भारत

2021 में अब तक महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराधों की शिकायतें 46 प्रतिशत बढ़ीं: राष्ट्रीय महिला आयोग

राष्ट्रीय महिला आयोग ने कहा है कि साल 2021 के गत आठ महीनों में महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध की 19,953 शिकायतें मिलीं, जिनमें सर्वाधिक 10,084 उत्तर प्रदेश से आईं. इसके बाद दिल्ली से 2,147, हरियाणा से 995 और महाराष्ट्र से 974 शिकायतें मिलीं.

(फोटोः पीटीआई)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय महिला आयोग ने कहा है कि साल 2021 के गत आठ महीनों में महिलाओं के खिलाफ अपराध की शिकायतों में 46 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और इनमें से आधे से अधिक शिकायतें उत्तर प्रदेश से आई हैं.

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा का कहना है कि शिकायतें बढ़ रही हैं क्योंकि आयोग नियमित रूप से जागरूकता अभियान चला रहा है और अब लोग इसके काम के बारे में ज्यादा जागरूक हो गए हैं.

आयोग के अनुसार, उसे जनवरी से अगस्त के बीच महिलाओं के खिलाफ अपराध की 19,953 शिकायतें मिलीं जबकि पिछले साल इसकी अवधि में इन शिकायतों की संख्या 13,618 थी.

महिला आयोग ने बताया कि जुलाई महीने में 3,248 शिकायतें आईं, जो जून, 2015 के बाद किसी एक महीने में आईं सर्वाधिक शिकायतें थीं.

उसके मुताबिक, इस साल आठ महीनों में जो शिकायतें आईं उनमें 7,036 शिकायतें गरिमामयी जीवन जीने के अधिकार के प्रावधान के तहत दर्ज की गईं, जबकि 4,289 शिकायतें घरेलू हिंसा और 2,923 शिकायतें विवाह के बाद महिलाओं के उत्पीड़न या दहेज संबंधी उत्पीड़न की थीं.

आयोग का कहना है कि उत्तर प्रदेश से सबसे अधिक 10,084 शिकायतें आईं. इसके बाद दिल्ली से 2,147, हरियाणा से 995 और महाराष्ट्र से 974 शिकायतें मिलीं.

इन आंकड़ों के बारे में पूछे जाने पर रेखा शर्मा ने कहा कि शिकायतों की संख्या में बढ़ोतरी की वजह अपराधों को रिपोर्ट करने को लेकर महिलाओं में जागरूक ता का बढ़ना है.

गैर सरकारी संगठन ‘आकांक्षा फाउंडेशन’ की संस्थापक आकांक्षा श्रीवास्तव का कहना है कि अब महिलाएं मदद मांगने के लिए आगे आ रही हैं और यही वजह है कि शिकायतों की संख्या बढ़ रही है.

मालूम हो कि बीते मार्च महीने में राष्ट्रीय महिला आयोग ने कहा था कि लॉकडाउन के दौरान घरेलू हिंसा में हुई बढ़ोतरी जारी है.

आयोग ने कहा था कि लॉकडाउन ख़त्म होने के एक साल बाद भी आयोग को हर महीने महिलाओं के विरुद्ध अपराध की दो हज़ार से अधिक शिकायतें मिल रही हैं, जिनमें से लगभग एक चौथाई घरेलू हिंसा से संबंधित हैं.

राष्ट्रीय महिला आयोग को वर्ष 2019 में आयोग को घरेलू हिंसा से संबंधित 2,960 शिकायतें मिली थीं, जबकि 2020 में 5,297 शिकायतें प्राप्त हुई हैं.

आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2019 में आयोग को महिलाओं के विरुद्ध किए गए अपराध की कुल 19,730 शिकायतें मिलीं, जबकि 2020 में यह संख्या 23,722 पर पहुंच गई.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)