भारत

उत्तर प्रदेश: शादी की रस्म के दौरान कुएं में गिरने से 13 लड़कियों और महिलाओं की मौत

मामला कुशीनगर ज़िले के नेबुआ नौरंगिया क्षेत्र का है. ज़िलाधिकारी ने बताया कि बुधवार रात करीब 10 बजे परमेश्वर कुशवाहा नामक व्यक्ति के घर में शादी के लिए हल्दी की रस्म हो रही थी और कुछ महिलाएं एवं लड़कियां कुएं के ऊपर लगे स्लैब पर बैठकर रस्म अदा कर रही थीं. इस दौरान वह स्लैब टूट गया और उस पर बैठे सभी लोग कुएं में जा गिरे.

कुशीनगर जिले में शादी की रस्म के दौरान कुएं में गिरने से 13 लड़कियों एवं महिलाओं की मौत हो गई. (फोटो साभार: एएनआई)

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के नेबुआ नौरंगिया क्षेत्र में शादी की रस्म के दौरान कुएं में गिरने से 13 लड़कियों एवं महिलाओं की मौत हो गई.

जिलाधिकारी एस. राजलिंगम ने बृहस्पतिवार को बताया कि नेबुआ नौरंगिया थाना क्षेत्र के नौरंगिया टोला में बुधवार रात करीब 10 बजे परमेश्वर कुशवाहा नामक व्यक्ति के घर में शादी के लिए हल्दी की रस्म हो रही थी. कुछ महिलाएं एवं लड़कियां कुएं के ऊपर लगे स्लैब पर बैठकर रस्म अदा कर रही थीं. इस दौरान वह स्लैब टूट गया और उस पर बैठे सभी लोग कुए में जा गिरे.

अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक इस घटना में कुल 13 लोगों की मौत हुई है. इनमें पूजा (19), शशि कला (15), शकुंतला (35), ममता देवी (35), मीरा (25), पूजा (20), परी (एक), ज्योति (15), राधिका (16), सुंदरी (15), आरती (10), पप्पी (20) और मनु (18) शामिल हैं.

जिलाधिकारी ने बताया कि इस हादसे में करीब 10 अन्य लोग जख्मी भी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है, मृतकों के परिजन को चार-चार लाख रुपये की सहायता दी जाएगी.

उन्होंने बताया कि शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे गए हैं. मामले की जांच की जा रही है.

अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक, गुस्साए ग्रामीणों ने गुरुवार सुबह नेशनल हाईवे 28बी को बंद कर चक्काजाम कर दिया. ग्रामीण व परिजन समय पर एंबुलेंस नहीं आने और डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाकर मुआवजे की मांग करने लगे.

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि हादसे के बाद लोगों ने एंबुलेंस को फोन मिलाया, लेकिन एंबुलेंस जल्दी नहीं आई. घटना स्थल पर एंबुलेंस को आने में दो घंटे से अधिक का समय लग गया. इस दौरान 13 लोगों की मौत हो गई.

एक घंटे बाद सांसद विजय कुमार दुबे व ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि शेषनाथ यादव ने परिजनों को समझा-बुझाकर लोगों का गुस्सा शांत करवाकर जाम को खत्म करवाया.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया है.

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने अधिकारियों को हादसे में घायल लोगों के समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं.

योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, ‘जनपद कुशीनगर के ग्राम नौरंगिया स्कूल टोला की एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में हुई ग्रामवासियों की मृत्यु अत्यंत दुखद है. मेरी संवेदनाएं मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं. प्रभु श्रीराम से घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना है.’

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में लोगों की मौत पर बृहस्पतिवार को शोक जताया और इसे हृदयविदारक बताया.

मोदी ने ट्वीट किया, ‘उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुआ हादसा हृदयविदारक है. इसमें जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं. इसके साथ ही घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. स्थानीय प्रशासन हर संभव मदद में जुटा है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)