भारत

गूगल के विज्ञापनों पर सबसे अधिक ख़र्च करने वाली राजनीतिक पार्टी है भाजपा

‘भारतीय पारदर्शिता रिपोर्ट’ के अनुसार राजनीतिक दलों ने फरवरी 2019 तक विज्ञापनों पर 3.76 करोड़ रुपये ख़र्च किए हैं. भाजपा विज्ञापनों पर 1.21 करोड़ रुपये ख़र्च करने के साथ ही इस सूची में शीर्ष पर है.

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

(फाइल फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: गूगल में विज्ञापनों पर खर्च करने के मामले में भाजपा ने सभी राजनीतिक दलों को पीछे छोड़ दिया है वहीं विज्ञापनों पर खर्च करने के मामले में कांग्रेस छठे नंबर पर है.

‘भारतीय पारदर्शिता रिपोर्ट’ के अनुसार राजनीतिक दलों और उनसे संबंद्ध घटकों ने फरवरी 2019 तक विज्ञापनों पर 3.76 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

भारतीय जनता पार्टी विज्ञापनों पर 1.21 करोड़ रुपये खर्च करने के साथ ही इस सूची में शीर्ष पर है, जो कि गूगल पर कुल विज्ञापन खर्चों का लगभग 32 प्रतिशत है.

प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस इस सूची में छठे नंबर पर है, जिसने विज्ञापनों पर 54,100 रुपये खर्च किए हैं. रिपोर्ट के अनुसार भाजपा के बाद इस सूची में आंध्र प्रदेश की जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस पार्टी है जिसने विज्ञापनों पर कुल 1.04 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

‘पम्मी साई चरण रेड्डी’ (प्रचारक) ने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवारों के प्रचार के लिए 26,400 रुपये खर्च किए हैं.

ये भी पढ़ें: भाजपा समर्थक फेसबुक पेजों ने दो हफ्ते में प्रचार पर ख़र्च किए डेढ़ करोड़ रुपये- रिपोर्ट

रिपोर्ट में कहा गया कि तेलुगू देसम पार्टी (टीडीपी) और उसके प्रमुख चंद्र बाबू नायडू का प्रचार करने वाली ‘प्रमाण्य स्ट्रेटजी कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड’ 85.25 लाख रुपये खर्च करने के साथ इस सूची में तीसरे नंबर पर है.

नायडू का प्रचार करने वाली एक अन्य पार्टी ‘डिजिटल कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड’ 63.43 लाख रुपये का खर्च कर चौथे नंबर पर है. इस तरह टीडीपी के प्रचार के लिए दोनों कंसल्टेंसी फर्म ने कुल मिलाकर 1.48 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. इस तरह से देखने पर पता चलता है कि गूगल पर टीडीपी के विज्ञापन के लिए सर्वाधिक राशि खर्च की गई है.

हालांकि बतौर राजनीतिक पार्टी भाजपा ने सबसे ज्यादा राशि खर्च की है. मालूम हो कि गूगल ने अपनी विज्ञापन नीति के उल्लंघन के कारण 11 में से चार राजनीतिक विज्ञापनदाताओं के विज्ञापन को ब्लॉक कर दिया है.

इससे पहले रिपोर्ट आई थी कि भाजपा समर्थक फेसबुक पेजों ने दो हफ्ते में प्रचार पर डेढ़ करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

फैक्ट चेक वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ के ‘फेसबुक वीकली एड लाइब्रेरी डेटा’ के रिपोर्ट के मुताबिक दो सप्ताह के भीतर विज्ञापनों पर निवेश करने में शीर्ष 20 फेसबुक पेजों का योगदान 1.9 करोड़ रुपये से ज्यादा का है. इसमें भी भाजपा समर्थक पेजों ने ही 1.5 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)