भारत

मध्य प्रदेश: हॉस्टल में गंदा सैनिटरी नैपकिन मिलने पर छात्राओं के कपड़े उतरवा कर ली तलाशी

सागर के डॉ. हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय में 40 छात्राओं के साथ हुई इस घटना पर छात्राओं ने रोष जताया. विश्वविद्यालय के कुलपति ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए माफ़ी मांगी है.

(फोटो साभार: ट्विटर/एएनआई)

(फोटो साभार: ट्विटर/एएनआई)

सागर: मध्य प्रदेश के सागर में डॉ. हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय के एक हॉस्टल में रहने वाली लगभग 40 छात्राओं ने हॉस्टल वार्डन पर कपड़े उतरवाकर चेकिंग करने का आरोप लगाया है.

समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक, वार्डन के इस कृत्य के पीछे यूनिवर्सिटी के हॉस्टल परिसर में इस्‍तेमाल किए गए सैनिटरी नैपकिन पड़े मिलना वजह बताई जा रही है, जिसके बाद हॉस्‍टल वार्डन ने 40 लड़कियों के कपड़े उतरवाकर तलाशी ली.

वहीं, पूरे मामले को विश्वविद्यालय ने दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय बताया है. विश्वविद्यालय के कुलपति आरपी तिवारी ने पूरे मसले पर कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है. मैंने छात्राओं को बताया है कि वे सभी मेरी बेटी की तरह हैं और मैं उनसे माफी मांगता हूं. मैंने उन्हें इस मामले में कार्रवाई करने का विश्वास भी दिलाया है. अगर वार्डन को दोषी पाया जाता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई जरूर की जाएगी.’