Babul Supriyo

उपचुनावों में भाजपा के ख़ाली हाथ रह जाने के क्या मायने हैं

चार राज्यों में लोकसभा की एक और विधानसभाओं की चार सीटों के लिए हुए उपचुनाव में भाजपा की विफलता राज्यों या देश की राजनीति में किसी बड़े परिवर्तन का संकेत नहीं हैं. कोई ऐसी अपेक्षा भी नहीं कर रहा. लेकिन उनमें छिपे भाजपा के सामूहिक नकार को समझना इस अर्थ में बहुत ज़रूरी है कि यह जानबूझकर रचे जा रहे भाजपा के अजेय होने के मिथक को तोड़ता है.

उपचुनाव परिणाम: कांग्रेस, टीएमसी और राजद को मिली जीत, भाजपा ख़ाली हाथ रही

पश्चिम बंगाल में आसनसोल लोकसभा सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा और बालीगंज विधानसभा सीट पर बाबुल सुप्रियो ने जीत दर्ज़ की. महाराष्ट्र की कोल्हापुर उत्तर विधानसभा सीट पर कांग्रेस-एमवीए उम्मीदवार, छत्तीसगढ़ की खैरागढ़ विधानसभा सीट पर कांग्रेस और बिहार की बोचहां विधानसभा सीट पर राजद को जीत मिली है.

मोदी-शाह ने आठ साल में कभी किसी बंगाली को कैबिनेट मंत्री नहीं बनाया: बाबुल सुप्रियो

बीते वर्ष भाजपा छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने वाले बाबुल सुप्रियो ने कहा कि पिछले आठ साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को ऐसा कभी नहीं लगा कि किसी बंगाली को कैबिनेट मंत्री बनाया जाए. क्या उन्हें लगता है कि बंगाली लोग कैबिनेट मंत्री बनने योग्य नहीं हैं?

मोदी मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद राजनीति छोड़ने का फैसला लेने वाले सुप्रियो टीएमसी में शामिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद पूर्व भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने अगस्त महीने की शुरुआत में घोषणा की थी कि वह राजनीति छोड़ रहे हैं, लेकिन बाद में उन्हें लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा नहीं देने के लिए मना लिया गया था. सुप्रियो ने ज़ोर देकर कहा था कि वह अब सक्रिय राजनीति का हिस्सा नहीं रहेंगे. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को ही उनकी सुरक्षा श्रेणी को ‘जे़ड’ से घटाकर ‘वाई’ कर दी है.

मंत्री पद जाने के बाद भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो ने राजनीति छोड़ने की घोषणा की

50 वर्षीय बाबुल सुप्रियो ने 2014 से नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय राज्य मंत्री के रूप में कई विभागों को संभाला था. उन्हें इस महीने की शुरुआत में एक बड़े मंत्रिमंडल फेरबदल के दौरान हटा दिया गया था. उन्होंने सांसद के पद से भी इस्तीफ़ा देने की बात कही है. सुप्रियो ने संकेत दिया कि उन्होंने यह निर्णय आंशिक रूप से मंत्री पद जाने और भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के नेतृत्व के साथ मतभेदों के कारण लिया है.

वायु प्रदूषण के कारण मौत होने की पुष्टि करने वाले आंकड़े उपलब्ध नहीं: पर्यावरण मंत्री सुप्रियो

बाबुल सुप्रियो ने राज्यसभा में बताया कि देश में ऐसे कोई निर्णायक आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं, जिससे केवल प्रदूषण के कारण मृत्यु अथवा बीमारी का प्रत्यक्ष संबंध स्थापित हो. वायु प्रदूषण सांस और इससे संबंधित रोगों को प्रभावित करने वाले कई कारकों में से एक है.

जाधवपुर विश्वविद्यालय: छात्रसंघ ने बाबुल सुप्रियो के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज करवाई

जाधवपुर विश्वविद्यालय की आर्ट्स फैकल्टी स्टूडेंट्स यूनियन ने महिलाओं समेत छात्रों के साथ धक्का-मुक्की और विश्वविद्यालय की संपत्ति को नष्ट करने के लिए एबीवीपी के पांच सदस्यों के ख़िलाफ़ भी शिकायत दर्ज कराई है.

जाधवपुर यूनिवर्सिटी की रिपोर्टिंग के लिए केंद्रीय मंत्री ने अख़बार से माफ़ी मांगने को कहा

अंग्रेजी अख़बार द टेलीग्राफ के संपादक द्वारा माफी मांगने से इनकार करने पर नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने संपादक के ख़िलाफ़ कथित तौर पर अपशब्दों का इस्तेमाल किया.

जाधवपुर विश्वविद्यालय राष्ट्रविरोधी तत्वों का अड्डा, सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत: बंगाल भाजपा

कोलकाता के जाधवपुर विश्वविद्यालय में 19 सितंबर को एक कार्यक्रम में शामिल होने गए केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो के साथ छात्रों के एक गुट ने ​कथित तौर पर धक्का-मुक्की की थी.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi planting the sapling with other dignitaries at the tree plantation drive organised by the Lok Sabha Secretariat, at Parliament House Premises, in New Delhi on July 26, 2019.

मोदी सरकार ने पिछले पांच सालों में एक करोड़ से ज़्यादा पेड़ काटने की अनुमति दी

लोकसभा में पर्यावरण राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने बीते दिनों बताया था कि साल 2014 से 2019 के बीच पर्यावरण मंत्रालय ने विकास कार्यों के लिए 1.09 करोड़ पेड़ काटने की अनुमति दी. कांग्रेस ने कहा है कि मोदी सरकार पेड़ कटवा कर देश के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है.

जय श्री राम की टिप्पणी पर मेघालय के राज्यपाल ने अमर्त्य सेन से कहा, अपने काम पर ध्यान दें

अमर्त्य सेन द्वारा ‘जय श्री राम’ के नारे पर की गई टिप्पणी के बारे मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने कहा कि रामराजा तला और सेरामपोर पश्चिम बंगाल में हैं या कहीं और? क्या हम भूत-प्रेत से डरते हुए राम-राम नहीं कहते?

Kolkata: West Bengal chief minister and Trinamool Congress chief Mamata Banerjee addresses the party's extended Core Committee meeting in Kolkata, Monday, Feb 25, 2019. (PTI Photo/Swapan Mahapatra) (PTI2_25_2019_000127B)

पश्चिम बंगाल: तृणमूल कांग्रेस 19, भाजपा 14 लोकसभा सीटों पर आगे

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस सिर्फ दो सीटों पर आगे चल रही है. आसनसोल से भाजपा उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस की मुनमुन सेन से 31,670 मतों से आगे चल रहे हैं.

द वायर बुलेटिन: वाराणसी में मोदी के ख़िलाफ़ खड़े बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव को सपा ने बनाया उम्मीदवार

जेट और किंगफिशर के बाद पवन हंस पर आर्थिक संकट, कर्मचारियों को वेतन नहीं मिलने समेत दिनभर की महत्वपूर्ण ख़बरें.