भारत

कॉमेडियन भारती सिंह की ‘दाढ़ी-मूंछ’ वाली टिप्पणी पर विवाद, अल्पसंख्यक आयोग ने रिपोर्ट मांगी

हाल ही में एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें कॉमेडियन भारती सिंह ने ‘दाढ़ी-मूंछ’ से संबंधित एक टिप्पणी की थी. इसे लेकर पंजाब के जालंधर में उनके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज कराई गई है. अल्पसंख्यक आयोग ने महाराष्ट्र एवं पंजाब प्रशासन से इस संबंध में रिपोर्ट तलब की है. आयोग का कहना है कि भारती की टिप्पणी से सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं.

कॉमेडियन भारती सिंह. (फोटो: फेसबुक)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने कॉमेडियन भारती सिंह की एक टिप्पणी से जुड़े विवाद के मामले में महाराष्ट्र एवं पंजाब प्रशासन से रिपोर्ट तलब की है.

आयोग का कहना है कि भारती की टिप्पणी से सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं.

अल्पसंख्यक आयोग की ओर से जारी बयान के मुताबिक, आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने महाराष्ट्र और पंजाब के मुख्य सचिवों से रिपोर्ट मांगी है तथा इन रिपोर्ट के आधार पर ही आगे कदम उठाया जाएगा.

खबरों के मुताबिक, हाल ही में एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें भारती सिंह ने ‘दाढ़ी-मूंछ’ से संबंधित एक टिप्पणी की थी. इसको लेकर पंजाब के जालंधर में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है.

विवाद खड़ा होने के बाद भारती ने माफी मांग ली थी. उनका यह भी कहना था कि उन्होंने किसी जाति या धर्म का उल्लेख नहीं किया था और उनका मकसद किसी की भावनाएं आहत करना नहीं था.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने एक बयान में कहा कि उसे भारती सिंह के खिलाफ टेलीविजन पर ‘दाढ़ी और मूंछ’ पर उनके मजाक के बारे में शिकायत मिली है.

आयोग ने कहा, ‘चूंकि इससे भारत और विदेशों में सिखों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है, इसलिए राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने पंजाब और महाराष्ट्र के मुख्य सचिवों से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है.’

आयोग ने कहा कि वह रिपोर्ट के आधार पर उचित समझे जाने पर कार्रवाई करेगी.

ई-टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कॉमेडियन के खिलाफ जालंधर के आदमपुर पुलिस स्टेशन में पिछले हफ्ते एक एफआईआर दर्ज कराई गई. रविदास टाइगर फोर्स नामक संगठन के प्रमुख जस्सी तल्लन की शिकायत पर यह मामला दर्ज किया गया था.

एफआईआर के मुताबिक, भारती सिंह पर एक पुराने वीडियो में सिख लोगों की मूंछों और दाढ़ी का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया गया है. उन पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 295ए (धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से जान-बूझकर और दुर्भावनापूर्ण कार्य) के तहत आरोप लगाया गया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले हफ्ते साझा किए गए एक वायरल वीडियो में भारती सिंह अभिनेता जैसमिन भसीन से बात करती हुई दिखाई दे रही है, जब भसीन ओटीटी प्लेटफॉर्म ‘शेमारूमी’ पर उनकी कॉमेडी शृंखला ‘भारती का शो’ में दिखाई थी.

वीडियो में वो कहती नजर आ रही हैं, ‘दाढ़ी-मूंछ क्यूं नहीं चाहिए. दाढ़ी-मूंछ के बड़े फायदे होते हैं. दूध पियो, ऐसे दाढ़ी मुंह में डालो, सेवइयों का स्वाद आता है. मेरे काफी दोस्तों लोगो की शादी हुई है, जिनकी इतनी-इतनी दाढ़ी है, सारा दिन दाढ़ी से जुएं निकलती रहती हैं.’

बीते 16 मई को भारती ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने बताया कि लोगों ने उन्हें गलत समझा, क्योंकि उसके इरादे नेक थे.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bharti Singh (@bharti.laughterqueen)

वे कहती हैं, ‘एक वीडियो है जो पिछले 3 से 4 दिनों से वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि मैंने ‘दाढ़ी-मूंछ’ का मजाक उड़ाया है. मैंने वीडियो को बार-बार देखा है और लोगों से इसे भी देखने का अनुरोध किया है, क्योंकि मैंने किसी धर्म के खिलाफ कुछ नहीं कहा है या मैंने किसी पंजाबी का मजाक नहीं उड़ाया या जब आप ‘दाढ़ी-मूंछ’ रखते हैं तो क्या परेशानी होती है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने इसमें किसी धर्म या जाति का उल्लेख नहीं किया है. मैं अपने दोस्त के साथ कॉमेडी कर रही थी. आजकल बहुत सारे लोग दाढ़ी और मूंछ रखते हैं, लेकिन अगर किसी भी धर्म या जाति के लोगों को मेरी टिप्पणियों से चोट लगी है, मैं उनसे हाथ जोड़कर माफी मांगती हूं. मैं खुद एक पंजाबी हूं, अमृतसर में पैदा हुई हूं और मुझे पंजाबी होने पर गर्व है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)