भारत

कोरोना वायरस: तेलंगाना में सात मई तक लागू रहेगा लॉकडाउन

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लोगों को यात्रा करने से बचने की सलाह दी है. कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में तीन मई तक लॉकडाउन लागू है.

Hyderabad: Telangana Chief Minister and TRS President K Chandrashekhar Rao addresses the party workers before submitting his government's recommendation for dissolving the Assembly, to the Governor, in Hyderabad, Thursday, Sep 6, 2018. (PTI Photo) (PTI9_6_2018_000209B)

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (फोटो: पीटीआई)

हैदराबाद: तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने राज्य में जारी लॉकडाउन को सात मई तक बढ़ाए जाने की रविवार को घोषणा की है. राज्य मंत्रिमंडल की बैठक के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में लॉकडाउन को सख्त तरीके से लागू किया जाएगा.

तेलंगाना टूडे के मुताबिक राव ने कहा, ‘लॉकडाउन के दौरान कोई ढील नहीं दी जाएगी. पुलिस उपायों को कड़ाई से लागू करेगी.’

राव ने लोगों को यात्रा करने से बचने की सलाह दी. चंद्रशेखर राव ने स्पष्ट किया है कि हैदराबाद में 7 मई या उससे पहले किसी भी उड़ान को संचालित करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर केंद्र सरकार 4 मई के बाद उड़ानों को अनुमति दे देता है, तो भी कोई 7 मई तक हैदराबाद ना आएं क्योंकि सारे होटल और कैब सेवाएं बंद रहेंगी.

उन्होंने कहा कि केंद्र ने स्पष्ट कर दिया है कि कोई भी राज्य स्थानीय दिशा-निर्देशों के आधार पर अपने दिशानिर्देशों से आगे कदम नहीं उठा सकता है.

राव ने कहा, राज्य सरकार 5 मई को इसकी समीक्षा करेगी और आगे का कदम उठाएगी.

मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने ऐप आधारित खाद्य आपूर्ति सेवाओं जैसे कि स्विगी और ज़ोमैटो पर प्रतिबंध लगा दिया. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर बनी परिस्थितियों से निपटने के लिए कई घोषणाएं की.

मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि मई में 40 लाख आसरा पेंशनरों को पूरी राशि दी जाएगी. इसके अलावा राज्य में एकल प्रवासी कामगारों को 12 किलो चावल और 500 रुपये दिए जाएंगे, जबकि प्रवासी परिवारों को प्रति व्यक्ति 12 किलो चावल और 1,500 रुपये दिया जाएगा.

इसके अलावा मकान मालिकों से तीन महीने तक घर का किराया न लेने की अपील की. उन्होंने कहा कि इसे एक सरकारी आदेश की तरह लागू किया जाए. अगर कोई परेशान करता है तो 100 नंबर पर फोन कर शिकायत करने को कहा.

साथ ही सभी स्कूलों से 2020-2021 शिक्षा सत्र में स्कूल फीस नहीं बढ़ाने को कहा. मासिक फीस ले सकते हैं, लेकिन अगर कोई न दे पाए तो उस पर दबाव नहीं डाला जाएगा.

राज्य में किसानों की सभी तरह के फसलों को सरकार समर्थन मूल्य में खरीदने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री ने कहा, तेलंगाना भारत की इतिहास में किसानों की सभी फसलों को खरीदने वाला पहला राज्य बनेगा.’

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने बताया कि कोराना वायरस के संक्रमण को देखते हुए गच्चीबाउली खेल भवन को तेलंगाना इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड हॉस्पिटल (टीआईएमएस) को आवंटित किया गया.

राव ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 858 हो गए हैं और इनमें से 21 लोगों की मौत हो चुकी है. चार जिले वारंगल, यद्राद्री भद्राद्री, सिद्धिपेट, वनापार्थी कोरोना वायरस से मुक्त हैं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)