भारत

फ़ेक न्यूज़ फैलाने का आरोप लगाते हुए प्रशांत भूषण ने मधु किश्वर के ख़िलाफ़ केस दर्ज ​कराया

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया है कि सांप्रदायिक नफ़रत और हिंसा भड़काने वाले ट्वीट करने पर मधु किश्वर के ख़िलाफ़ आपराधिक शिकायत दर्ज कराई है. उनके झूठ के पर्दाफ़ाश करने का वक़्त आ गया है.

मधु किश्वर और प्रशांत भूषण (फोटो साभार: फेसबुक/रॉयटर्स)

मधु किश्वर और प्रशांत भूषण (फोटो साभार: फेसबुक/रॉयटर्स)

नई दिल्ली: वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने एक्टिविस्ट और लेखिका मधु किश्वर के खिलाफ झूठी सूचनाएं ट्वीट करने को लेकर आपराधिक शिकायत दर्ज कराई है. प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है.

उनके अनुसार मधु किश्वर अपने ट्विटर हैंडल से झूठी और भ्रामक जानकारी प्रसारित करती हैं. प्रशांत भूषण ने ट्वीट में बताया है कि लगातार फेक न्यूज फैलाने, सांप्रदायिक नफरत और हिंसा भड़काने वाले ट्वीट करने पर मधु किश्वर के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 ए, 295 ए और 505 के तहत आपराधिक शिकायत दर्ज कराई है.

अपने वेरीफाइड ट्विटर हैंडल @pbhushan1 से यह जानकारी ट्वीट करते हुए प्रशांत भूषण ने लिखा, ‘उनके झूठ के पर्दाफाश करने का वक्त आ गया है.’

अपनी शिकायत में प्रशांत भूषण ने कहा है कि मधु किश्वर के ट्वीट्स सांप्रदायिक नफरत उकसाने और सार्वजनिक शांति को भंग करने वाले हैं. उन्होंने 14 अप्रैल को कठुआ रेप और मर्डर मामले को लेकर मधु किश्वर के वेरीफाइड हैंडल @madhukishwar से किए गए एक ट्वीट का जिक्र भी शिकायत में किया है.

गौरतलब है कि मधु किश्वर इससे पहले भी कई बार अपने विवादित ट्वीट को लेकर चर्चा में रही हैं. अभी कुछ दिन पहले ही पद्मावत विवाद के समय मधु किश्वर ने एक ट्वीट किया था जिसमे गुरुग्राम में हुई हिंसा के लिए एक खास समुदाय के लोगों के पकड़े जाने की बात थी. लेकिन यह खबर फर्जी निकली और उन्होंने माफी मांगी.

इससे पहले उन्होंने कश्मीर के मीडिया पर कुछ ट्वीट किए थे, जिस पर कश्मीर के एक अखबार के प्रधान संपादक सईद शुजात बुखारी ने उनके खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराया था.

Comments