Muslim Women

सुप्रीम कोर्ट में बहुविवाह, ‘निकाह हलाला’ के ख़िलाफ़ याचिकाओं की सुनवाई के लिए नई पीठ गठित होगी

सुप्रीम कोर्ट में दायर जनहित याचिकाओं में बहुविवाह और ‘निकाह हलाला’ को असंवैधानिक और अवैध घोषित करने का निर्देश देने का आग्रह किया है. एक याचिकाकर्ता ने अनुरोध किया था कि मामले को सुन रही संविधान पीठ को नए सिरे से गठित करने की ज़रूरत है, क्योंकि पिछली पीठ के दो जज रिटायर हो चुके हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने ‘सुल्ली डील्स’ मामले की जांच पर रोक लगाने से इनकार किया

पिछले साल जुलाई में कुछ लोगों ने ‘सुल्ली डील्स’ नामक ऐप पर सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें ‘नीलामी’ के लिए अपलोड कर दी थीं, जिसके बाद ऐप बनाने के आरोपी ओंकारेश्वर ठाकुर के ख़िलाफ़ विभिन्न राज्यों में कई एफ़आईआर दर्ज कराई गई थीं. ठाकुर ने उन सभी एफ़आईआर को एक साथ जोड़ने की मांग सुप्रीम कोर्ट से की थी.

मुस्लिमों को निशाना बनाने के लिए यूट्यूब का दुरुपयोग कर रहे हिंदू राष्ट्रवादी समूह: रिपोर्ट

न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी के स्टर्न सेंटर फॉर बिजनेस एंड ह्यूमन राइट्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भाजपा और अन्य दक्षिणपंथी हिंदू राष्ट्रवादी समूह समर्थकों द्वारा ‘मुसलमानों को निशाना बनाना’ देश में ‘यूट्यूब का सबसे परेशान करने वाला दुरुपयोग’ है. रिपोर्ट में ‘सुल्ली डील्स’ और ‘बुली बाई’ जैसे ऐप्स का हवाला देते हुए मुस्लिम महिलाओं की ‘बिक्री’ और उन्हें बलात्कार की धमकी देने की घटनाओं को भी रेखांकित किया गया है.

यूपी: मुस्लिम महिलाओं को बलात्कार की धमकी देने के आरोपी सीतापुर के महंत को ज़मानत मिली

उत्तर प्रदेश के सीतापुर के खैराबाद के महर्षि श्री लक्ष्मण दास उदासी आश्रम के महंत बजरंग मुनि दास को नफ़रती भाषण और मुस्लिम महिलाओं को बलात्कार की धमकी देने के आरोप में बीते 13 अप्रैल को गिरफ़्तार किया गया था. जेल से रिहा होने के बाद उन्होंने कहा कि वह अपने धर्म और महिलाओं की रक्षा करना जारी रखेंगे, भले ही इसके लिए उन्हें हज़ार बार जेल जाना पड़े.

बुली बाई ऐप मामला: कम उम्र का हवाला देते हुए कोर्ट ने तीन आरोपियों को ज़मानत दी

बुली बाई ऐप पर सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की अनुमति के बिना उनकी तस्वीरों से छेड़छाड़ कर उन्हें ‘नीलामी’ के लिए अपलोड करने के तीन आरोपियों- विशाल झा, श्वेता सिंह और मयंक अग्रवाल की ज़मानत मंजूर करते हुए मुंबई की एक अदालत ने कहा कि उनकी परीक्षाएं आने वाली हैं और यदि उन्हें जेल में रखा जाएगा तो इसका उनके भविष्य पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा.

मुस्लिम महिलाओं को बलात्कार की धमकी देने के आरोपी महंत ने कब-कब उगला सांप्रदायिक ज़हर

वीडियो: उत्तर प्रदेश के सीतापुर ज़िले के खैराबाद क्षेत्र के महंत बजरंग मुनि ने बीते दो अप्रैल को हिंदू नव वर्ष और नवरात्रि के अवसर पर कथित तौर पर मुस्लिम महिलाओं से बलात्कार की धमकी दी थी. इस मामले में उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया है. मध्य प्रदेश पुलिस में एक पूर्व सब-इंस्पेक्टर के बेटे बजरंग मुनि को पहले अनुपम मिश्रा के नाम से जाना जाता था.

यूपी: नफ़रती भाषण और मुस्लिम महिलाओं से बलात्कार की धमकी देने वाले महंत बजरंग मुनि गिरफ़्तार

उत्तर प्रदेश के सीतापुर ज़िले के ख़ैराबाद के महर्षि श्री लक्ष्मण दास उदासी आश्रम के महंत बजरंग मुनि पर मुस्लिमों के ख़िलाफ़ अपमानजनक बयान के लिए बीते 8 अप्रैल को भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया था. बताया जाता है कि महंत ने नवरात्रि और हिंदू नववर्ष के अवसर पर निकले जुलूस के दौरान पुलिस की मौजूदगी में ये बयान दिए थे.

उत्तर प्रदेश: महंत ने कथित तौर पर मुस्लिम महिलाओं के बलात्कार की धमकी दी, केस दर्ज

बताया जाता है कि मुस्लिमों के ख़िलाफ़ नफ़रती भाषण वाला दो मिनट का वीडियो दो अप्रैल को रिकॉर्ड किया गया था, जब सीतापुर ज़िले में ख़ैराबाद क़स्बे के महर्षि श्री लक्ष्मण दास उदासीन आश्रम के महंत बजरंग मुनि दास के तौर पर पहचाने गए व्यक्ति ने नवरात्रि और हिंदू नव वर्ष के अवसर पर एक जुलूस निकाला था.

दिल्लीः सुल्ली डील्स, बुली बाई ऐप बनाने वाले आरोपियों को ज़मानत मिली

सुल्ली डील्स और बुली बाई डील्स नामक ऐप पर सैकड़ों मुस्लिमों महिलाओं की तस्वीरों को बिना उन महिलाओं की मंज़ूरी के ‘नीलामी’ के लिए डाला गया था. सुल्ली डील्स बनाने वाले ओंकारेश्वर ठाकुर को ज़मानत देते हुए दिल्ली की एक अदालत ने कहा कि आरोपी ने पहली बार अपराध किया है और लंबे समय तक क़ैद उसके लिए नुकसानदायक हो सकती है.

पत्रकारों की संवैधानिक निकायों से मुस्लिम-विरोधी हिंसा रोकने की अपील, कहा- चुप्पी विकल्प नहीं

देश के 28 वरिष्ठ पत्रकारों और मीडियाकर्मियों ने राष्ट्रपति, सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों और विभिन्न उच्च न्यायालयों, भारत के निर्वाचन आयोग और अन्य वैधानिक निकायों से देश के धार्मिक अल्पसंख्यकों, विशेषकर मुसलमानों पर हो रहे हमलों को रोकने का आह्वान किया है.

बुली बाई ऐप के निशाने पर रहीं औरतों के पास एक ही रास्ता है… वो है आगे बढ़ते रहना

2021 में अल्पसंख्यकों के ख़िलाफ़ हेट क्राइम बढ़े पर मीडिया ख़ामोश रहा. इस साल की शुरुआत और ज़्यादा नफ़रत से हुई, लेकिन इसके ख़िलाफ़ देशभर में आवाज़ उठी. अल्पसंख्यकों और औरतों से नफ़रत के अभियान का निशाना बनने के बाद मैं ख़ुद को सोचने से नहीं रोक पाती कि क्या अब भी कोई उम्मीद बाक़ी है?

‘क्लब हाउस चैट’ मामले में तीन लोग गिरफ़्तार, ‘बुली बाई’ ऐप केस में एक और पकड़ा गया

‘बुली बाई’ ऐप मामले में गिरफ़्तार एमबीए डिग्री धारी नीरज कुमार सिंह के परिवार के सदस्यों ने बृहस्पतिवार को दावा किया था कि उन्हें जांच में मदद के लिए मुंबई ले जाया गया है. इस मामले में इससे पहले गिरफ़्तार किए गए तीन अन्य आरोपियों को ज़मानत देने से अदालत ने इनकार कर दिया है.

क्लबहाउस पर हुई मुस्लिम महिलाओं को लेकर अभद्र टिप्पणियां, डीसीडब्ल्यू ने पुलिस को नोटिस भेजा

सोशल मीडिया पर सामने आई क्लबहाउस ऑडियो ऐप की एक क्लिपिंग में मुस्लिम महिलाओं को लेकर भद्दी टिप्पणियां की जा रही हैं. दिल्ली महिला आयोग ने इस पर स्वत: संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस भेजकर दोषियों पर सख़्त कार्रवाई कर पांच दिनों के भीतर रिपोर्ट पेश करने को कहा है.

सोशल मीडिया मैनीपुलेशन केवल प्रोपेगैंडा नहीं बल्कि नरसंहार को उकसाने का टूल है

आईटी सेल की रहस्यमयी दुनिया में राष्ट्र निर्माण के नाम पर कितने नौजवानों को अपराधी बनाया जा रहा है, इससे सतर्क होने की ज़रूरत है. इससे बहुसंख्यक समाज ने ख़ुद को नहीं बचाया तो घर-घर में हत्यारे पैदा हो जाएंगे.

महिलाओं के प्रति द्वेषपूर्ण, अपमानजनक डिजिटल माहौल को ख़त्म किया जाए: एडिटर्स गिल्ड

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने मांग है कि सरकार इस तरह के महिला द्वेषी और अपमानजनक डिजिटल वातावरण को तोड़ने तथा ख़त्म करने के लिए तत्काल क़दम उठाए और इसमें शामिल दोषियों एवं संस्थाओं की पहचान करने तथा उन्हें दंडित करने के लिए गहन जांच की जाए.