भारत

उत्तर प्रदेश: कथित तौर पर आर्थिक तंगी से परेशान किसान ने फांसी लगाई

उत्तर प्रदेश के फ़तेहपुर ज़िले का मामला. परिजनों के मुताबिक किसान पर बैंक का 70 हजार रुपये क़र्ज़ था और वह आर्थिक तंगी से परेशान थे.

(प्रतीकात्मक फोटो साभार: विकिपीडिया)

(प्रतीकात्मक फोटो साभार: विकिपीडिया)

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में ललौली थाना क्षेत्र के खटौली गांव में आर्थिक तंगी से परेशान एक किसान ने कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

ललौली थाना प्रभारी संदीप तिवारी ने बताया कि खटौली गांव में किसान कुलदीप तिवारी (35) ने सोमवार को अपने घर पर छत में लगे पंखे के हुक से रस्सी बांध फांसी लगा आत्महत्या कर ली.

ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम करवाया है. मृतक के भाई विपिन के हवाले से उन्होंने बताया कि कुलदीप के ऊपर बड़ौदा ग्रामीण बैंक का 70 हजार रुपये कर्ज था. इससे उन्होंने खाद खरीदा था, जिसका 17 जनवरी को फसल में छिड़काव किया था.

अमर उजाला के मुताबिक मृतक के भाई विपिन ने बताया कि बड़ौदा ग्रामीण बैंक से बड़े भाई के नाम पर किसान क्रेडिट कार्ड बनी थी. जिसका करीब 70 हजार रुपये बकाया था. बैंक से बकाया रकम जमा करने का दबाव बनाया जा रहा था.

उन्होंने बताया कि पारिवारिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से भाई बकाया जमा नहीं कर पा रहा था. आर्थिक परेशानी की वजह से वह परेशान था. इसी कारण आत्मघाती कदम उठाया.

थानेदार संदीप तिवारी ने बताया कि पुलिस की पड़ताल में आर्थिक तंगहाली ही आत्महत्या की वजह बनकर सामने आई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.

पुलिस ने घटना की सूचना राजस्व अधिकारियों को दे दी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)