भारत

दिल्ली: क़रीब 12 दिन से लापता हरियाणवी गायिका का शव मिला, दो गिरफ़्तार

पुलिस ने बताया कि गायिका के संबंधी, भीम आर्मी और अन्य दल के कुछ नेता दिल्ली के जफ़रपुर कलां थाने में शव लेकर आए और गायिका से सामूहिक बलात्कार किए जाने का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया. पुलिस ने बताया कि बलात्कार का अभी तक कोई सबूत नहीं मिला है. आरोपी गायिका को पहले से जानते थे. उनके ख़िलाफ़ हत्या और अपहरण का केस दर्ज किया गया है. इससे पहले उनमें से एक ​के ख़िलाफ़ परिवार ने बलात्कार का केस दर्ज कराया था.

आरोपियों की पहचान रवि और अनिल के रूप में हुई है. (फोटो साभार: दिल्ली पुलिस)

नई दिल्ली: करीब 12 दिन से लापता एक हरियाणवी गायिका का शव हरियाणा में रोहतक जिले के मेहम से मिला है और उसकी हत्या के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. हत्या के बाद शव को मेहम में दफना दिया गया था.

दिल्ली की रहने वाली गायिका अपने म्यूजिक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड करती थीं. उनके परिवार के अनुसार, वह 11 मई को किसी काम से निकली थीं और तब से घर वापस नहीं लौटी थीं. उनके परिजन दिल्ली के जफरपुर कलां इलाके में रहते हैं.

पुलिस ने मंगलवार को बताया कि संगीता उर्फ दिव्या बीते 11 मई से लापता थी और उसके परिवार ने 14 मई को इस संबंध में दिल्ली के जफरपुर कलां इलाके में शिकायत दर्ज कराई थी.

उन्होंने बताया कि शुरुआत में जेपी कलां थाने में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 365 (गलत तरीके से व्यक्ति को कैद करने के इरादे से अपहरण) के तहत मामला दर्ज किया गया था.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जांच के दौरान रवि और अनिल को शनिवार (21 मई) को मेहम में गिरफ्तार किया गया. दोनों आरोपियों ने खुलासा किया कि उन्होंने गायिका की हत्या का षड्यंत्र रचा था.

उन्होंने बताया कि पुलिस को रविवार (22 मई) को संगीता का शव मिला और मामले में हत्या संबंधी धाराएं भी जोड़ी गईं. पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि आरोपी के साथ तनावपूर्ण संबंधों को लेकर यह घटना हुई थी.

पुलिस उपायुक्त (द्वारका) शंकर चौधरी ने बताया कि आरोपियों ने एक संगीत वीडियो बनाने के बहाने उससे संपर्क किया था. उन्होंने बताया कि एक व्यक्ति दिल्ली से उसे अपने साथ लेकर गया, उसे नशीला पदार्थ दिया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई.

इस बीच, दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने घटना के संबंध में दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है. आयोग ने नोटिस में शुक्रवार तक एफआईआर की प्रति और आरोपियों का विवरण मांगा है. नोटिस में मामले में की गई कार्रवाई की विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी गई है.

पुलिस ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद महिला का शव उसके परिजन को सौंप दिया गया.

उन्होंने बताया कि गायिका के संबंधी, भीम आर्मी और अन्य दल के कुछ स्थानीय नेता जफरपुर कलां थाने में शव लेकर आए और पीड़िता से सामूहिक बलात्कार किए जाने का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया.

हालांकि, पुलिस ने बताया कि बलात्कार को लेकर अभी तक कोई सबूत नहीं मिला है.

डिप्टी पुलिस कमिश्नर (द्वारका) शंकर चौधरी ने बताया, ‘आरोपी गायिका को पहले से जानते थे. उन्होंने पहले भी रवि के खिलाफ बलात्कार का केस दर्ज कराया था. दोनों आरोपी मेहम में रहते हैं और एक फाइनेंस कंपनी में काम करते हैं.

यकीन नहीं होता कि अब वह हमारे बीच नहीं है: गायिका के भाई 

हरियाणवी गायिका संगीता का शव मिलने की पुलिस द्वारा पुष्टि किए जाने के बाद उसके भाई कपिल ने कहा कि आज (25 मई) उसकी बहन 29 साल की हो जाती और उसे इस बात पर यकीन नहीं हो रहा है कि वह अब उनके साथ नहीं है.

संगीता के परिजन दिल्ली के जाफरपुर कलां इलाके में रहते हैं.

कपिल ने अपनी बहन को याद करते हुए बताया कि संगीता के जन्मदिन पर किस तरह सुबह से तैयारियां शुरू हो जाती थीं और घर में रौनक रहती थी.

गायिका के परिवार के एक अन्य सदस्य ने कहा कि वह एक उत्साही बच्चे की तरह अपने जन्मदिन से कुछ दिन पहले ही इसकी तैयारियों में जुट जाया करती थी.

कपिल ने कहा, ‘उसे अपने परिवार और मित्रों के साथ मिलकर अपना जन्मदिन मनाना पसंद था. परिवार आमतौर पर सुबह से ही जश्न की तैयारी करने लगता था. उसे केट काटना पसंद था. हमने कभी सोचा नहीं था कि हमारी बहन के साथ ऐसा कुछ होगा.’

उसने कहा, ‘वह अब हमारे बीच नहीं है. इस बात पर यकीन कर पाना मुश्किल है, लेकिन अब यही हकीकत है और हमें इसे स्वीकार करना होगा. परिवार के सभी सदस्य भीतर से टूट गए हैं. मैं उन्हें संभालने की कोशिश कर रहा हूं.’

कपिल ने बताया कि संगीता की मौत की खबर सुनने के बाद से उनकी मां लगातार रो रही है.