बारिश

आलापन बंदोपाध्याय. (फोटो: पीटीआई)

‘बंगाल मुख्य सचिव प्रकरण एक बुरी मिसाल क़ायम करता है और ये सिविल सेवकों को हतोत्साहित करेगा’

कुछ क़ानून विशेषज्ञों का कहना है कि पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय को सेवा विस्तार देने का बाद उनका तबादला करने का आदेश बिल्कुल ग़लत है. उन्हें जारी कारण बताओ नोटिस दर्शाता है कि भारतीय नौकरशाही किस हाल में है. बताया जा रहा है कि केंद्र के आदेश का पालन न करने से आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51बी का उल्लंघन होता है. दोष सिद्ध होने पर उन्हें एक साल तक क़ैद हो सकती है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ उनके मुख्य सलाहकार आलापन बंद्योपाध्याय. (फोटो: पीटीआई)

बंगाल: दिल्ली जाने के बजाय मुख्य सचिव ने इस्तीफ़ा दिया, ममता ने अपना सलाहकार नियुक्त किया

चक्रवाती तूफान यास को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के शामिल नहीं होने के बाद केंद्र ने मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय का दिल्ली तबादला कर दिया था. केंद्र की मोदी सरकार की ओर से उन्हें 31 मई को दिल्ली में रिपोर्ट करने के लिए कहा गया था. बंद्योपाध्याय के वहां नहीं पहुंचने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

ममता बनर्जी. (फोटो: पीटीआई)

ममता बनर्जी ने मुख्य सचिव को दिल्ली भेजने से किया इनकार, कहा- एकतरफ़ा आदेश से स्तब्ध और हैरान

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में कहा कि यह एकतरफ़ा आदेश क़ानून की कसौटी पर खरा नहीं उतरने वाला, यह पूरी तरह से असंवैधानिक है. यास तूफान को लेकर मोदी की बैठक में बनर्जी के शामिल नहीं होने के बाद केंद्र ने मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय का दिल्ली तबादला कर दिया था.

ममता बनर्जी और नरेंद्र मोदी. (फोटो: पीटीआई)

मुख्य सचिव तबादला मामला: ममता ने कहा, मोदी के पैर छूने को तैयार लेकिन मुझे अपमानित न करें

चक्रवाती तूफान ‘यास’ पर प्रधानमंत्री की समीक्षा बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के शामिल न होने और इसके कुछ देर बाद प्रदेश के मुख्य सचिव के तबादले के बाद केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार के बीच एक बार फ़िर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है.

हैदराबाद में बारिश का पानी सड़कों पर. (फोटो: पीटीआई)

महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से 48 लोगों की मौत, कर्नाटक में बाढ़ से गंभीर हालात

पश्चिमी महाराष्ट्र में भारी वर्षा और बाढ़ से 3,000 से अधिक मकान क्षतिग्रस्त हो गए जबकि 40,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. उत्तर कर्नाटक सबसे बुरी तरह प्रभावित रहा, जहां पिछले तीन महीने में तीसरी बार बाढ़ आई है. तेलंगाना ने बारिश और बाढ़ के कारण छह हज़ार करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया है.

गुजरात के सूरत शहर में भारी बारिश के बाद सड़क पर जमा पानी. (फोटो: पीटीआई)

गुजरात में बारिश से जुड़ी घटनाओं में नौ लोगों की मौत, बिहार में बाढ़ से हालात गंभीर

गुजरात के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण नदियां उफ़ान पर हैं. शनिवार और रविवार को मिलाकर राज्य में 21 लोगों की मौत की सूचना है. बिहार के 16 ज़िलों में 83.62 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. उत्तर प्रदेश के एक हज़ार से ज़्यादा गांव बाढ़ की चपेट में हैं और राजस्थान के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई है.

(फोटो: पीटीआई)

बिहार: बाढ़ से 16 ज़िलों में 81.79 लाख लोग प्रभावित, अब तक 27 लोगों की जान गई

जल संसाधन विभाग के मुताबिक, बिहार की प्रमुख नदियां ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. दरभंगा ज़िले में सबसे अधिक 15 प्रखंडों के 227 पंचायतों की 20.61 लाख से अधिक आबादी बाढ़ से प्रभावित है.

0808 Ritu Bulletin.00_09_41_23.Still006

‘बिहार में बाढ़ प्राकृतिक नहीं, राजनीतिक आपदा है’

वीडियो: इन दिनों पूरा बिहार बाढ़ की चपेट में है. इस रिपोर्ट में बिहार से गुज़रने वाले नेशनल हाईवे 57 पर प्लास्टिक शीट डालकर रह रहे बाढ़ प्रभावित लोगों से उनकी परेशानियों को जानने की कोशिश की गई है.

(फोटो: पीटीआई)

बिहार बाढ़: 16 ज़िलों में 75 लाख से ज़्यादा की आबादी प्रभावित

बिहार के दरभंगा ज़िले में सबसे अधिक 15 प्रखंडों की 220 पंचायतें बाढ़ से प्रभावित हुई हैं. मौसम विभाग ने कई इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका जताई है. चार ज़िलों- सारण, सीवान, गया और नवादा में अलर्ट जारी किया है.

Rescue workers look for survivors at the site of a landslide during heavy rains in Idukki, Kerala, India, August 7, 2020. REUTERS/Stringer

केरल: भूस्खलन के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 43 हुई, मुआवज़े को लेकर भेदभाव का आरोप

विपक्ष ने सत्तारूढ़ सीपीएम पर निशाना साधते हुए कहा है कि भूस्खलन से पीड़ित परिवार के लिए जारी मुआवज़ा राशि पर्याप्त नहीं. आरोप है कि केरल सरकार ने कोझिकोड विमान हादसे में मारे गए लोगों के लिए प्रति परिवार 10 लाख रुपये के मुआवज़े की घोषणा की, जबकि उसी दिन भूस्खलन में मारे गए लोगों के लिए प्रति परिवार सिर्फ़ पांच लाख की घोषणा की है.

Rescue workers look for survivors at the site of a landslide during heavy rains in Idukki, Kerala, India, August 7, 2020. REUTERS/Stringer

केरल में भूस्खलन वाले स्थान से 20 शव बरामद; लापता व्यक्तियों की तलाश जारी

केरल के इडुक्की ज़िले में हुई भूस्खलन की घटना के बाद से 46 लोग अब भी लापता हैं. सात अगस्त को चाय बागान में काम करने वाले श्रमिकों के 20 मकान इस भूस्खलन की चपेट में आ गए थे. शुक्रवार को ही केरल के कोझिकोड में हुए विमान हादसे में कम से कम 18 लोगों की जान चली गई थी.

केरल में भूस्खलन (फोटोः पीटीआई)

केरलः इडुक्की में लगातार बारिश से भूस्खलन, 15 लोगों की मौत, 40 लापता

केरल के इडुक्की के राजमाला इलाके में कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश से भूस्खलन हुआ. मौसम विभाग ने पथनमथिट्टा, कोट्टायम, इडुक्की और वायनाड जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है.

सहरसा में बाढ़ में फंसे ग्रामीण. (फोटो: पीटीआई)

बिहार: बाढ़ से अब तक 21 लोगों की मौत, 16 ज़िलों के 69 लाख से अधिक लोग प्रभावित

प्रदेश में बागमती, बूढ़ी गंडक, कमला बलान, गंगा, अधवारा, खिरोई और घाघरा नदी ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. दरभंगा ज़िले की स्थिति बेहद ख़राब है, जहां 202 पंचायतों की 18 लाख से अधिक आबादी बाढ़ से प्रभावित है.

पूर्वी चंपारण में बाढ़ पीड़ित. (फोटो: पीटीआई)

बिहार: बाढ़ से चौदह ज़िलों के 56.53 लाख लोग प्रभावित, 13 लोगों की मौत

आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक दरभंगा ज़िले में सर्वाधिक 18.6 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. समस्तीपुर-दरभंगा रेलवे लाइन पर ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह बंद है. वहीं ओडिशा में आकाशीय बिजली गिरने छह लोगों की मौत हुई है.

बिहार के गोपालगंज में बाढ़ का नजारा (फोटो: पीटीआई)

असम-बिहार में बाढ़ से 55 लाख से अधिक लोग प्रभावित, अब तक क़रीब डेढ़ सौ मौतें

असम में बाढ़ से 21 ज़िलों के 17 लाख लोग और 1,536 गांव प्रभावित हैं, साथ ही प्रदेश में 92 हज़ार हेक्टेयर से अधिक ज़मीन पर लगी फसलें बर्बाद हो गई हैं. वहीं बिहार में 12 ज़िलों के क़रीब 40 लाख लोग बाढ़ का ख़तरा झेल रहे हैं. राज्य में बागमती, महानंदा व कोसी जैसी कई नदियां ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही हैं.