भारत

मोदी जी आप भारत के प्रधानमंत्री हैं, अमेरिकी चुनाव में स्टार प्रचारक नहीं: कांग्रेस

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पक्ष में प्रचार कर’ दूसरे देशों के चुनावों में दखल नहीं देने की भारतीय विदेश नीति के स्थापित सिद्धांत का उल्लंघन किया है.

ह्यूस्टन में आयोजित हाउडी मोदी कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

ह्यूस्टन में आयोजित हाउडी मोदी कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: कांग्रेस ने सोमवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पक्ष में प्रचार कर’ दूसरे देशों के चुनावों में दखल नहीं देने के भारतीय विदेश नीति के स्थापित सिद्धांत का उल्लंघन किया है.

पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने यह दावा भी किया कि यह भारत के दीर्घकालिक कूटनीतिक हितों के लिए बड़ा झटका है.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘आपको (मोदी) याद दिलाना चाहता हूं कि आप अमेरिकी चुनाव में स्टार प्रचारक की तरह नहीं, बल्कि भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर अमेरिका गए हैं.’

शर्मा ने कहा, ‘प्रधानमंत्री जी, आपने दूसरे देशों के आंतरिक चुनावों में दख़ल न देने के भारतीय विदेश नीति के स्थापित सिद्धांत का उल्लंघन किया है. यह भारत के दीर्घकालिक कूटनीति हितों के लिए बहुत बड़ा झटका है.’

उन्होंने यह भी कहा, ‘अमेरिका के साथ हमारा रिश्ता हमेशा से दोनों पार्टियों (रिपब्लिकन और डेमोक्रेट) को लेकर एक जैसा रहा है. आपका खुलकर ट्रंप के लिए प्रचार करना भारत और अमेरिका जैसे संप्रभु और लोकतांत्रिक देशों में दरार पैदा करने वाला है.’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में डोनाल्ड ट्रंप को 2020 में पुन: निर्वाचित करने के लिए रविवार को लोगों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा ‘अबकी बार, ट्रंप सरकार’.

बता दें कि, अमेरिका में साल 2016 के चुनाव में ‘अबकी बार मोदी सरकार’ की तर्ज पर डोनाल्ड ट्रंप ने ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ का नारा दिया था. इस नारे के पीछे अमेरिका में बसे भारतीय समुदाय को लुभाने की कोशिश थी और इसका फायदा भी ट्रंप को मिला था.

वहीं, आईएनएक्स मीडिया मामले में न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने ट्वीट कर हाउडी मोदी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के उस हिस्से पर तीखी टिप्पणी की जिसमें मोदी ने देश में सब कुछ ठीक बताया था.

दरअसल मोदी ने कहा था, ‘इस कार्यक्रम का नाम हाउडी मोदी है लेकिन मोदी अकेले कुछ नहीं है. मैं 130 करोड़ भारतीयों के आदेश पर काम करने वाला एक साधारण व्यक्ति हूं. आपने पूछा है ‘हाउडी मोदी” तो जवाब है- भारत में सब अच्छा है, सब चंगा सी’

चिदंबरम ने कहा, ‘बेरोजगारी, कम वेतन, भीड़ हिंसा, कश्मीर में तालाबंदी, मौजूदा नौकरियों के खत्म होने और विपक्षी नेताओं को जेल में डालने के अलावा भारत में सब अच्छा है.’

इसके साथ ही कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के नेता और डेमोक्रेट सांसद स्टेनी हॉयर की राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की तारीफ वाली टिप्पणी को लेकर प्रधानमंत्री को घेरा.

‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम के दौरान अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के नेता स्टेनी हॉयर ने कहा, ‘अमरीका की तरह भारत भी अपनी परंपराओं पर गर्व करता है. जिससे वह अपने भविष्य को गांधी की शिक्षा और नेहरू की उस सोच जिसमें भारत को धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र बनाने की बात है, उसका बचाव कर सके, जहां प्रत्येक व्यक्ति और उसके मानवाधिकारों का सम्मान किया जाएगा.’

इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘भारतीय आजादी के जनक महात्मा गांधी, जिनकी 150वीं जयंती हम 2 अक्टूबर को मनाएंगे. उन्होंने एक बार लोकतंत्र को इस तरह परिभाषित किया था, ‘कुछ ऐसा, जिससे कमजोर को भी ताकतवर के बराबर मौका मिले.’

इस पर जयराम रमेश ने कहा, ‘मुझे याद है जब लालकृष्ण आडवाणी ने कुछ साल पहले न्यूयॉर्क में भाषण दिया था. वाजपेयी की नेहरू को दी गई श्रद्धांजलि एक मास्टरपीस था. जाने कहां गए वो दिन… मुझे खुशी है कि पीएम मोदी को ह्यूस्टन में हाउस मेजॉरिटी लीडर ने नेहरू के योगदान की याद दिलाई.’

वहीं, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘पीएम मोदी के लिए हॉयर का वक्‍तव्‍य बिल्कुल अप्रत्याशित था. नेहरू और महात्‍मा गांधी की उपलब्धियों का जिक्र होते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाव-भाव देखने लायक थे.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)