फ़िलिस्तीन के प्रधानमंत्री ने भारत से गाज़ा पर ‘दृढ़ रुख़’ अपनाने को कहा

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके तीसरे कार्यकाल के लिए भेजे गए बधाई संदेश में फ़िलिस्तीनी प्रधानमंत्री मोहम्मद मुस्तफ़ा ने लिखा है कि एक वैश्विक नेता और मानवाधिकारों तथा शांति को महत्व देने वाले राष्ट्र के रूप में भारत, गाज़ा में हो रहे नरसंहार को समाप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

यूपी के बाद काम के लिए युद्धग्रस्त इज़रायल जाने को तैयार तेलंगाना के नौ सौ से अधिक कामगार

युद्धग्रस्त इज़रायल के लिए हैदराबाद में हुए चार दिवसीय भर्ती अभियान में कंस्ट्रक्शन के काम करने वाले कुल 2,209 श्रमिकों ने पंजीकरण कराया था, जिसमें से 905 को चुना गया. भारत और इज़रायल की सरकारों के बीच समझौते के तहत इस साल देश में आयोजित होने वाला यह तीसरा भर्ती अभियान था.

युद्ध अपराधों को लेकर इज़रायली पीएम के ख़िलाफ़ गिरफ़्तारी वॉरंट जारी हो: अंतरराष्ट्रीय कोर्ट

अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय के मुख्य अभियोजक करीम ख़ान ने इज़रायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू, रक्षा मंत्री याओव गैलेंट के साथ ही तीन हमास नेताओं के ख़िलाफ़ भी युद्ध अपराधों और मानवता के विरुद्ध अपराधों का हवाला देते हुए अरेस्ट वॉरंट जारी करने की मांग की है.

युद्ध और उन्माद के ख़िलाफ़ बीथोवेन की धुन और गेटे की कविता

अक्सर हम संस्कृतियों और राष्ट्रों के प्रति इसलिए सहिष्णु नहीं हो पाते कि हम उन्हें जुगलबंदी के बगैर, एकरेखीय ढंग से, एक ही धुन और एक ही सुर में, एक ही आवाज़ में समझने की कोशिश करते हैं.

स्पेन ने भारत से इज़रायल तक हथियार ले जाने वाले जहाज को अपने बंदरगाह पर रुकने की अनुमति नहीं दी

स्पेन के विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी कि उसने डेनमार्क के झंडे वाले मालवाहक जहाज, जो कथित तौर पर भारत से इज़रायल 26.8 टन विस्फोटक लेकर लेकर जा रहा था, उसे अपने बंदरगाह पर रुकने की इजाज़त नहीं दी है. उसका का कहना है कि मिडिल ईस्ट को हथियारों की नहीं, बल्कि शांति की ज़रूरत है.

संयुक्त राष्ट्र की सदस्यता से जुड़े प्रस्ताव पर भारत ने फिलिस्तीन के समर्थन में किया वोट

193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा के नौ देशों ने प्रस्ताव के विरोध में वोट किया, जिसमें अमेरिका और इज़रायल भी शामिल थे.

इज़रायल का जन्म: सहमति का मिथ और असहमति का इतिहास

फ़िलिस्तीन का उपनिवेशीकरण विभाजित पश्चिमी समाज के लिए एकता क़ायम करने का ज़रिया बन जाता है. यहूदी समस्या पश्चिम को दिखाई देती है, वहीं फ़िलिस्तीन को वह नज़रअंदाज़ करता है. एडवर्ड सईद ने इसे ‘दोहरा विज़न’ कहा है.

भारत इज़रायल से आखिर क्या सीख रहा है?

अटल बिहारी वाजपेयी ने कभी कहा था कि ‘अरबों की जिस ज़मीन पर इज़रायल क़ब्ज़ा करके बैठा है वह उसे खाली करनी होगी.’ उस विवेक से हम ऐसी संस्कृति तक आ पहुंचे हैं, जहां अमानवीय इज़रायली हिंसा के बावजूद भारतीय जनमानस का एक बड़ा हिस्सा उसके प्रति चुप्पी या समर्थन का भाव रखे हुए है.

अमेरिका: फिलिस्तीन में नरसंहार के खिलाफ आंदोलन कर रहे छात्रों और शिक्षकों का दमन जारी

अमेरिका के न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय में फिलिस्तीन के समर्थन में हो रहे विद्यार्थियों के प्रदर्शन में कुछ फैकल्टी सदस्य भी शामिल थे, जो प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा के लिए वहां मौजूद थे. न्यूयॉर्क पुलिस द्वारा उन्हें हिरासत में लिया गया था. उनमें से एक प्रोफेसर डेविड लडन ने अपना अनुभव साझा किया है.

गूगल ने इज़रायल के साथ अनुबंध का विरोध करने वाले कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

पिछले महीने न्यूयॉर्क और कैलिफोर्निया में गूगल के कुछ कर्मचारियों ने इज़रायल सरकार के साथ कंपनी के क्लाउड अनुबंध के विरोध में धरना दिया था, जिसके बाद गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने उन्हें राजनीतिक बहस में न पड़ने की हिदायत दी थी.

भारत इज़रायल पर हथियार प्रतिबंध, गाज़ा युद्धविराम के संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव पर मतदान से दूर रहा

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के प्रस्ताव के पक्ष में 28 सदस्य देशों ने मतदान किया, जहां 6 ने विरोध में मतदान किया और 13 सदस्य अनुपस्थित रहे.

मुक्तिबोध का हिंदी के केंद्रों से दूर रहकर भी साहित्य, विचार के केंद्र में रहना विस्मयकारी है

कभी-कभार | अशोक वाजपेयी: मुक्तिबोध साहित्य और जीवन संबंधी अपने विचार और स्थापनाएं रोज़मर्रा की ज़िंदगी में रसे-बसे रहकर ही व्यक्त और विकसित करते थे. ऐसे रोज़मर्रा के जीवन के कितने ही चित्र, प्रसंग और छवियां उनकी कविताओं और विचारों में गहरे अंकित हैं. 

दस्तावेज़ बताते हैं कि इज़रायल और हिंदू दक्षिणपंथियों के बीच 60 के दशक से ही गहरे संबंध रहे हैं

इज़रायली विदेश मंत्रालय के दस्तावेज़ों से पता चलता है कि इज़रायली राजनयिक भारतीय हिंदुत्ववादी दक्षिणपंथियों को 'फासीवादी' समझते थे. साथ ही, वे ऐसा मानते थे कि उनकी विचारधारा मुसलमानों से नफ़रत पर आधारित है, फिर भी उन्होंने दक्षिणपंथियों के साथ सावधानीपूर्वक संबंध बनाए रखे.

इज़रायल और रूस में जान गंवाने वाले भारतीयों का दोषी कौन है?

वीडियो: मिसाइल इज़रायल पर चलाई गई और मौत एक भारतीय की हुई. युद्ध यूक्रेन और रूस के बीच चल रहा है और युद्ध के मैदान में मजबूरन पहुंचे दो भारतीय भी जान गंवा चुके हैं. कैसे ये लोग युद्धग्रस्त इलाके में पहुंचे? क्या मोदी सरकार के दौर में आर्थिक बदहाली से झेल रहे भारतीय इतने मजबूर हो चुके हैं कि आजीविका के लिए उन्हें जंग से जूझ रहे इलाकों में रहने से गुरेज़ नहीं है?

1 2 3 14