाश के साथ ही दिल्ली की डिफेंस कालोनी निवासी संसार चंद्र की पत्नी को भी आरोपी बनाया है.

संसार चंद्र कानपुर में गुजैनी स्थित कस्टम कॉलोनी में रहते हैं. सीबीआई की टीम ने उन्हें फ़ैज़ाबाद से हिरासत में लिया है. अन्य सभी को दिल्ली से गिरफ़्तार किया गया है.

जीएसटी से जुड़ा अभी तक का यह अलग मामला है, जिसमें उच्च अधिकारी की गिरफ्तारी भी की गई. इन पर तमाम क्लाइंट से मासिक और त्रैमासिक घूस लेने का भी आरोप है.

रिपोर्ट के अनुसार, सीबीआई ने तीन कंपनियों शिशु सॉप एंड केमिकल्स प्राइवेट लिमिटेड, सर पान मसाला और मैसर्स रिमझिम इस्पात लिमिटेड की पहचान की है, जिनसे जीएसटी अधिकारियों ने विभाग से जुड़े मामलों में अवैध वसूली की.

सीबीआई ने इस संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 120(बी) और भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की धारा 7, 11, 12 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है. सीबीआई की टीमों ने कानपुर में विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments