भारत

अगस्ता वेस्टलैंड: क्रिश्चियन मिशेल ने कहा, राकेश अस्थाना ने दी थी ज़िंदगी नरक बनाने की धमकी

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में 6 करोड़ यूरो की दलाली के आरोपी ब्रिटिश मूल के मिशेल ने कहा कि मेरे बगल वाला क़ैदी छोटा राजन है. मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मैंने क्या अपराध किया है कि मुझे उन लोगों के साथ रखा जा रहा है जिन्होंने कई हत्याएं की हैं.

New Delhi: Agusta Westland scam accused middleman Christian Michel at CBI headquarters in New Delhi, on early Wednesday, Dec. 5, 2018. (PTI Photo/Ravi Choudhary)(PTI12_5_2018_000001B)

अगस्ता वेस्टलैंड मामला में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाला मुख्य आरोपी क्रिश्चियन मिशेल (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर मामले में कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल ने मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत में दावा किया कि सीबीआई के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना ने दुबई में उससे मुलाकात की थी. साथ ही धमकी भी दी थी कि अगर वह इस घोटाले में एजेंसी की जांच के हिसाब से नहीं चला तो जेल में उसकी जिंदगी को नरक बना दिया जाएगा.

उसने कहा, ‘कुछ समय पहले अस्थाना ने मुझे दुबई में धमकी दी थी और यहां यही चल रहा है. मेरे बगल वाला कैदी (गैंगस्टर) छोटा राजन है… मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मैंने क्या अपराध किया है कि मुझे उन लोगों के साथ रखा जा रहा है जिन्होंने कई लोगों की हत्याएं की हैं.’

बता दें कि अस्थाना को केंद्र सरकार ने इसी साल जनवरी में सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर पद से हटाकर एविएशन सिक्योरिटी ब्यूरो की जिम्मेदारी सौंपी थी.

अदालत कक्ष में मौजूद मिशेल ने कोर्ट को यह भी बताया कि उसे 16-17 कश्मीरी अलगाववादियों के साथ जेल में रखा गया है. मिशेल ने विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के सामने यह बयान दिया.

कोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को दिल्ली की तिहाड़ जेल में मिशेल से पूछताछ की अनुमति दी है. कोर्ट ने कहा कि एजेंसी बुधवार और उसके अगले दिन मिशेल से पूछताछ करेगी.

पूछताछ के दौरान जेल का एक अधिकारी मौजूद रहेगा और मिशेल के वकील को भी पूछताछ के दौरान सुबह और शाम में आधे घंटे के लिए सीमित पहुंच की अनुमति है.

कोर्ट ने मिशेल की उस दलील पर भी संज्ञान लिया जिसमें उसने जेल के अंदर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया है. कोर्ट ने तिहाड़ जेल के अधिकारियों को सीसीटीवी फुटेज और उन रिपोर्टों को उपलब्ध कराने को कहा है जिनके आधार पर मिशेल को उच्च सुरक्षा वार्ड में ट्रांसफर किया गया.

बता दें कि मिशेल को मंगलवार को कोर्ट में पेश करने के लिए पेशी वारंट जारी किया गया था. मिशेल के वकील ने जेल के अंदर उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित करने के आरोप लगाए थे जिस पर कोर्ट ने पेशी वारंट जारी किया था.

ब्रिटिश मूल के मिशेल पर अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में 6 करोड़ यूरो की दलाली में अहम भूमिका निभाने का आरोप है. जांचकर्ताओं के मुताबिक 1997 से 2013 के बीच मिशेल ने भारत के 300 दौरे किए थे.

ईडी की ओर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की अदालत में दाख़िल चार्जशीट में नामज़द बिचौलियों में क्रिश्चन मिशेल का नाम भी शामिल है. इसके बाद मिशेल दुबई में हिरासत में था. दुबई से प्रत्यर्पण के बाद ईडी ने उसे पिछले वर्ष 22 दिसम्बर को गिरफ्तार किया था.

गौरतलब है कि 2013 में संप्रग सरकार के समय अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला सामने आया था. इसमें कई भारतीय राजनेताओं और सैन्य अधिकारियों पर अगस्ता वेस्टलैंड से मोटी घूस लेने का आरोप है.

इतावली कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड से भारत ने 12 वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीदने का सौदा किया था. यह सौदा 3600 करोड़ रुपये का था. इसमें 360 करोड़ रुपये की रिश्वतखोरी की बात सामने आई जिसके बाद संप्रग सरकार ने सौदा रद्द कर दिया था.

दैनिक भास्कर के अनुसार, कोर्ट ने घोटाले के एक अन्य आरोपी गौतम खेतान की जमानत याचिका खारिज कर दी. हालांकि, खेतान ने यह याचिका कालाधन और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े एक अन्य मामले में दी थी. इस मामले में खेतान को 25 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था.

इससे पहले उसे वीआईपी चॉपर डील केस में सितंबर 2014 को गिरफ्तार किया गया था. उसे जनवरी 2015 और दिसंबर 2016 को भी गिरफ्तार किया गया था. हर बार वह जमानत हासिल करने में कामयाब रहा था.

सीबीआई ने आरोप लगाया था कि अगस्ता-वेस्टलैंड डील में घोटाले का जाल बिछाने में खेतान का हाथ था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)