Crime against Women

महिलाओं के खिलाफ़ हिंसा को रोकने के लिए हम क्या कर सकते हैं?

राष्ट्रीय राजधानी में श्रद्धा वाकर की उनके लिव-इन पार्टनर आफ़ताब पूनावाला द्वारा की गई निर्मम हत्या ने बहुत दर्द और गुस्सा पैदा किया है. पुलिस का कर्तव्य है कि वह सुनिश्चित करे कि आफ़ताब को इस नृशंस हत्या की सज़ा मिले. लेकिन आगे महिलाओं के प्रति हिंसा न हो, उसके लिए बतौर समाज हमें क्या करना चाहिए?  

छावला गैंगरेप-हत्या: सुप्रीम कोर्ट ने मौत की सज़ा पाए दोषियों को बरी किया, कहा- साक्ष्यों का अभाव

2012 में दिल्ली के छावला इलाके में तीन लोगों ने एक 19 वर्षीय युवती को अपहरण कर सामूहिक बलात्कार किया और उनकी हत्या कर दी थी. 2014 में इस मामले को निचली अदालत ने ‘दुर्लभ से दुर्लभतम’ क़रार देते हुए तीनों आरोपियों को मौत की सज़ा सुनाई थी. बाद में दिल्ली हाईकोर्ट ने भी इसे बरक़रार रखा था.

महिलाओं के प्रजनन अधिकारों पर उम्र की पाबंदी के ख़िलाफ़ याचिका पर कोर्ट ने केंद्र से जवाब मांगा

सुप्रीम कोर्ट अधिवक्ता मीरा कौर पटेल की एक याचिका पर सुनवाई कर रहा था, जिसमें कहा गया था कि पीसीपीएनडीटी अधिनियम की धारा 4 (3) (i) में 35 वर्ष की आयु का प्रतिबंध महिलाओं के प्रजनन अधिकारों पर पाबंदी है.

त्रिपुरा: नाबालिग से गैंगरेप मामले में मंत्री के बेटे पर आरोप, समर्थन में उतरी भाजपा

बीते 19 अक्टूबर को त्रिपुरा के उनाकोटी ज़िले में 16 वर्षीय किशोरी के साथ हुए कथित सामूहिक बलात्कार मामले में पबियाचेरा से भाजपा विधायक और राज्य के श्रम मंत्री भगवान दास के बेटे का नाम सामने आया है. कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा के मंत्री के बेटे के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की गई. मुख्यमंत्री ख़ुद इस मुद्दे से अच्छी तरह वाक़िफ़ हैं, लेकिन चुप हैं.

महिला की ‘भड़काने’ वाली पोशाक किसी को उसकी गरिमा भंग करने का लाइसेंस नहीं देती: कोर्ट

केरल के एक कार्यकर्ता को यौन उत्पीड़न के मामले में अग्रिम ज़मानत देते हुए सत्र अदालत ने कहा था कि केस में आईपीसी की धारा 354 ए मान्य नहीं है क्योंकि महिला ने ‘यौन रूप से भड़काऊ कपड़े’ पहने थे. हाईकोर्ट ने अग्रिम ज़मानत के निर्णय को बरक़रार रखते हुए इस टिप्पणी को अदालत के आदेश से हटाने को कहा है.

यूपी: नाबालिग गैंगरेप पीड़िता ने ख़ुदकुशी की, परिजनों ने पुलिस पर निष्क्रियता का आरोप लगाया

घटना अंबेडकर नगर ज़िले की है. आरोप है कि 16 सितंबर को स्कूल जाते समय एक तेरह साल की छात्रा का अपहरण करने के बाद दो लोगों द्वारा बलात्कार किया गया था. पीड़िता के परिवार के अनुसार, पुलिस द्वारा मामले में बरती गई ढिलाई से क्षुब्ध छात्रा ने आत्महत्या का क़दम उठाया.

उत्तर प्रदेश: शिक्षिका ने महंत पर अश्लील फोटो भेजने का आरोप लगाया, मामला दर्ज

मथुरा-वृंदावन के एक महाविद्यालय की शिक्षिका एवं सामाजिक कार्यकर्ता ने एक संप्रदाय के महंत पर उन्हें मोबाइल फोन पर अश्लील फोटो भेजने और उनका अपमान करने का आरोप लगाया है. पुलिस के अनुसार, मामले की जांच साइबर सेल को सौंपी गई है और उसकी रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी.

विवाहित हो या नहीं, सभी महिलाओं को सुरक्षित गर्भपात का अधिकार है: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी एक्ट के तहत सभी महिलाओं को गर्भावस्था के 24 सप्ताह तक सुरक्षित व क़ानूनी रूप से गर्भपात कराने का हक़ देते हुए कहा कि उनके विवाहित होने या न होने के आधार पर कोई भी पक्षपात संवैधानिक रूप से सही नहीं है. 

झारखंड: डायन बताकर तीन महिलाओं समेत चार लोगों को मल-मूत्र पिलाया, गर्म लोहे से दागा

मामला दुमका ज़िले के सरैयाहाट थानाक्षेत्र स्थित अस्वारी गांव का है. पुलिस ने बताया कि गांव के लोगों ने जादू-टोने का आरोप लगाकर तीन महिलाओं सहित एक ही परिवार के चार लोगों को गर्म लोहे की छड़ों से दागा और उन्हें मल-मूत्र पीने के लिए विवश किया गया.

उत्तर प्रदेश: कथित सामूहिक बलात्कार पीड़िता सड़क पर नग्न घूमती नज़र आई

उत्तर प्रदेश में मुरादाबाद ज़िले के भोजपुर इलाके का मामला. पुलिस ने कहा कि घटना एक सितंबर को भोजपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में हुई थी और पीड़िता के रिश्तेदार द्वारा सात सितंबर को दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर एक आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वीडियो विवाद: क्यों प्रदर्शन करने को मजबूर हुए विद्यार्थी

वीडियो: बीते हफ्ते मोहाली के चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड किए जाने के आरोप लगाते हुए विद्यर्थियों ने प्रदर्शन किया था. पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ़्तार करते हुए मामले की जांच के लिए एक एसआईटी गठित की है. इस पूरे मामले के बारे में बता रहे हैं याक़ूत अली.

पंजाब वीडियो विवाद: चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के छात्रों का प्रदर्शन समाप्त, दो वॉर्डन निलंबित

पंजाब के मोहाली स्थित चंडीगढ़ विश्वविद्यालय की कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड किए जाने के आरोपों की जांच के लिए तीन सदस्यीय एसआईटी गठन किया गया है. वहीं, विश्वविद्यालय ने लापरवाही के आरोप में दो वॉर्डन को निलंबित कर दिया और 24 सितंबर तक अवकाश की घोषणा की है.

पंजाब: छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाने को लेकर चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में प्रदर्शन

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की छात्राओं का आरोप है कि एक अन्य छात्रा द्वारा कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए हैं. विश्वविद्यालय ने इसका खंडन करते हुए कहा है कि किसी भी छात्रा का कोई आपत्तिजनक वीडियो नहीं मिला है. वहीं, पुलिस ने आरोपी छात्रा को गिरफ़्तार कर लिया है.

मैरिटल रेप: हाईकोर्ट के विभाजित निर्णय के बाद सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र का रुख़ पूछा

इस साल मई महीने में दिल्ली हाईकोर्ट की पीठ के एक जज ने आईपीसी की धारा 375 (बलात्कार) के तहत दिए गए अपवाद के प्रावधान को समाप्त करने का समर्थन किया, जबकि दूसरे न्यायाधीश ने कहा था कि यह अपवाद असंवैधानिक नहीं है. इस निर्णय को शीर्ष अदालत में चुनौती दी गई है.

झारखंड: जादू टोना करने के संदेह में तीन महिलाओं की हत्या, आठ गिरफ़्तार

मामला रांची ज़िले के सोनाहातू इलाके का है, जहां ग्रामीणों ने जादू टोना करने के संदेह में तीन महिलाओं की  पीट-पीटकर कथित तौर पर हत्या कर दी और शव गांव के निकट पहाड़ी इलाके में फेंक दिए. इस मामले में एक महिला के पति और बेटे सहित 13 लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया है.