राजनीति

Live Results: बहुमत के करीब भाजपा-शिवसेना, उद्धव ने कहा- 50-50 फॉर्मूला से होगा सीएम का फैसला

भाजपा-शिवसेना की सत्ता में वापसी तय. सीएम के नाम को लेकर को लेकर अब तक कोई ऐलान नहीं.

Maharastra Assembly Election Collage PTI FB

मुंबई: महाराष्ट्र वोटों की गिनती जारी है. जहां भाजपा-शिवसेना राज्य की कुल 288 सीटों में से 153 सीटों पर आगे है, वहीं एनसीपी और कांग्रेस 105 सीटों पर बढ़त बनाए हुई है.

चुनाव आयोग के मुताबिक भाजपा ने अब तक 52 सीटों पर जीत दर्ज कर ली है, जबकि 50 सीटों पर आगे चल रही है. इसी तरह शिवसेना ने 39 सीटों पर जीत हासिल की है और 17 पर आगे चल रही है.

कांग्रेस की बात करें तो पार्टी को 24 सीटों पर जीत मिली है और 22 सीटों पर आगे चल रही है. इसी तरह एनसीपी ने 32 सीटों पर जीत हासिल की है और 26 सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं.

यह लगभग तय है कि भाजपा और शिवसेना की सत्ता में वापसी होगी. हालांकि सीएम के नाम को लेकर को लेकर अब तक किसी भी दल ने कुछ नहीं कहा है.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने इस बारे में कहा है कि इस बात का फैसला 50-50 के फार्मूला से होगा. उन्होंने कहा, ’50-50 फार्मूला का निर्णय हुआ था. इस पर चर्चा होनी चाहिए और फैसला लिया जाना चाहिए कि कौन मुख्यमंत्री बनेगा.’

राज्य में 288 विधानसभा क्षेत्र हैं और बहुमत का आंकड़ा 145 है. महाराष्ट्र में 235 महिलाओं सहित 3,237 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

Made with Flourish

सोमवार को हुए मतदान में कुल 60.46 फीसदी वोट पड़े थे. वर्ष 2014 में हुए विधानसभा चुनावों में राज्य में 63.38 फीसदी मतदान हुआ था.

कोल्हापुर के करवीर विधानसभा क्षेत्र में सर्वाधिक मतदान हुआ था, जहां 83.20 फीसदी वोट पड़े, वहीं सबसे कम वोट दक्षिण मुंबई के कोलाबा इलाके में 40.20 फीसदी हुआ.

एक्जिट पोल में भाजपा-शिवसेना गठबंधन के आसानी से सत्ता हासिल करने की संभावना प्रकट की गयी थी.

राज्य में भाजपा ने 164 सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए हैं, जिसमें छोटे सहयोगी दल भी हैं, जो पार्टी के चुनाव चिह्न कमल के तहत चुनाव लड़ रहे हैं. सहयोगी शिवसेना 124 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

दूसरी ओर, कांग्रेस ने 147 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं जबकि सहयोगी राकांपा ने 121 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं.

अन्य दलों में राज ठाकरे की अगुवाई वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने 101 प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे हैं. चुनाव में 1,400 निर्दलीय उम्मीदवार भी ताल ठोक रहे हैं.

2014 के विधानसभा चुनावों में भाजपा ने 122 सीटें, शिवसेना ने 63, कांग्रेस ने 42 और राकांपा ने 41 सीटें जीतीं थी.

दो विधायकों कृष्ण घोड़ा (पालघर) और बाला सावंत (बांद्रा-पूर्व) के निधन के कारण बाद में दो उपचुनाव हुए थे. शिवसेना ने दोनों सीटों पर अपनी जीत बरकरार रखी थी.

सोमवार को राज्य की सतारा लोकसभा क्षेत्र का भी उपचुनाव हुआ, यहां पर 67.15 प्रतिशत मतदान हुआ है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)