कैंपस

भारत-पाक तनाव पर पोस्ट करने वाले प्रोफेसर से भाजपा कार्यकर्ताओं ने घुटने टेक मंगवाई माफी

कर्नाटक के वाचना पितामह डॉ. पीजी हलकट्टी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलोजी के प्रोफेसर संदीप वथार ने फेसबुक पोस्ट में भारत-पाकिस्तान तनाव को लेकर भाजपा सरकार की आलोचना की थी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की सराहना की थी.

Dr.P.G.Halakatti College of Engineering and Technology-Bijapur

डॉ पीजी हलकट्टी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (फोटोः विकिपीडिया)

नई दिल्लीः कर्नाटक के विजयपुरा जिले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) और भाजपा के कार्यकर्ताओं ने इंजीनियरिंग कॉलेज के एक प्रोफेसर को उनकी फेसबुक पोस्ट को हटाने पर मजबूर किया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, वाचना पितामह डॉ पीजी हलकट्टी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलोजी के प्रोफेसर संदीप वाथर ने फेसबुक पोस्ट में  भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध जैसी स्थिति उत्पन्न करने के लिए केंद्र की भाजपा सरकार की आलोचना की थी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के रुख की सराहना की थी.

इस पर एबीवीपी और भाजपा के कार्यकर्ताओं ने प्रोफेसर को घुटनों के बल झुकाकर माफी मंगवाई. एबीवीपी और भाजपा के कार्यकर्ताओं ने प्रोफेसर के निलंबन की भी मांग की है.

यह संस्थान बीजापुर लिंगायत डेवलपमेंट एजुकेशन सोसाइटी द्वारा संचालित होता है, जो कर्नाटक के गृहमंत्री और कांग्रेस नेता एमबी पाटिल का है.

कॉलेज के प्रिंसिपल प्रोफेसर वीपी हग्गी ने कहा कि वथार को अभी निलंबित नहीं किया गया है. मंगलवार को कॉलेज खुलने पर इस संबंध में उन्हें आदेश जारी किया जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘प्रोफेसर ने अपना फोन बंद कर दिया है और वह फिलहाल कहां है, इसकी कोई जानकारी नहीं है. हम मंगलवार को आदेश जारी करेंगे.’

वथार ने दो अलग-अलग फेसबुक पोस्ट में पाकिस्तान के साथ भारत के तनाव को लेकर भाजपा और दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं पर निशाना साधा था.

उन्होंने फेसबुक पोस्ट में कहा था, ‘इस पूरे मामले में कौन अधिक समझदार नजर आ रहा है? भक्तों तुम? अगर यह तनाव बढ़ता है तो लाखों लोगों की जिंदगियों को बर्बाद करने का कारण तुम्हीं बनोगे. भाजपा यकीनन बेशर्म हो गई है.’

भाजपा के प्रवक्ता विवेक रेड्डी ने कहा, ‘यह देश की एकता को तोड़ने और दुश्मन देश की सरहाना करने का प्रयास है.’