बिहार: राज्य विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के बैठक में न पहुंचने पर शिक्षा विभाग ने वेतन रोका

बिहार शिक्षा विभाग ने 28 फरवरी को एक समीक्षा बैठक बुलाई थी, जिसमें केवल दो विश्वविद्यालयों ने अपने प्रतिनिधि भेजे और 13 राज्य विश्वविद्यालयों के किसी भी कुलपति ने भाग नहीं लिया. इसके बाद विभाग ने विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के वेतन रोकने के आदेश जारी कर दिए.

बिहार: तेजस्वी यादव ने ‘जन विश्वास यात्रा’ की शुरुआत की, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज़ कसा

‘जन विश्वास यात्रा’ की शुरुआत करते हुए राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास राज्य के लोगों के लिए कोई दृष्टिकोण नहीं है. उनके पास हमें छोड़कर भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए में वापस जाने का कोई उचित कारण भी नहीं था. वे जनादेश को अपने पैर की जूती समझते हैं.

क्या पीएम मोदी गारंटी दे सकते हैं कि नीतीश कुमार एक और यू-टर्न नहीं लेंगे: तेजस्वी यादव

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत जीत लिया. इस दौरान राजद नेता और पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि ‘बिना किसी वैध कारण के’ साथ छोड़ने के नीतीश कुमार के क़दम से महागठबंधन आश्चर्यचकित और निराश है.

बिहार में ‘पलटूराम’ की राजनीति पर क्या सोचते हैं राज्य के ग्रामीण?

वीडियो: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पाला बदलने की राजनीति पर राज्य के पश्चिमी चंपारण क्षेत्र के ग्रामीणों से अजय कुमार की बातचीत. 

बिहार: रेल अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के वीडियो को यूट्यूब ने मोदी सरकार के आदेश पर ब्लॉक किया

सरकार ने 6 साल बाद असिस्टेंट लोको पायलट यानी रेलवे चालकों की भर्ती निकाली है, वह भी महज़ 5,696 पदों के लिए है. बिहार में युवा इन पदों की संख्या बढ़ाने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. ख़बर है कि इन प्रदर्शनों को कवर करने वाले कुछ चैनलों के वीडियो को सरकार के राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देने के बाद यूट्यूब ने ब्लॉक कर दिए हैं.

अछूत का मतलब दलित नहीं है, कांग्रेस हर बात का राजनीतिकरण करती है: केसी त्यागी

वीडियो: बिहार में नीतीश कुमार फिर एक बार दल बदलकर सरकार बनाने के बाद उनकी पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कांग्रेस को 'अछूत' कहा था. इस बदलाव और उनकी टिप्पणी को लेकर उनसे द वायर की श्रावस्ती दासगुप्ता की बातचीत.

‘नीतीश कुमार का स्वार्थ सामाजिक न्याय के संघर्ष को एक क़दम पीछे ले गया है’

वीडियो: नीतीश कुमार के फिर से दल बदलकर सरकार बनाने और इस परिवर्तन के बिहार की राजनीति के प्रभाव को लेकर वरिष्ठ पत्रकार नलिन वर्मा से द वायर की श्रावस्ती दासगुप्ता की बातचीत.

नीतीश कुमार ‘पलटू’ हैं मगर बार-बार मुख्यमंत्री कैसे बन जाते हैं?

वीडियो: क्या वजह है कि नीतीश कुमार के ऊपर 'पलटूराम' की मोहर लगती है मगर फिर भी मुख्यमंत्री की कुर्सी उनके पास ही रहती हैं? भाजपा और राजद की राजनीति इसमें कैसे मदद करती है? अजय कुमार का नज़रिया.

अगर 2024 के लोकसभा चुनाव में मोदी जीतते हैं तो देश में आगे कोई चुनाव नहीं होगा: मल्लिकार्जुन खरगे

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने ओडिशा में एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए लोगों से लोकतंत्र बचाने की अपील की और कहा कि उनके लोकसभा चुनाव जीतने पर रूस में व्लादिमीर पुतिन के राष्ट्रपति चुनाव की तरह ही भारत में होगा. आगे कोई चुनाव नहीं होगा. वे (मोदी) देश पर शासन करने के लिए अपनी ताक़त का इस्तेमाल करेंगे.

क्या नीतीश के ‘इंडिया’ गठबंधन छोड़ने की वजह ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल हैं?

वीडियो: जदयू नेता नीतीश कुमार के राजद के साथ ही विपक्षी 'इंडिया' गठबंधन छोड़कर दोबारा भाजपा में जाने के बारे बता रहे हैं द वायर के पॉलिटिकल एडिटर अजॉय आशीर्वाद.

नीतीश कुमार के भाजपा से गठबंधन करने पर विपक्षी नेता बोले- गिरगिट तो बस ऐसे ही बदनाम है

लालू प्रसाद यादव की राजद से गठबंधन तोड़ने के बाद जदयू नेता नीतीश कुमार ने 9वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. उनके साथ दो उप-मुख्यमंत्री और 6 मंत्रियों ने भी शपथ ली है. कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि बार-बार राजनीतिक साझेदार बदलने वाले नीतीश कुमार रंग बदलने में गिरगिटों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

राजद से नाता तोड़ने के बाद भाजपा के सहयोग से नीतीश कुमार ने फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ ली

नीतीश कुमार के अलावा भाजपा से दो उप-मुख्यमंत्रियों सम्राट चौधरी और विजय कुमार सिन्हा के अलावा बिजेंद्र प्रसाद यादव, संतोष कुमार सुमन, श्रवण कुमार समेत छह अन्य मंत्रियों ने भी रविवार को शपथ ली. राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि 2024 में जदयू ख़त्म हो जाएगी. ये लोग कुछ भी करें, मुझे विश्वास है कि बिहार के लोग हमारे साथ हैं.

अगर कर्पूरी ठाकुर जीवित होते तो मोदी सरकार के ख़िलाफ़ खड़े होते

कर्पूरी ठाकुर का पूरा जीवन संघर्ष बताता है कि उनकी और भाजपा की राजनीति में ज़मीन-आसमान का अंतर है. मोदी सरकार का कोई भी नेता कर्पूरी ठाकुर की नैतिकता और ईमानदारी को अपनी जीवन में जगह नहीं देता है. मोदी सरकार ने उन्हें भारत रत्न ज़रूर दिया है मगर इसका मक़सद केवल चुनावी हिसाब-किताब है.

1 2 3 4 5 6 64