राजनीति

महाराष्ट्रः सरकार गठन के मुद्दे पर कांग्रेस का संसद भवन परिसर में प्रदर्शन

यह प्रदर्शन कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में हो रहा है. इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकसभा में कहा कि महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हुई है.

New Delhi: Congress President Sonia Gandhi with senior party leaders leads a protest against Maharashtra government formation issue, at Parliament premises in New Delhi, Monday, Nov. 25, 2019. (PTI Photo/Shahbaz Khan) (PTI11_25_2019_000042B)

नई दिल्ली स्थित संसद भवन परिसर में सोमवार को महाराष्ट्र में भाजपा की गठबंधन सरकार बनने के खिलाफ प्रदर्शन में कांग्रेस नेताओं के साथ पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी. (फोटो: पीटीआई)

मुंबईः महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई के बीच सोमवार को कांग्रेस संसद भवन परिसर में प्रदर्शन कर रही है. यह प्रदर्शन काग्रेंस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में हो रहा है.

इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा, अहमद पटेल और अधीर रंजन चौधरी समेत कई नेता हाथों में बैनर लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं.

इन बैनरों पर ‘लोकतंत्र की हत्या बंद करो’ और ‘हॉर्स ट्रेडिंग रोको’ जैसे स्लोगन लिखे हुए हैं.

इस दौरान कांग्रेस नेता ‘अब की बार, बेईमान की सरकार’ और ‘लोकतंत्र की हत्या बंद करो’ जैसे नारे भी लगा रहे हैं.

विपक्ष ने महाराष्ट्र में सियासी उठापठक का यह मुद्दा संसद के दोनों सदनों में भी उठाया.

इस बीच लोकसभा में राहुल गांधी ने कहा, ‘मैं आज यहां सवाल पूछने नहीं आया. सवाल पूछने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हुई है. इसलिए मेरे सवाल पूछने का कोई मतलब नहीं है.’

इस बीच राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक और लोकसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

मालूम हो कि महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

इससे पहले रविवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन निरस्त कर देवेंद्र फड़णवीस की सरकार बनाने की सिफारिश करने वाले राज्यपाल के पत्रों को सोमवार सुबह अदालत में पेश करने का आदेश दिया था.

छुट्टी के दिन विशेष सुनवाई में जस्टिस एनवी रमन, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने देवेंद्र फड़णवीस को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाने के महाराष्ट्र के राज्यपाल के निर्णय को चुनौती देने वाली शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की याचिका पर रविवार को केंद्र और महाराष्ट्र सरकार को नोटिस जारी किए थे.

पीठ ने मुख्यमंत्री फड़णवीस और उप मुख्यमंत्री अजित पवार को भी नोटिस जारी किया था.

वहीं, सोमवार को भी इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी है.