नॉर्थ ईस्ट

असम में मुस्लिम युवकों को पीटा, जबरन जय श्रीराम, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगवाए

यह घटना असम के बारपेटा की है. 18 जून को दक्षिणपंथी समूह के कुछ लोगों ने ऑटोरिक्शा रोक कर उसमें सवार मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों की कथित तौर पर पिटाई की. इस मामले में दो एफआईआर दर्ज की गई हैं.

Assam Barpeta

 

गुवाहाटीः असम के बारपेटा में मुस्लिम समुदाय के लोगों को कथित तौर पर पीटने और जबरन जय श्रीराम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगवाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को एख दक्षिणपंथी संगठन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.

इसमें आरोप लगाया गया है कि असम के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों के एक समूह पर कथित रूप से हमला किया गया और उन्हें जय श्री राम और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने के लिए मजबूर किया गया.

ऑल असम माइनोरिटी स्टूडेंट्स यूनियन (एएएमएसयू) और नॉर्थ ईस्ट माइनोरिटी स्टूडेंट्स यूनियन (एनईएमएसयू) के संस्थापक ने इस दक्षिणपंथी संगठन के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज कराई है.

पुलिस के अनुसार, यह घटना मंगलवार रात को उस समय सामने आई, जब कथित तौर पर हमले और नारे लगवाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.

शिकायत में कहा गया कि दक्षिणपंथी संगठन के सदस्य होने का दावा करने वाले लोगों के एक समूह ने बारपेटा में एक ऑटोरिक्शा रोककर उसमें बैठे युवकों की पिटाई की. अल्पसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखने वाले पीड़ितों से जबरन जय श्री राम, भारत माता की जय और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगवाए गए.

हमलावरों ने पीड़ितों की पिटाई के दौरान इस घटना का पूरा वीडियो भी बनाया और इसे बाद में सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया.

इस घटना के संबंध में बारपेटा के कांग्रेस विधायक अब्दुल खालिक ने कहा कि उन्होंने एसपी से इस घटना के मामले में कार्रवाई करने को कहा है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)