भारत

उत्तर प्रदेशः कानपुर में ‘जय श्री राम’ नहीं कहने पर 16 साल के मुस्लिम बच्चे को पीटा

यह घटना कानपुर के बर्रा इलाके की है. मुस्लिम किशोर का आरोप है कि 28 जून को मस्जिद से नमाज़ पढ़ कर लौटने के दौरान तीन से चार बाइक सवारों ने उसके टोपी पहने होने का विरोध करते हुए मारपीट की. इसके साथ ही दोबारा टोपी पहनकर इलाके में नहीं आने की भी धमकी भी दी गई.

(फोटो: गूगल मैप)

(फोटो: गूगल मैप)

कानपुरः  उत्तर प्रदेश के कानपुर में ‘जय श्री राम’ नहीं कहने पर एक मुस्लिम किशोर के साथ मारपीट की घटना सामने आई है. यह घटना कानपुर के बर्रा इलाके में हुई.

मुस्लिम किशोर का आरोप है कि ऐसा उसके साथ पारंपरिक टोपी पहने होने के कारण हुआ.

आरोप है कि बर्रा के रहने वाले 16 साल के ताज शुक्रवार को किदवई नगर की मस्जिद से नमाज पढ़ कर लौट रहे थे कि तभी तीन से चार बाइक सवारों ने उसे रोक लिया और उसके टोपी पहने होने का विरोध किया.

बर्रा पुलिस चौकी प्रभारी सतीश कुमार सिंह के अनुसार, बाइक सवार युवकों ने ताज को ‘जय श्री राम’ कहने को कहा, जब उसने कहने से इनकार कर दिया तो उसकी पिटाई कर दी गई.

चौकी प्रभारी ने बताया, ‘इसके बारे में हमें लिखित शिकायत मिली है और मामले की एफआईआर दर्ज कर ली गई है. ताज का मेडिकल परीक्षण भी कराया गया है. आरोपियों की पहचान कर उनकी तलाश की जा रही है.’

ताज ने आरोप लगाया कि उसके साथ मारपीट करने वालों ने यह धमकी दी थी कि इस इलाके में आगे से सिर पर टोपी पहनकर नहीं आना.

उसने आरोप लगाया कि उन्होंने मेरी टोपी उतार दी और जय श्री राम कहने को कहा. ताज ने बताया कि मारपीट होने पर वह जब चिल्लाया तो राहगीरों ने उसे बचाया.

गौरतलब है कि बीते दिनों झारखंड के धतकिडीज गांव में बाइक चुराने के शक में तबरेज अंसारी (22) को बुरी तरह से पीटा गया था, जिसके बाद उसने 23 जून को अस्पातल में दम तोड़ दिया था.

यह मामला एक वीडियो के वायरल होने के बाद सामने आया था, जिसमें आरोपी पंकज मंडल पेड़ से बंधे तबरेज अंसारी को पीटते हुए दिख रहा था. तबरेज को भी ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने को कहा गया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)